मौसम: असम में बारिश-भूस्खलन से 7 की मौत, उत्तर भारत में गर्मी का सितम जारी

भारत के कई इलाकों में बुधवार को जमकर बारिश हुई. (प्रतीकात्मक तस्वीर)
भारत के कई इलाकों में बुधवार को जमकर बारिश हुई. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

असम (Assam) के विभिन्न हिस्सों में बारिश और भूस्खलन से सात लोगों की मौत हो गई. इन्हें मिलाकार राज्य में अब तक 33 लोगों की मौत हो चुकी है. वहीं, उत्तर भारत (North India) में गर्मी और उमस का सितम जारी है. हालांकि, कुछ इलाकों में बारिश हुई.

  • Share this:
नई दिल्ली. देश के विभिन्न हिस्सों में बुधवार को मौसम (Weather) ने अलग-अलग रंग दिखाए. जहां कुछ हिस्सों में जमकर बारिश (Heavy Rain) हुई वहीं कुछ जगहों पर लोग गर्मी का सितम झेल रहे हैं. असम के विभिन्न हिस्सों में बारिश और भूस्खलन से सात लोगों की मौत हो गई. इन्हें मिलाकार राज्य में अब तक 33 लोगों की मौत हो चुकी है. वहीं, उत्तर भारत में गर्मी और उमस का सितम जारी है. हालांकि, कुछ इलाकों में बारिश हुई.

दिल्ली में उमस
दिल्ली वाले बारिश नहीं होने से बुधवार को उमस (उच्च आर्द्रता) और गर्मी से परेशान रहे. हालांकि, भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) ने कहा कि राष्ट्रीय राजधानी में इस सप्ताह के अंत में बारिश हो सकती है. सफदरजंग वेधशाला, जहां के आंकड़ों को पूरे शहर का प्रतिनिधि माना जाता है, ने अधिकतम तापमान 38.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया जो सामान्य से एक डिग्री अधिक है. दिल्ली के अधिकतर इलाकों में अधिकतम तापमान 38 से 40 डिग्री के बीच रहा.

मौसम विभाग के मुताबिक, राष्ट्रीय राजधानी में आर्द्रता 57 से 84 प्रतिशत के बीच बनी रही. आईएमडी ने दिल्ली में मानसून के सामान्य रहने का पूर्वानुमान जताया है लेकिन 25 जून को राष्ट्रीय राजधानी में मानसून के दस्तक देने के बावजूद पर्याप्त बारिश नहीं हुई है.
ये भी पढ़ें-भारतीय रेलवे शुरू करेगा 90 नई स्पेशल ट्रेनें, देखें ट्रेनों की लिस्ट



असम में बारिश और भूस्खलन 
उधर असम राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (एएसडीएमए) की रिपोर्ट के मुताबिक असम के विभिन्न इलाकों में बारिश और भूस्खलन से सात और लोगों की मौत हो गई. इसके साथ ही राज्य में इस प्राकृतिक आपदा में जान गंवाने वालों की संख्या 33 हो गई है. असम के 33 में से 21 जिलों के करीब 15 लाख लोग बाढ़ से प्रभावित हैं. राज्य के बारपेटा जिले में तीन लोगों की मौत बारिश और भूस्खलन की वजह से हुई. वहीं धुबरी, नौगांव, नलबाड़ी और कछार जिले में भी एक-एक व्यक्ति की मौत दर्ज की गई है.

हरियाणा और पंजाब
मौसम विभाग के मुताबिक हरियाणा और पंजाब में बुधावार को लोगों को गर्मी और उमस का सामना करना पड़ा. दोनों राज्यों में अधिकतम तापमान सामान्य से दो से तीन डिग्री सेल्सियस अधिक दर्ज किया गया. दोनों राज्यों की संयुक्त राजधानी और केंद्र शासित प्रदेश चंडीगढ़ में अधिकतम तापमान 36.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. हरियाणा में हिसार सबसे गर्म स्थान रहा जहां पर अधिकतम तापमान 40.6 डिग्री दर्ज किया गया. वहीं अंबाला और करनाल में क्रमश: 37.7 और 37 डिग्री तामपान दर्ज किया गया.

उत्तर प्रदेश का हाल
पंजाब के अमृतसर में अधिकतम तापमान 39 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. वहीं लुधियाना और पटियाला में क्रमश: 38.1 और 37.7 डिग्री तापमान रहा. उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में अधिकतम तापमान 34.1 डिग्री दर्ज किया गया जबकि न्यूनतम तापमान 27 डिग्री रहा. इस बीच, प्रयागराज में 17.2 मिलीमीटर(मिमी), बलिया में चार मिमी, गोरखपुर में 3.2 मिमी और वाराणसी में 0.6 मिमी बारिश दर्ज की गई.

आगरा प्रदेश का सबसे गर्म शहर रहा जहां पर अधिकतम तापमान 41 डिग्री दर्ज किया गया. वहीं झांसी, अलीगढ़ और इटावा में क्रमश: 39.9, 38.8 और 38.8 डिग्री तापमान दर्ज किया गया. राजस्थान में पिछले हफ्ते मॉनसून आने के बावजूद कुछ इलाकों में लू चल रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज