West Bengal Assembly Election 2021: पश्चिम बंगाल में 48 घंटे की जगह 72 घंटे पहले खत्म हो सकता है प्रचार!

केंद्रीय चुनाव आयोग (फाइल फोटो)

केंद्रीय चुनाव आयोग (फाइल फोटो)

West Bengal Assembly Election 2021: कूचबिहार की घटना के बाद पांचवे चरण के मतदान से पहले चुनाव आयोग ने प्रचार को 48 घंटे की जगह 72 घंटे पहले खत्म कर दिया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 13, 2021, 2:21 PM IST
  • Share this:
नीरज कुमार

कोलकाता.
 पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव(West Bengal Assembly Election 2021) में अंतिम तीन चरणों में भी प्रचार को 72 घंटे पहले खत्म करने पर चुनाव आयोग (Election Commission)विचार करेगा. 17 अप्रैल को होने वाले पांचवे चरण के मतदान की समीक्षा करने के बाद चुनाव आयोग फैसला करेगा.

कूचबिहार की घटना के बाद पांचवे चरण के मतदान से पहले चुनाव आयोग ने प्रचार को 48 घंटे की जगह 72 घंटे पहले खत्म कर दिया है. चुनाव आयोग के सूत्रों के मुताबिक बंगाल चुनाव में राजनीतिक आरोप प्रत्यारोप और भड़काऊ बयान और कूचबिहार की घटना के बाद माहौल खराब होने की आशंका के मद्देनजर चुनाव आयोग प्रचार को पहले खत्म करने का फैसला ले सकता है.

मौजूदा फैसले पर आकलन करने के बाद आगे का निर्णय लेगा आयोग
बंगाल में छठें चरण का मतदान 22 अप्रैल को, सातवें चरण का मतदान 26 अप्रैल को और आठवें चरण का मतदान 29 अप्रैल को है. आमतौर पर चुनाव प्रचार मतदान खत्म होने के समय से 48 घंटे पहले खत्म होता है. कूचबिहार की घटना के बाद चुनाव आयोग ने कानून व्यवस्था की स्थिति को देखते हुए पांचवें चरण के मतदान के प्रचार को 72 घटे पहले खत्म करने का फैसला किया.



चुनाव आयोग के सूत्रों के मुताबिक पांचवे चरण के मतदान में स्थिति का आकलन करने के बाद छठें, सातवें और आठवें चरण को लेकर चुनाव आयोग फैसला करेगा. बंगाल में कुल आठ चरणों मे मतदान हो रहा है जबकि मतगणना 2 मई को होगी. बंगाल के साथ तमिलनाडु, केरल, असम और पुडुचेरी में भी 2 मई को ही मतगणना है जहां मतदान की प्रक्रिया चुनाव आयोग ने पहले ही संपन्न करा लिया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज