पश्चिम बंगाल में बोले दिलीप घोष- 6 महीने में सुधर जाएं TMC कार्यकर्ता, नहीं तो हाथ-पैर टूट जाएंगे

दिलीप घोष ने दी चेतावनी.
दिलीप घोष ने दी चेतावनी.

पश्चिम बंगाल बीजेपी के प्रमुख दिलीप घोष (Dilip Ghosh) ने पूर्व मिदनापुर जिले के हल्दिया में एक रैली को संबोधित करते हुए टीएमसी कार्यकर्ताओं को चेतावनी दी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 9, 2020, 7:19 AM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. पश्चिम बंगाल (West Bengal) बीजेपी की के अध्यक्ष दिलीप घोष (Dilip Ghosh) ने रविवार को कहा कि उनकी पार्टी (BJP) राज्य में सत्ता में आती है तो राज्‍य में लोकतंत्र को बहाल करेगी. इसके साथ ही उन्होंने तृणमूल कांग्रेस (TMC) के कार्यकर्ताओं को चेतावनी दी कि वे अपने तरीके बदल लें नहीं तो उन्हें अस्पताल या श्मशानघाट जाना पड़ेगा.

दिलीप घोष ने पूर्व मिदनापुर जिले के हल्दिया में एक रैली को संबोधित करते हुए कहा कि केंद्र राज्य में निष्पक्ष चुनाव सुनिश्चित करेगी. उन्होंने कहा, 'विधानसभा चुनाव केंद्रीय बलों की निगरानी में होंगे. आम लोगों को अब भी परेशान कर रहे तृणमूल कार्यकर्ता अगले छह महीने में सुधर जाएं नहीं तो उन्हें अस्पताल जाना पड़ेगा. उनके हाथ पैर, पसली और सिर तोड़ दिए जाएंगे.'

अपने संबोधन में दिलीप घोष ने पश्चिम बंगाल की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी पर भी निशाना साधा. उन्‍होंने ममता बनर्जी को 'साड़ी पहने हुए हिटलर' तक कहा. वहीं टीएमसी कार्यकर्ताओं को चेतावनी देते हुए यह भी कहा, 'तुम लोग अपने घर जाने से पहले अस्‍पताल जाओगे. अगर उनकी शरारत बढ़ती हैं तो ऐसे उन्‍हें श्‍मशान भेज दिया जाएगा.'

दिलीप घोष ने रविवार को जोर देकर यह भी कहा कि भगवा पार्टी धार्मिक आधार पर भेदभाव नहीं करती है और मुस्लिम समुदाय के लोगों को आश्वस्त किया कि पीएम मोदी की अगुवाई वाली केंद्र की राजग सरकार के अधीन उन्हें भी समान अधिकार प्राप्त हैं. प्रदेश के पूर्वी मेदिनीपुर जिले के हल्दिया में आयोजित रैली में कहा कि यह केवल बीजेपी ही है, जो इस विचारधारा को मानती है. अगले साल राज्य में अप्रैल-मई में होने वाले विधानसभा चुनावों के मद्देनजर घोष का यह बयान महत्वपूर्ण है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज