आज का मौसम, 12 नवंबर: NCR में सुधरी हवा की गुणवत्‍ता, हिमाचल में बर्फबारी के आसार

हिमाचल में बर्फबारी का अनुमान. (Pic- Twitter Being himachali)
हिमाचल में बर्फबारी का अनुमान. (Pic- Twitter Being himachali)

Weather Forecast Today: हिमाचल प्रदेश में पश्चिमी विक्षोभ की सक्रियता के कारण 13 नवंबर से मौसम में बदलाव आएगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 12, 2020, 9:11 AM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. पराली जलाने के कारण उत्‍तर भारत के अधिकांश इलाकों में प्रदूषण (Air Pollution) से बुरा हाल है. वहीं, बुधवार को राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (NCR) में वायु प्रदूषण से थोड़ी राहत महसूस की गई. अधिकारियों के अनुसार मंगलवार की रात हवा की गति में तेजी आने की वजह से राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में वायु प्रदूषण कम हुआ है. इसके साथ ही हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) के कई हिस्‍सों में 13 नवंबर से मौसम बदलने का अनुमान जताया गया है. इसके तहत प्रदेश के अधिकांश हिस्‍सों में बर्फबारी की संभावना जताई गई है. इससे ठंड बढ़ने के आसार हैं.

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के ऐप समीर के अनुसार बुधवार सुबह दिल्ली में प्रदूषण की वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 391 दर्ज किया गया जबकि गाजियाबाद में यह 390 रहा; फरीदाबाद में 351, ग्रेटर नोएडा में 327, नोएडा में 340 रहा. वायु प्रदूषण पर काबू के लिए नोएडा प्राधिकरण ने भीड़ भाड़ व वाहनों की बहुलता वाले सड़कों पर ‘एंटी स्मॉग गन’ लगाने का फैसला लिया है. मुख्य कार्यपालक अधिकारी रितु माहेश्वरी ने बताया कि नोएडा के उन सभी सड़कों पर यह गन लगेगी जहां वाहनों का भारी दबाव रहता है.

हिमाचल प्रदेश में पश्चिमी विक्षोभ की सक्रियता के कारण 13 नवंबर से मौसम में बदलाव आएगा. प्रदेश के कई क्षेत्रों में 15 नवंबर को भारी बारिश और बर्फबारी की चेतावनी जारी की गई है. मौसम विज्ञान केंद्र शिमला ने मैदानी और मध्य पर्वतीय जिलों के लिए येलो अलर्ट भी जारी किया है. 17 नवंबर तक पूरे प्रदेश में मौसम खराब बना रहने का अनुमान जताया गया है.

वहीं, केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) ने त्योहारी मौसम के दौरान प्रदूषण में बढ़ोतरी होने की संभावना देखते हुए बुधवार को दिल्ली-एनसीआर में 17 नवंबर तक हॉट मिक्स संयंत्र और स्टोन क्रशर को बंद करने का निर्देश दिया है. इसने पंजाब और हरियाणा की सरकार से भी कहा कि पराली जलाने पर रोक लगाने के लिए तुरंत कड़े कदम उठाए और दिल्ली-एनसीआर के अधिकारियों से कहा कि 'बायोमास' जलाए जाने पर कड़ाई से रोक लगाई जाए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज