अपना शहर चुनें

States

Weather Forecast Update: दिल्ली में हाड़ कंपाने वाली सर्दी, यूपी-बिहार में कोहरे से विजिबिलिटी बेहद कम

कश्‍मीर में चिल्‍लई कलां की हुई शुरुआत. (Pic- AP)
कश्‍मीर में चिल्‍लई कलां की हुई शुरुआत. (Pic- AP)

Weather Forecast today: मौसम विज्ञान विभाग के मुताबिक गोरखपुर एयरपोर्ट पर इस दौरान शून्‍य मीटर की विजिबिलिटी रहेगी. वहीं वाराणसी एयरपोर्ट पर 800 मीटर और लखनऊ एयरपोर्ट पर 700 मीटर की विजिबिलिटी रहेगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 22, 2020, 8:22 AM IST
  • Share this:
Weather Forecast Today (आज का मौसम): देश के ऊंचे पहाड़ी इलाकों में बर्फबारी (Snowfall) के बाद अब ठंड ने मैदानी इलाकों (Weather Update) को अपनी गिरफ्त में ले लिया है. यूपी-बिहार समेत अन्‍य कुछ राज्‍यों में तो सर्दी (Winter) से लोगों का बुरा हाल है. इस बीच मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने पूर्वी उत्‍तर प्रदेश औश्र बिहार में मंगलवार को कड़ाके की ठंड के साथ बेहद घना कोहरा रहने का पूर्वानुमान जताया है. उनके अनुसार इस दौरान विजिबिलिटी बेहद कम रहेगी.

मौसम विज्ञान विभाग के मुताबिक, गोरखपुर एयरपोर्ट पर इस दौरान शून्‍य मीटर की विजिबिलिटी रहेगी. वहीं वाराणसी एयरपोर्ट पर 800 मीटर और लखनऊ एयरपोर्ट पर 700 मीटर की विजिबिलिटी रहेगी. इसके अलावा पटना एयरपोर्ट पर 200 मीटर की विजिबिलिटी रहेगी. वहीं पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्‍ली और राजस्‍थान में हालांकि सर्दी से सोमवार से कुछ राहत देखी गई है.

उत्तर भारत के कई हिस्से शीत लहर की चपेट में हैं और कई स्थानों पर न्यूनतम तापमान पांच डिग्री सेल्सियस से नीचे दर्ज किया गया है. वहीं कश्मीर में सोमवार से कड़ाके की सर्दी की 40 दिन की अवधि ‘चिल्लई कलां’ की शुरुआत हो गई. घाटी में 21 दिसंबर से 31 जनवरी तक यानी 40 दिन की अवधि को सर्दी के मौसम का सबसे ठंडा समय माना जाता है क्योंकि यहां इस दौरान तापमान में काफी गिरावट आती है, जल स्रोत जम जाते हैं और घाटी में तापमान जमाव बिंदू (शून्य) से भी नीचे होने की वजह से पानी आपूर्ति में भी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है.







ताजा पश्चिमी विक्षोभ से हिमालय के ऊपरी हिस्सों के प्रभावित होने के चलते दिल्ली में न्यूनतम तापमान सोमवार को थोड़ी वृद्धि के साथ 5.5 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया. वहीं हवा की गुणवत्ता ‘बेहद खराब’ श्रेणी में दर्ज की गई. मौसम अधिकारियों ने बताया कि पश्चिमी विक्षोभ की वजह से जम्मू-कश्मीर, लद्दाख और हिमाचल प्रदेश के ऊंचाई वाले क्षेत्रों में हल्की से मध्यम बर्फबारी होगी.

पंजाब और हरियाणा में भी शीत लहर चल रही है. पंजाब के आदमपुर में न्यूनतम तापमान 3.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जबकि अमृतसर भी सर्दी की चपेट में है और वहां न्यूनतम तापमान 4.8 डिग्री सेल्सियस रहा. कश्मीर में अधिकारियों ने बताया कि बादल छाए रहने की वजह से न्यूनतम तापमान में वृद्धि दर्ज की गई लेकिन फिर भी पारा जमाव बिंदू से नीचे रहा.

उत्तर प्रदेश कड़ाके की ठंड की गिरफ्त में है और राज्य में दूरदराज के स्थानों पर शीतलहर चल रही है. सोनभद्र जिले में चुर्क राज्य का सबसे ठंडा स्थान रहा और यहां न्यूनतम तापमान 3.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. मौसम अधिकारियों ने बताया कि राज्य में मौसम शुष्क है और पूर्वी उत्तर प्रदेश के कुछ स्थानों पर घना कोहरा छाया रहा और कुछ दूरदराज स्थानों पर कड़ाके की शीत लहर चल रही है.

राज्य के पेचनेही गांव में 62 वर्षीय एक बुजुर्ग की कथित तौर पर सर्दी की वजह से मौत हो गई. अस्पताल के अधिकारियों ने बताया कि प्राथमिक तौर पर ऐसा प्रतीत होता है कि व्यक्ति की मौत सर्दी से हुई है. हालांकि मौत की वास्तविक वजह का पता लगाने के लिए शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है.

राजस्थान में न्यूनतम तापमान में बढ़ोतरी से लोगों को ठंड से थोड़ी राहत मिली है. हालांकि, राज्य के एकमात्र पर्वतीय स्थल माउंट आबू में रविवार रात तापमान शून्य से दो डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया. मौसम विभाग के अनुसार राज्य के मैदानी भागों में न्यूनतम तापमान में थोड़ी बढ़ोतरी दर्ज की गयी है. हिमाचल प्रदेश में भी लोगों को कड़ाके की शीत लहर से थोड़ी राहत मिली है क्योंकि राज्य में पिछले 24 घंटे में न्यूनतम तापमान में दो से तीन डिग्री सेल्सियस की बढ़ोतरी हुई है. लाहौल-स्पीति का प्रशासनिक केंद्र केलोंग राज्य का सबसे ठंडा स्थान रहा, यहां तापमान शून्य से 7.4 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया.

भारत मौसम विज्ञान विभाग ने कहा किपूर्वी उत्तर प्रदेश, ओडिशा में गंभीर शीत लहर जबकि गुजरात के कच्छ क्षेत्र, तेलंगाना, पूर्वी मध्य प्रदेश, विदर्भ, छत्तीसगढ़, बिहार, पश्चिमी उत्तर प्रदेश और पश्चिम बंगाल के गंगा वाले क्षेत्र में शीत लहर चलने की संभावना है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज