पश्चिम बंगाल में टीएमसी के जीतने के क्‍या होंगे मायने?

ममता बनर्जी के हारने से पार्टी को क्‍या-क्‍या नुकसान हो सकते हैं? (फाइल फोटो)

ममता बनर्जी के हारने से पार्टी को क्‍या-क्‍या नुकसान हो सकते हैं? (फाइल फोटो)

West Bengal Assembly Election Result 2021 : पश्चिम बंगाल चुनाव में जिस एक विधानसभा सीट पर सबकी नजर है, वह है नंदीग्राम सीट... यहां ममता बनर्जी और बीजेपी के शुवेंदु अधिकारी के बीच कड़ी टक्कर है. जानकारों के मुताबिक, पार्टी की जीत, आने वाले वक्‍त में राज्‍य की राजनीति को प्रभावित करेगी.

  • Share this:
नई दिल्‍ली/कोलकाता : 5 राज्यों के विधानसभा चुनाव के नतीजों में सबसे ज्‍यादा चर्चा पश्चिम बंगाल के चुनाव (West Bengal Assembly Election Result 2021) की हो रही है. पश्चिम बंगाल (West Bengal) के चुनाव पर खास नजर इसलिए भी है, क्‍योंकि केंद्र की सत्तारूढ़ बीजेपी (BJP) और पश्चिम बंगाल में 10 साल से शासन कर रही तृणमूल कांग्रेस के बीच कड़ी टक्कर मानी जा रही थी.

बीजेपी ने इस चुनाव के लिए पश्चिम बंगाल में 'दीदी' ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) को हराने के लिए अपना पूरा जोर लगाया है और प्रचार के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, अमित शाह समेत कई केंद्रीय मंत्री लगातार बंगाल पहुंचे, जबकि तृणमूल कांग्रेस की ममता बनर्जी यहां तीसरी बार सरकार बनाने की पुरजोर इरादे से मैदान में उतरी हैं.

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव परिणाम Live

Youtube Video

पश्चिम बंगाल चुनाव में जिस एक विधानसभा सीट पर सबकी नजर है, वह है नंदीग्राम सीट... यहां ममता बनर्जी और बीजेपी के शुवेंदु अधिकारी के बीच कड़ी टक्कर है. जानकारों के मुताबिक, पार्टी की जीत, आने वाले वक्‍त में राज्‍य की राजनीति को प्रभावित करेगी.

पढ़ें- शुवेंदु अधिकारी के ल‍िए नंदीग्राम सीट जीतना और ममता बनर्जी को हराना इतना अहम क्‍यों है?

राजनीतिक विश्‍लेषकों का मानना है कि ममता बनर्जी को राष्‍ट्रीय स्‍तर पर मोदी विरोध के चहरे के रूप में भी देखा जाता है. समय-समय पर और इस चुनाव उन्‍होंने इस बात पूरा जोर लगाया है क‍ि वह नरेंद्र मोदी और अमित शाह की जोड़ी को अकेले दम पर हरा सकती हैं और अगर वह नंदीग्राम सीट से चुनाव जीत जाती हैं तो इससे उनका मकसद कामयाब होगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज