Assembly Banner 2021

ममता पर गरजे PM मोदी- दीदी ने भरोसा तोड़ा, हम विश्‍वास जीतेंगे, आपके सपनों के लिए जिएंगे

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि भाजपा की स्थापना के मूल में ही बंगाली चिंतन है. ANI

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि भाजपा की स्थापना के मूल में ही बंगाली चिंतन है. ANI

Narendra Modi Rally in Brigade Parade Ground: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि लोकसभा चुनाव में आपने चुपचाप कमल छाप से कमाल किया. आपके एक वोट की ताकत कश्मीर से लेकर अयोध्या तक ने देखी है.

  • Share this:
नई दिल्ली. कोलकाता के ब्रिगेड परेड ग्राउंड में मंगलवार को बीजेपी की चुनावी रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि ममता बनर्जी ने आपका भरोसा तोड़ा है, लेकिन हम आपका विश्वास जीतने आए हैं. उन्होंने कहा, "बंगाल की जनता ने ममता दीदी पर भरोसा किया था, लेकिन दीदी और उनके काडर ने ये भरोसा तोड़ दिया. इन लोगों ने बंगाल का विश्वास तोड़ा है. बंगाल को अपमानित किया है." उपस्थित जनसमूह को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, "भाजपा की स्थापना के मूल में ही बंगाली चिंतन है. भाजपा वो पार्टी है, जिसकी स्थापना की प्रेरणा, बंगाल के महान सपूत डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी हैं. भाजपा वो पार्टी है, जिसके विचारों में बंगाल की महक है. भाजपा वो पार्टी है, जिसके संस्कारों में बंगाल की परंपरा है. भाजपा वो पार्टी है, जिसके डीएनए में बंगाल का सूत्र है. भाजपा वो पार्टी है, जिस पर बंगाल का अधिकार है. भाजपा वो पार्टी है, जिस पर बंगाल का कर्ज है. भाजपा ये कर्ज कभी चुका नहीं सकती, लेकिन बंगाल की माटी का तिलक लगाकर उसे विकास की नई ऊंचाई पर पहुंचाना चाहती है."

'दीदी, इतना गुस्सा क्यों?'
प्रधानमंत्री ने कहा, "आपको याद होगा, मुझे क्या-क्या नहीं कहा गया. कभी रावण कहा गया, कभी दानव, कभी दैत्य तो कभी गुंडा कहा गया. दीदी, इतना गुस्सा क्यों?" टीएमसी सरकार पर निशाना साधते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि आपने लोगों की मेहनत की कमाई से, लोगों की जिंदगियों से खेला है. आपने चाय बागानों को ताला लगा दिया, राज्य को क़र्ज़ में डुबो दिया. आपने युवाओं से उनके हक की नौकरी, उनका वेतन तक छीन लिया. अब ये नहीं चलेगा, अब ये खेल नहीं चलेगा.

प्रधानमंत्री मोदी ने गिनाईं उपलब्धियां
उन्होंने कहा, "कोरोना ने पूरी दुनिया में सबको परेशान किया, लेकिन मेरे ये गरीब दोस्त ही थे, जो बहुत परेशान हुए. जब कोरोना आया तो मैंने अपने हर दोस्त को मुफ्त में राशन दिया, मुफ्त गैस सिलिंडर दिया और करोड़ों रुपए बैंक खाते में जमा करवाए. दुनिया में कोरोना वैक्सीन इतनी महंगी है. लेकिन मैंने अपने दोस्तों के लिए सरकारी अस्पताल में मुफ्त में टीका लगाने का प्रबंध किया. बंगाल के चायवाले, यहां के टी गार्डन्स में काम करने वाले हमारे भाई-बहन तो मेरे विशेष दोस्त हैं. मेरे ऐसे कामों से उनकी भी अनेक परेशानियां कम हो रही हैं. हमारी सरकार के प्रयासों से मेरे इन चायवाले दोस्तों को सोशल सिक्योरिटी स्कीम्स का भी लाभ मिलना तय हुआ है."



'4 करोड़ से ज्यादा जन धन खाते'
अपनी उपलब्धियां गिनाते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, "बंगाल में 4 करोड़ से ज्यादा जन धन खाते खोले गए, इसमें आधे से ज्यादा खाते महिलाओं के हैं. हमने जब मुद्रा लोन देकर नए अवसर दिए तो इसका भी लाभ लेने वाली 75% महिलाएं ही हैं. बीते 6 वर्ष में केंद्र सरकार की हर योजना के केंद्र में हमारी बेटियां, माताएं और बहनें रही हैं. आज गरीब को अपना पक्का घर भी मालकिन के नाम से ही मिल रहा है. घर-घर शौचालय बनें, इज्जत घर बनें, तो बहन-बेटियों को ही सम्मान मिला."

केंद्र का पैसा नहीं खर्च कर रही TMC सरकार
प्रधानमंत्री ने कहा कि क्या गरीब की चिंता करना, उसकी सेवा करना हमारा कर्तव्य नहीं है? या हम इस पर भी राजनीति करेंगे? लेकिन अफसोस, TMC सरकार यही कर रही है. हर घर जल पहुंचाने के लिए केंद्र सरकार जो पैसे भेज रही है, उसका बहुत बड़ा हिस्सा आज तक यहां की सरकार खर्च ही नहीं कर पाई है. बता दें कि पश्चिम बंगाल में इसी महीने से शुरू होने वाले आठ चरण के विधानसभा चुनावों को देखते हुए राजनीतिक हलचल तेज हो गई है.

रविवार का दिन बंगाल के लिए राजनीति का सुपर संडे कहा जा सकता है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोलकाता के ऐतिहासिक ब्रिगेड परेड मैदान में रैली को संबोधित किया, तो दूसरी ओर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी गैस की बढ़ती कीमतों के खिलाफ उत्तरी बंगाल में पदयात्रा पर निकलीं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज