• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • शुभेंदु अधिकारी के आवास पर फिर पहुंची सीआईडी टीम, 2018 में पर्सनल गार्ड के मौत का मामला

शुभेंदु अधिकारी के आवास पर फिर पहुंची सीआईडी टीम, 2018 में पर्सनल गार्ड के मौत का मामला

भाजपा विधायक शुभेंदु अधिकारी के आवास पर पहुंची सीआईडी की एक टीम. (ANI Twitter/17 July, 2021)

भाजपा विधायक शुभेंदु अधिकारी के आवास पर पहुंची सीआईडी की एक टीम. (ANI Twitter/17 July, 2021)

CID Team Suvendu Adhikari Residence: अधिकारी के निजी सुरक्षा गार्ड ने 2018 में पूर्व मेदिनीपुर जिले के कांथी में एक पुलिस बैरक में अपनी सर्विस रिवॉल्वर से कथित तौर पर खुद को गोली मार ली थी.

  • Share this:

    कोलकाता. पश्चिम बंगाल अपराध जांच विभाग (सीआईडी) की टीम एक सप्ताह में दूसरी बार भाजपा विधायक और विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष शुभेंदु अधिकारी के निजी सुरक्षा अधिकारी की मौत की छानबीन के सिलसिले में शनिवार को उनके पूर्वी मेदिनीपुर जिले के कोंटाई स्थित आवास पहुंची. एजेंसी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने यह जानकारी दी. उन्होंने कहा कि सीआईडी अधिकारियों की चार सदस्यीय टीम ने शुभव्रत चक्रवर्ती की कथित आत्महत्या की घटना का दृश्य तैयार किया.


    अधिकारी के निजी सुरक्षा गार्ड और राज्य सशस्त्र पुलिस बल के कर्मी शुभव्रत चक्रवर्ती ने 2018 में पूर्व मेदिनीपुर जिले के कांथी में एक पुलिस बैरक में अपनी सर्विस रिवॉल्वर से कथित तौर पर खुद को गोली मार ली थी. सुरक्षाकर्मी की पत्नी सुपर्णा चक्रवर्ती ने हाल ही में पति की मौत की जांच की मांग को लेकर कोंटाई थाने में ताजा शिकायत दर्ज कराई है. आपराधिक जांच विभाग (सीआईडी) के अधिकारी के अनुसार, घटना की बेहतर समझ के लिए अधिकारियों ने एक 'स्केच मैप' तैयार किया है.


    बंगाल में दलबदल विरोधी कानून को लेकर शुभेंदु अधिकारी जाएंगे हाईकोर्ट, मुकुल रॉय बोले- आपको जहां जाना है जाइए


    उन्होंने कहा, ''हम विवरण का खुलासा नहीं कर पाएंगे. हम केवल इतना कह सकते हैं कि हमें भवन के निवासियों के किसी प्रतिरोध का सामना नहीं करना पड़ा. यदि आवश्यक हुआ तो हम अपनी जांच को आगे बढ़ाने के लिए उस स्थान का फिर से दौरा करेंगे.'' सीआईडी अधिकारी ने कहा कि सरकारी एजेंसी ने अब तक कम से कम 11 पुलिसकर्मियों से पूछताछ की है जिनमें तीन पुलिस अधिकारी और आठ कांस्टेबल शामिल हैं. इससे पहले बीते 14 जुलाई को भी सीआईडी ​​की टीम जांच के सिलसिले में पूर्वी मेदिनीपुर जिले में अधिकारी के घर पहुंची थी.


    पश्चिम बंगाल: सरकार पर बरसे नेता प्रतिपक्ष शुभेंदु , राज्‍यपाल से की शिकायत


    इस बीच, मामले को फिर से खुलने से प्रतिद्वंद्वी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के बीच जुबानी जंग भी छिड़ गई है. भाजपा प्रवक्ता शमिक भट्टाचार्य ने कोलकाता में बीते बुधवार को संवाददाताओं से कहा था, 'हमें आश्चर्य है कि ढाई साल बाद मामला क्यों उठाया गया?' उन्होंने कहा, 'जब यह घटना हुई तब ममता बनर्जी कैबिनेट में शुभेंदु अधिकारी एक शक्तिशाली मंत्री थे. अब जब उन्होंने तृणमूल कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल होकर नंदीग्राम से मुख्यमंत्री को हराया है तो ये सब बातें- प्राथमिकी दर्ज कराने और सीआईडी टीम का दौरा हो रहा है.'




    वहीं, महिषदल से तृणमूल विधायक और मृतक सुरक्षा कर्मी के रिश्ते के भाई तिलक चक्रवर्ती ने कहा कि मौत को आत्महत्या के संदिग्ध मामले के रूप में क्यों देखा गया और हम चाहते हैं कि सच्चाई सामने आए. शुभेंदु अधिकारी के छोटे भाई और सांसद दिब्येंदु अधिकारी ने कहा, 'मुझे लगता है कि दो साल से अधिक पुराने मामले को खोलने के पीछे एक गहरी साजिश है, लेकिन हम किसी भी जांच से डरते नहीं हैं.'


    (इनपुट भाषा से भी)

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज