होम /न्यूज /राष्ट्र /Weather Update: उत्तर भारत में बढ़ सकती है ठंड, अगले कुछ दिनों में बारिश की संभावना, प्रदूषण का लेवेल भी होगा कम

Weather Update: उत्तर भारत में बढ़ सकती है ठंड, अगले कुछ दिनों में बारिश की संभावना, प्रदूषण का लेवेल भी होगा कम

हरियाणा पुलिस ने जारी की एडवाइजरी. फाइल फोटो

हरियाणा पुलिस ने जारी की एडवाइजरी. फाइल फोटो

Weather Forecast,Western Disturbances,Delhi NCR News: आईएमडी वैज्ञानिक (IMD scientist) ने कहा कि अगल विक्षोभ 5-6 दिसंबर ...अधिक पढ़ें

    नई दिल्ली: उत्तर भारत में आने वाले कुछ दिनों में ठंड बढ़ सकती है. मौसम विभाग (Weather Department) ने बताया है कि आने वाले दिनों में उत्तर भारत समेत देश के कई राज्यो में बारीश हो सकती है. बे-मौसम ये बारिश तापमान में गिरावट लाएगी जिससे उत्तर भारत (North India Weather) में ठंड बढ़ सकती है. आईएमडी (IMD Weather News) ने 30 नवंबर से लेकर 6 दिसंबर तक पश्चिमी विक्षोभ की वजह से बारिश की आशंका जताई है. आईएमडी के मुताबिक अगले कुछ दिनों में दो पश्चिमी विक्षोभ आएंगे जिसकी वजह से पहाड़ों पर बारिश होगी.

    मौसम विभाग के वैज्ञानिक आरके जेनामणि ने बताया कि इससे पहले जो विक्षोभ आया था वह 23-24 अक्टूब के बीच में आया था. अब जो विक्षोग आने वाला है उसमें पहला 2-3 दिसबंर को आ सकता है. इसकी वजह से तेज हवा चल सकती और उत्तर भारत में शीतलहर आने की संभावना है. जेनामणि के अनुसार विक्षोभ की वजह से तापमान में गिरावट आने से प्रदूषण और स्मॉग की स्थिति में भी सुधार होगा.

    पश्चिमी विक्षोभ की वजह से बदलेगा मौसम
    आईएमडी वैज्ञानिक ने कहा कि अगल विक्षोभ 5-6 दिसंबर को आएगा. इस दौरान बारिश होगी. मौसम विभाग की मानें तो 2 दिसंबर को एनसीआर के क्षेत्र में कुछ जगहों पर बारिश जबकि कुछ जगहों पर हल्की बूंदाबांदी हो सकती है. 5-6 दिसंबर को पहाड़ी और मैदानी इलाकों में को भारी बारिश की संभावना है.

    मौसम विभाग ने कहा कि 30 नवंबर को दक्षिण अंडमान सागर में एक कम दवाब का क्षेत्र बन रहा है जिसकी वजह से देश के दूसरे राज्यों में भी असर देखने को मिलेगा. इसकी वजह से ओडिशा और आंध्र प्रदेश में भारी बारिश की संभावना है. मौसम विभाग ने बारिश की संभावना के चलते 1 दिसंबर से गुजरात के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है.

    Tags: Delhi weather, Heavy Rainfall, IMD forecast, Weather Alert

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें