अमित शाह बोले- केंद्र की योजनाओं में TMC सबसे बड़ा रोड़ा, बंगाल में बस गुंडाराज

अमित शाह ने झारग्राम की रैली को वर्चुअली संबोधित किया.

West Bengal Assembly Elections 2021: अमित शाह ने कहा, 'आप सभी यह संकल्प करिए कि जो सरकार हमारे बीच रोड़ा बनी है, उसे हम उखाड़ फेंकेंगे. अगर हम सत्ता में आए, तो झारग्राम में पंडित रघुनाथ मुर्मु ट्राइबल यूनिवर्सिटी बनाएंगे.'

  • Share this:
    West Bengal Assembly Elections 2021: पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव को लेकर सियासी पारा गर्म है. गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) पश्चिम बंगाल और असम के दो दिन के दौरे पर हैं. बंगाल के खड़गपुर में उनके हेलिकॉप्टर में तकनीकी खराबी आ गई. इस वजह से उन्होंने झारग्राम की रैली को वर्चुअली संबोधित किया. इस दौरान शाह ने कहा कि ममता सरकार (Mamata Banerjee Government) में सिर्फ गुंडाराज है. उन्होंने कहा- 'एक समय बंगाल आध्यात्म और स्वाधीनता संग्राम की अगुआई करता था. वंदेमातरम गान ने भारत को एकजुट करने का काम किया. अब बंगाल गुंडाराज में लिप्त है. मोदी सरकार की योजनाएं आप तक नहीं पहुंच रही हैं. इसमें सबसे बड़ा रोड़ा तृणमूल की सरकार है.'

    आइए जानते हैं कि अमित शाह ने झारग्राम रैली में और क्या कहा:-
    अमित शाह ने कहा, 'आप सभी यह संकल्प करिए कि जो सरकार हमारे बीच रोड़ा बनी है, उसे हम उखाड़ फेंकेंगे. अगर हम सत्ता में आए, तो झारग्राम में पंडित रघुनाथ मुर्मु ट्राइबल यूनिवर्सिटी बनाएंगे.'
    उन्होंने कहा, 'आदिवासी समुदाय से आने वाले जो छात्रों 12वीं क्लास के एग्जाम में 70% से ज्यादा नंबर लाएंगे, तो उन्हें हायर एजुकेशन के लिए 50% की आर्थिक मदद दी जाएगी. स्टैंडअप योजना के तहत 100 करोड़ रुपये देकर हजारों आदिवासियों को आत्मनिर्भर बनाने का काम हमारी सरकार करेगी.'
    अमित शाह ने कहा, 'बंगाल में 10 साल से TMC की सरकार ने बंगाल को पाताल तक नीचे ले जाने का काम किया है. हर चीज में भ्रष्टाचार, टोलबाजी, राजनीतिक हिंसा, घुसपैठ ने पूरे बंगाल के विकास को तहत-नहस कर दिया है.'
    उन्होंने कहा, 'मोदी सरकार ने 10 साल के दीदी के शासन में 115 से ज्यादा योजनाएं पहुंचाई, ये योजनाएं आप तक नहीं पहुंच रही हैं. ऐसी सरकार आपके किसी काम की नहीं है.'
    शाह ने कहा, 'बंगाल की जनता को लगा था कि कम्युनिस्टों का शासन खत्म होने पर राहत मिलेगी, लेकिन टीएमसी तो उससे भी आगे निकली.'
    गृहमंत्री ने कहा, 'अब तो गरीब आदिवासी को भी सर्टिफिकेट के लिए 100 रुपये देना पड़ता है. बीजेपी की सरकार आ गई तो पैसा नहीं देना पड़ेगा, अधिकारी खुद सर्टिफिकेट लेकर आएंगे.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.