दो दिन के बंगाल दौरे के लिए कोलकाता पहुंचे अमित शाह, 2021 विधानसभा चुनाव की तैयारियों का लेंगे जायजा

 शाह ने अपने स्वागत के लिए उमड़े कार्यकर्ताओं और आम लोगों को उनके प्यार और समर्थन के लिए शुक्रिया भी कहा (Photo- Twitter/@amitshah)
शाह ने अपने स्वागत के लिए उमड़े कार्यकर्ताओं और आम लोगों को उनके प्यार और समर्थन के लिए शुक्रिया भी कहा (Photo- Twitter/@amitshah)

West Bengal Assembly Elections 2021: कोविड-19 महामारी (Covid-19 Pandemic) के बाद से शाह की पश्चिम बंगाल की यह पहली यात्रा है. उन्होंने एक मार्च को राज्य का दौरा किया था.

  • Share this:
कोलकाता. केंद्रीय गृह मंत्री और भाजपा के वरिष्ठ नेता अमित शाह (Home Minister Amit Shah) पश्चिम बंगाल (West Bengal) में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव (West Bengal Assembly Elections) के मद्देनजर पार्टी की तैयारियों को बल देने के लिए अपने दो दिवसीय दौरे पर कोलकाता (Kolkata) पहुंच गए हैं. इस दौरान वह सांगठनिक स्थिति का जायजा भी लेंगे. कोलकाता पहुंचने पर अमित शाह ने ट्वीट कर बताया कि वह कोलकाता पहुंच गए हैं. शाह ने अपने स्वागत के लिए उमड़े कार्यकर्ताओं और आम लोगों को उनके प्यार और समर्थन के लिए शुक्रिया भी कहा.

भाजपा के राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी अनिल बलूनी (Anil Balooni) ने बुधवार को बताया कि अपनी यात्रा के दौरान शाह जनजातीय और शरणार्थी परिवारों के साथ दोपहर का भेजन करेंगे. शाह के दौरे की विस्तृत जानकारी देते हुए उन्होंने कहा कि वह अपनी दो दिवसीय यात्रा के दौरान बांकुड़ा और कोलकाता में बूथ स्तरीय भाजपा कार्यकर्ताओं से लेकर प्रभावी और सामाजिक नेताओं के साथ बैठकें करेंगे.
दलित परिवार के घर करेंगे भोजनपांच नवम्बर को अपनी यात्रा के पहले दिन शाह बांकुड़ा में पार्टी कार्यकर्ताओं और समाज के विभिन्न नेताओं के साथ बैठक करेंगे. पश्चिम बंगाल के दक्षिणी हिस्से की 70 विधानसभा सीटों के कार्यकर्ता इस बैठक में शिरकत करेंगे. शाह बांकुड़ा जिले के चतुर्धी गांव के एक दलित परिवार के यहां दोपहर का भोजन करेगे. कोविड-19 महामारी (Covid-19 Pandemic) के बाद से शाह की पश्चिम बंगाल की यह पहली यात्रा है. उन्होंने एक मार्च को राज्य का दौरा किया था.

पिछले साल हुए आम चुनाव में पश्चिम बंगाल की 42 लोकसभा सीटों में से 18 सीटों पर जीत दर्ज कर भाजपा राज्य में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस (Trinamool Congress) की मुख्य प्रतिद्वंद्वी के तौर पर उभरी है.



भाजपा नेताओं ने विश्वास जताया है कि वे अगले साल अप्रैल-मई में प्रस्तावित विधानसभा चुनाव में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के 10 साल के शासन को समाप्त कर देंगे.

बड़े संगठनात्मक बदलाव के बाद हो रहा है शाह का दौरा
अगले दिन वह कोलकाता में राज्य के नेताओं के साथ एक बैठक करेंगे. इस बैठक में 80 से अधिक विधानसभा क्षेत्रों के नेता और पार्टी पदाधिकारी शिरकत करेंगे. शाह का यह दौरा प्रदेश भाजपा में बड़े संगठनात्मक बदलाव के बाद हो रहा है. इसके महासचिव (संगठन) सुब्रत चट्टोपाध्याय को हटा दिया गया था और उनके कनिष्ठ अमिताभ चक्रवर्ती को केंद्रीय नेतृत्व द्वारा उस पद पर नियुक्त किया गया था.

ये भी पढ़ें- राफेलः फ्रांस से नॉनस्टॉप उड़ान भरकर जामनगर एयरबेस पहुंचे 3 लड़ाकू विमान

बंगाल में विधानसभा चुनाव 2021 अप्रैल-मई में होने की संभावना है. यह भाजपा के लिए महत्त्वपूर्ण होगा क्योंकि वह राज्य की राजनीति में अपनी बढ़ती प्रमुखता को भुनाने की कोशिश करेगी, जबकि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी तीसरी बार सत्ता में वापसी की कोशिश करेंगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज