होम /न्यूज /राष्ट्र /पुणे में सेना प्रमुख बोले- समान व्यवहार और पेशेवर भावना के साथ एनडीए में महिला कैडेट्स का करिए स्वागत

पुणे में सेना प्रमुख बोले- समान व्यवहार और पेशेवर भावना के साथ एनडीए में महिला कैडेट्स का करिए स्वागत

पुणे में कैडेट्स को संबोधित करते COAS एमएम नरवणे

पुणे में कैडेट्स को संबोधित करते COAS एमएम नरवणे

सेना प्रमुख जनरल एमएम नरवणे  (MM Naravane) ने कहा, '42 साल पहले जब मैं एक कैडेट के तौर पर वहीं खड़ा था जहां आज आप खड़े ...अधिक पढ़ें

    पुणे. सेना प्रमुख जनरल एम एम नरवणे  (MM Naravane) ने शुक्रवार को कहा कि राष्ट्रीय रक्षा अकादमी (NDA) के दरवाजे महिला कैडटों के लिए खोले जाने के साथ ऐसी उम्मीद की जाती है कि उनका नियमों के अनुसार समान व्यवहार और पेशेवर भावना के साथ स्वागत किया जाए. वह यहां NDA के 141वें कोर्स की पासिंग आउट परेड की समीक्षा करने के बाद कैडेटों को संबोधित कर रहे थे. जनरल नरवणे ने कहा, ‘चूंकि हमने NDA का दरवाजा महिला कैडेटों के लिए खोल दिया है तो हम आपसे नियमों के अनुसार समान व्यवहार और समान पेशेवर भावना के साथ उनका स्वागत करने की उम्मीद करते हैं क्योंकि भारतीय सशस्त्र बलों को दुनियाभर में जाना जाता है.’

    रक्षा मंत्रालय ने पिछले महीने उच्चतम न्यायालय को बताया था कि महिला उम्मीदवारों को भी NDA की प्रवेश परीक्षा देने की अनुमति देने वाली एक अधिसूचना अगले साल मई में जारी कर दी जाएगी. हालांकि, उच्चतम न्यायालय ने कहा था कि NDA में महिलाओं के प्रवेश को एक और साल तक नहीं टाला जा सकता और उसने महिला उम्मीदवारों को इस साल नवंबर में परीक्षा देने की अनुमति दे दी थी.

    42 साल पहले मैं यहीं था- नरवणे
    सेना प्रमुख ने कैडेटों से समकालीन चुनौतियों से निपटने के लिए नई प्रौद्योगकियों के प्रति जागरूक रहने की भी अपील की. उन्होंने कहा कि वह परेड की समीक्षा करके काफी गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं.

    उन्होंने कहा, ’42 साल पहले जब मैं एक कैडेट के तौर पर वहीं खड़ा था जहां आज आप खड़े हैं, तब मैं सोच भी नहीं सकता था कि मैं इस परेड की समीक्षा करूंगा. यहां से आप और अधिक केंद्रित सैन्य प्रशिक्षण के लिए संबंधित करियर सेवा अकादमियों में जाएंगे. आप अलग-अलग वर्दी पहनेंगे लेकिन हमेशा याद रखिए कि कोई भी एक सेवा बल अकेले न तो आधुनिक युद्ध लड़ सकता है और न ही जीत सकता है.’

    Tags: General MM Naravane, Indian army, NDA

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें