Home /News /nation /

west bengal 8 people dead set on fire sit formed

पश्चिम बंगाल : बीरभूम जिले में आगजनी की घटना की जांच के लिए बनी एसआईटी, 8 लोगों को जिंदा जलाया

पश्चिम बंगाल में टीएमसी के एक पंचायत सदस्य की हत्या के बाद आगजनी की यह वारदात हुई है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

पश्चिम बंगाल में टीएमसी के एक पंचायत सदस्य की हत्या के बाद आगजनी की यह वारदात हुई है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

West Bengal, 8 Burnt Alive SIT Formed : पश्चिम बंगाल सरकार ने रामपुर हाट पुलिस थाने के प्रभारी और वहां के विकास खंड पुलिस अधीक्षक (SDOP) को भी तुरंत प्रभाव से निलंबित कर दिया है. बीरभूम (Birbhoom) जिले में रामपुर हाट के बागुती गांव (Baguti Village) के रहने वाले पंचायत उप-प्रधान भादू शेख की हत्या के बाद उनके समर्थकों ने सोमवार, 21 मार्च की देर रात आगजनी की थी.

अधिक पढ़ें ...

कोलकाता. पश्चिम बंगाल (West Bengal) के बीरभूम जिले में आगजनी की घटना की जांच के लिए विशेष दल (SIT) गठित कर दिया गया है. राज्य की ममता बनर्जी सरकार (Mamata Banerjee Govt) ने मंगलवार, 22 मार्च को इसकी घोषणा की है.

सरकार की ओर से बताया गया कि वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ज्ञानवंत सिंह, मिराज खालिद और संजय सिंह को एसआईटी का सदस्य बनाया गया है. इसके अलावा सरकार ने रामपुर हाट पुलिस थाने के प्रभारी और वहां के विकास खंड पुलिस अधीक्षक (SDOP) को भी तुरंत प्रभाव से निलंबित कर दिया है. गौरतलब है कि बीरभूम (Birbhoom) जिले में रामपुर हाट के बागुती गांव (Baguti Village) के रहने वाले पंचायत उप-प्रधान भादू शेख की हत्या के बाद उनके समर्थकों ने सोमवार, 21 मार्च की देर रात आगजनी की थी. उन्होंने कई घरों की बाहर से कुंडी लगाकर उन्हें आग के हवाले कर दिया. इसमें करीब 8 लोग जिंदा जल गए. इनमें 7 लोग तो एक परिवार के बताए जाते हैं.

सत्ताधारी टीएमसी के नेता थे भादू शेख
खबरों के मुताबिक, भादू शेख राज्य की सत्ताधारी तृणमूल कांग्रेस (TMC) के नेता थे. ‘द टाइम्स ऑफ इंडिया’ के मुताबिक भादू शेख बारोसल गांव की पंचायत के उप-प्रधान थे. राष्ट्रीय राजमार्ग क्रमांक-60 पर उनकी दुकान है. वहीं 2 दिन पहले जब वे बैठे हुए तो उन पर बम से हमला हुआ था. घायल अवस्था में उन्हें अस्पताल ले जाया गया. लेकिन बचाया नहीं जा सका. इससे उनके समर्थक उग्र हो गए और उन्होंने बागुती गांव (Baguti Village) में आगजनी कर दी. उन्हें शक था कि संभवत: भादू शेख पर इसी गांव के किन्हीं लोगों ने हमला किया था. रामपुर हाट (Rampur Haat) पुलिस ने बताया कि अब तक भादू शेख की हत्या के मामले में 1 संदिग्ध को हिरासत में लिया गया है. उससे पूछताछ की जा रही है. अन्य की तलाश जारी है.

Tags: Hindi news, Political killings, Violence in West Bengal

अगली ख़बर