Weather Update: विदर्भ, मराठवाड़ा में दो दिनों में मूसलाधार बारिश की संभावना, उत्तर भारत में घटेगी तीव्रता

अगले तीन-चार दिनों तक पश्चिम और मध्य भारत में भारी वर्षा जारी रहने का अनुमान है. (प्रतीकात्मक तस्वीर: AP)

Weather Update: भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने बुधवार को कहा कि अगले तीन-चार दिनों तक पश्चिम और मध्य भारत में भारी वर्षा जारी रहने का अनुमान है वहीं उत्तर भारत में इसकी तीव्रता में कमी आ सकती है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. महाराष्ट्र (Maharashtra) के कई जिलों में तेज बारिश (Rainfall) का दौर जारी है. अब खबर है कि विदर्भ, मराठवाड़ा और मध्य महाराष्ट्र में अगले दो दिनों में मूसलाधार बारिश हो सकती है. इसके अलावा मौसम के जानकारों ने कुछ जगहों पर स्थानीय स्तर पर बाढ़ की भी आशंका जताई है. लगातार हो रही भारी बारिश के मद्देनजर मौसम विभाग ने राज्य के कुछ जिलों में पहले ही ऑरेंज और रेड अलर्ट जारी कर दिए हैं. साथ ही आज दिल्ली में भी हल्की से मध्यम बारिश होने के आसार हैं.

    मौसम विभाग के मुताबिक, गुरुवार को कोंकण और गोवा में भारी से अति भारी बारिश की संभावना है. वहीं, कुछ इलाकों में मूसलाधार बारिश के आसार हैं. पूर्वी मध्य प्रदेश, विदर्भ, छत्तीसगढ़, मध्य महाराष्ट्र के घाट इलाकों, तटीय आंध्र प्रदेश और यानम और तेलंगाना में भारी बारिश हो सकती है. जबकि, पश्चिम मध्य प्रदेश, ओडिशा, मराठवाड़ा और कर्नाटक के तटीय इलाकों में भारी से बहुत भारी बारिश की संभावना है.

    इनके अलावा हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, पूर्वी राजस्थान, झारखंड, गंगीय पश्चिम बंगाल, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा, गुजरात क्षेत्र, रायलसीमा, कर्नाटक के आंतरिक हिस्सों और केरल और माहे में भारी बारिश हो सकती है. स्कायमेट वेदर के मुताबिक, दिल्ली और हरियाणा के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश का अनुमान है.

    एजेंसी के अनुसार, विदर्भ, मराठवाड़ा और मध्य महाराष्ट्र में दो दिनों में मूसलाधार बारिश हो सकती है. हालांकि, बारिश की तीव्रता में 23 जुलाई को कमी आ सकती है. एजेंसी ने बताया कि राज्य में मानसून की स्थिति बेहतर बनी हुई है और अधिकांश स्थानों पर सामान्य या सामान्य से अधिक बारिश दर्ज की गई है. बीते 24 घंटों में भी इन महाराष्ट्र के इन क्षेत्रों में बादल जमकर बरसे.

    भाषा के अनुसार, भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने बुधवार को कहा कि अगले तीन-चार दिनों तक पश्चिम और मध्य भारत में भारी वर्षा जारी रहने का अनुमान है वहीं उत्तर भारत में इसकी तीव्रता में कमी आ सकती है.

    अगले चार-पांच दिनों तक पश्चिमी तट, गुजरात आदि क्षेत्रों में भारी से बहुत भारी बारिश हो सकती है. 21-22 जुलाई को कोंकण, गोवा और मध्य महाराष्ट्र के घाट क्षेत्रों में भी अत्यधिक भारी वर्षा होने का अनुमान है. इसके साथ ही पूर्वी और मध्य भारत में 21 से 24 जुलाई के बीच कहीं भारी और कहीं बहुत भारी वर्षा का अनुमान है. 21-22 जुलाई को तटीय आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में तथा 22 जुलाई को छत्तीसगढ़, विदर्भ और पूर्वी मध्य प्रदेश में भी कहीं कहीं भारी वर्षा होने का अनुमान है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.