Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    BJP कार्यकर्ता कर रहे थे कृषि कानून का समर्थन, टीएमसी वर्कर्स ने बुरी तरह पीटा, सामने आया VIDEO

    बर्धमान में टीएमसी कार्यकर्ताओं ने कथित तौर पर बीजेपी कार्यकर्ताओं पर किया हमला
    बर्धमान में टीएमसी कार्यकर्ताओं ने कथित तौर पर बीजेपी कार्यकर्ताओं पर किया हमला

    BJP-TMC Clash: बर्धमान में हुई इस घटना का वीडियो भी सामने आया है जिसमें कि एक पक्ष के लोग दूसरे पक्ष पर डंडों से हमला करते हुए दिख रहे हैं.

    • News18Hindi
    • Last Updated: October 21, 2020, 11:56 PM IST
    • Share this:
    कोलकाता. पश्चिम बंगाल (West Bengal) में कृषि कानूनों (Farm Laws) का समर्थन कर रहे भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं (Bharatiya Janta Party Workers) पर तृणमूल कांग्रेस (Trinamool Congress) के कार्यकर्ताओं ने कथित तौर पर हमला कर दिया. प्राप्त जानकारी के अनुसार भाजपा कार्यकर्ता बंगाल के बर्धमान (Bardhaman) जिले में पूर्बस्थली (Purbasthali) पर केंद्र सरकार द्वारा बनाए गए कृषि कानूनों का विरोध कर रहे थे जहां उन पर टीएमसी (TMC) के कार्यकर्ताओं ने कथित तौर पर हमला कर दिया. इस घटना में कई लोगो के घायल होने की भी खबर मिली है.

    बर्धमान में हुई इस घटना का वीडियो भी सामने आया है जिसमें कि एक पक्ष के लोग दूसरे पक्ष पर डंडों से हमला करते हुए दिख रहे हैं. वीडियो में लोगों के चीखने-चिल्लाने की आवाज भी सुनाई दे रही है. बता दें हाल ही में संसद द्वारा पारित और राष्ट्रपति द्वारा अनुमोदित किए गए कृषि बिलों को लेकर विपक्ष विरोध कर रहा है वहीं केंद्र की सत्तारूढ़ पार्टी भाजपा किसानों के बीच इस कानून को लेकर उपजे संशय को लेकर विभिन्न जागरुकता कार्यक्रम आयोजित कर रही है.


    विपक्ष कर रहा है कानूनों का विरोध
    बता दें कृषि से संबंधित इन कानूनों को लेकर विपक्ष लगातार विरोध प्रदर्शन कर रहा है. इन कानूनों के विरोध में पंजाब सरकार विधानसभा के विशेष सत्र में विधेयक पेश कर चुकी है वहीं राजस्थान भी इसके खिलाफ विधेयक लाने की तैयारी में है.



    ये भी पढ़ें- महाराष्ट्र और पंजाब के बाद बंगाल में BJP को झटका, बिमल गुरुंग NDA से हुए अलग

    पंजाब के बाद राजस्थान में भी विधेयक लाने की तैयारी
    पंजाब विधानसभा ने मंगलवार को केन्द्र के नये कृषि कानूनों को खारिज करने के लिए एक प्रस्ताव पारित किया और चार विधेयक पारित करते हुए कहा कि यह संसद द्वारा बनाए गए कानूनों की काट साबित होंगे. पंजाब की अमरिंदर सिंह नीत सरकार द्वारा आहूत विधानसभा के विशेष सत्र के दूसरे दिन पांच घंटे से भी ज्यादा समय तक चली चर्चा के बाद विधेयक पारित किए गए और प्रस्ताव स्वीकार किया गया.

    ये भी पढ़ें-उपचुनाव: 'आइटम' बयान कमलनाथ के लिए बना मुसीबत, चुनाव आयोग ने मांगा जवाब

    वहीं राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने मंगलवार को कहा कि राजस्थान सरकार भी केंद्र द्वारा हाल ही में पारित कृषि संबंधी कानूनों के खिलाफ विधेयक लाएगी और इसके लिए जल्द ही राज्य विधानसभा का विशेष सत्र बुलाया जाएगा.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज