Assembly Banner 2021

West Bengal Assembly Election: TMC ने जारी की 291 उम्मीदवारों की लिस्ट, नंदीग्राम से चुनाव लड़ेंगी ममता बनर्जी

ममता बनर्जी ने इस बार 100 नए चेहरों को मौका दिया है.

ममता बनर्जी ने इस बार 100 नए चेहरों को मौका दिया है.

West Bengal Assembly Election Live Updates: पार्टी ने उम्मीदवारों की सूची से ऐसे वर्तमान विधायकों के नाम हटाने का फैसला किया है जो 80 वर्ष या उससे अधिक आयु के हैं.

  • Share this:
West Bengal Assembly Elections 2021: पश्चिम बंगाल (West Bengal) में विधानसभा चुनाव (West Begnal Assembly election 2021) के लिए तृणमूल कांग्रेस (TMC) ने 291 सीटों के लिए उम्मीदवारों की लिस्ट जारी कर दी है. इस बार पार्टी ने 100 नये चेहरों को मौका दिया है. इनमें 50 महिलाएं, 42 मुस्लिम उम्मीदवार शामिल हैं. उत्तर बंगाल की 3 सीटों पर टीएमसी ने उम्मीदवार नहीं उतारे हैं. वहीं, सीएम ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) इस बार भी नंदीग्राम (Nandigram Assembly Seat) सीट से चुनाव लड़ेंगी.

इस बार सरकार आई तो बनेगा विधान परिषद- ममता बनर्जी
सीएम ममता बनर्जी ने कहा कि भवानीपुर निर्वाचन क्षेत्र से सोभनदेब चट्टोपाध्याय आगामी विधानसभा चुनाव में लड़ेंगे. उन्होंने कहा कि हम इस बार बिधान परिषद का बनाएंगे. जो लोग इस चुनाव में छूट रहे हैं  उन्हें वापस बिधान परिषद में लाया जाएगा. बनर्जी ने कहा कि हम आज 294 सीटों में से 291 सीटों की घोषणा की है. दार्जिलिंग, कलिम्पोंग और कुर्सियांग में तीन सीटों पर हमारे दोस्त चुनाव लड़ेंगे.

8 फेज में हैं चुनाव
पश्चिम बंगाल में इस बार 8 चरणों में वोटिंग की जाएगी. 294 सीटों वाली विधानसभा के लिए वोटिंग 27 मार्च (30 सीट), 1 अप्रैल (30 सीट),  6 अप्रैल (31 सीट), 10 अप्रैल (44 सीट), 17 अप्रैल (45 सीट),  22 अप्रैल (43 सीट), 26 अप्रैल (36 सीट), 29 अप्रैल (35 सीट) को होगी. पश्चिम बंगाल में भी काउंटिंग 2 मई को की जाएगी.



बीजेपी से है कड़ी टक्कर
ममता बनर्जी पिछले 10 साल से बंगाल पर राज कर रहीं हैं, लेकिन यह पहला मौका है जब उन्हें किसी पार्टी से कड़ी चुनौती का सामना करना पड़ रहा है. BJP की हिन्दुत्व राजनीति का जवाब देने के लिए ममता महाशिवरात्रि के दिन अपना नामांकन दाखिल कर सकतीं हैं.
नंदीग्राम में ममता बनर्जी बनाम शुभेंदु अधिकारी की लड़ाई
ममता बनर्जी के नंदीग्राम से चुनाव लड़ने के ऐलान के बाद नंदीग्राम निश्चित तौर पर सबसे वीआईपी सीट बन गई है. यहां से तय होगा कि बंगाल की राजनीति आगे किस तरफ करवट लेती है. इस सीट पर शुभेंदु अधिकारी ही मौजूदा विधायक हैं. अब यह देखना दिलचस्प होगा कि ममता के खिलाफ शुभेंदु खुद खड़े होते हैं या फिर किसी दूसरे को बीजेपी अपना उम्मीदवार बनाती है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज