Assembly Banner 2021

पश्चिम बंगाल इलेक्शन: चुनावी हिंसा में सोंदेश की मिठास

इस चुनावी हिंसा के दौर में कुछ मिठास भी लाने की कोशिश की जा रही है. (फोटो साभार-News18)

इस चुनावी हिंसा के दौर में कुछ मिठास भी लाने की कोशिश की जा रही है. (फोटो साभार-News18)

West Bengal Assembly Election: इस चुनावी हिंसा के दौर में कुछ मिठास भी लाने की कोशिश की जा रही है. 100 साल से भी ज़्यादा पुरानी कोलकाता की फ़ेमस मिठाई की दुकान 'बलराम मुल्लिक एण्‍ड राधारमण मुल्लिक' पर आपको चुनावी मिठाइयों की मिठास मिलेगी.

  • Share this:
(यतेन्द्र शर्मा)
पश्चिम बंगाल चुनावों में हमेशा से हिंसा को लेकर सवाल उठते रहे हैं. सत्ता में आने से पहले ममता बनर्जी लेफ्ट पर हिंसा का आरोप लगाती रहती थीं. उसी हिंसा और भष्ट्राचार के खिलाफ उन्होंने संघर्ष किया और सत्ता में आईं. अब ममता के राज में हिंसा का आरोप लग रहा है. इस बार यह आरोप बीजेपी लगा रही है. बीजेपी का आरोप है कि तृणमूल के 10 साल के राज में उसके सैकड़ों कार्यकर्ताओं को मार दिया गया. इसी प्रकार की हिंसा का आरोप टीएमसी बीजेपी पर लगाती है.

लेकिन, इस चुनावी हिंसा के दौर में कुछ मिठास भी लाने की कोशिश की जा रही है. 100 साल से भी ज़्यादा पुरानी कोलकाता की फ़ेमस मिठाई की दुकान 'बलराम मुल्लिक एण्‍ड राधारमण मुल्लिक' पर आपको चुनावी मिठाइयों की मिठास मिलेगी. फेमस मिठाई सोंदेश को 'बलराम मुल्लिक एण्‍ड राधारमण मुल्लिक' ने नये कलेवर और नये फ़्लेवर के साथ पेश किया है.

इस सोंदेश को चुनावी मिठास से जोड़ने के लिये प.बंगाल की सभी राजनीतिक पार्टियों के चुनाव चिन्ह और प्रमुख नेताओं के चेहरे वाली सोंदेश बनाई गई है. सबसे दिलचस्प और आकर्षित करने वाला सोंदेश है बीजेपी के नारे वाला 'जय श्रीराम' और TMC के नारे वाला 'खेला होवे'.
ये भी पढ़ें: ममता बनर्जी के 'खेला' बयान पर बीजेपी ने दर्ज कराई चुनाव आयोग में शिकायत



ये भी पढ़ें: कौन जीतेगा बंगाल का किला? TMC लगा रही जोर, BJP बोली- 3 मई को हमारा सीएम

इसके अलावा बीजेपी के चुनाव चिन्ह का कॉल सोंदेश, टीएमसी के चुनाव चिन्ह वाला सोंदेश, कांग्रेस के चुनाव चिन्ह हाथ के पंजे वाला सोंदेश भी बखूबी दिलचस्प है. इसके साथ ही प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के चेहरे वाले सोंदेश भी बनवाये गये हैं.

बलराम मुल्लिक एण्‍ड राधारमण मुल्लिक के मालिक सुदीप मुल्लिक बताते हैं कि उनके यहां चुनाव के समय में हर बार चुनाव से जोड़ते हुये मिठाई बनाई जाती है, जिससे चुनावी कड़वाहट के बीच में मिठास का संदेश भी रहे. सुदीप ने कहा कि उन्होंने बंगाल की सभी राजनीतिक पार्टियों को, उनके नेताओं को सोंदेश मिठाई पर जगह दी है. और अलग-अलग साइज में इस तरह के सोंदेश बनवाये जा रहे हैं जिससे हर तबके का व्यक्ति उनको अपने हिसाब से ख़रीद सके. सुदीप ने भरोसा जताते हुये कहा कि उनको उम्मीद है कि सभी राजनीतिक पार्टियों से उनको इसके लिये ऑर्डर जल्दी ही मिल जायेंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज