लाइव टीवी

महाराष्ट्र के बाद बंगाल भी घरेलू उड़ान शुरू करने के मूड में नहीं, ममता करेंगी केंद्र से बात

News18Hindi
Updated: May 24, 2020, 12:37 PM IST
महाराष्ट्र के बाद बंगाल भी घरेलू उड़ान शुरू करने के मूड में नहीं, ममता करेंगी केंद्र से बात
पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी

घरेलू उड़ान (Domestic Flight Services) को लेकर ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने कहा, यह फैसला इसलिए लिया गया क्योंकि राज्य चक्रवात अम्फान से हुए नुकसान के प्रबंधन में व्यस्त है.

  • Share this:
कोलकाता. 25 मई से शुरू होने वाली घरेलू उड़ान को लेकर महाराष्ट्र के बाद अब पश्चिम बंगाल की सरकार ने भी असमंजस को बढ़ा दिया है. पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने शनिवार को कहा कि वह केंद्र से कोलकाता और बागडोगरा हवाईअड्डों पर कुछ दिनों के लिए घरेलू उड़ान सेवाएं (Domestic Flight Services) रोकने के लिए आग्रह करेंगी. ये उड़ान सेवाएं 25 मई से शुरू होने वाली हैं लेकिन राज्य इस समय अम्फान चक्रवात (Amphan Cyclone) से होने वाली क्षति के राहत कार्य में व्यस्त हैं.

ममता बनर्जी ने कहा कि उन्होंने मुख्य सचिव से नागरिक उड्डयन मंत्रालय को 30 मई तक कोलकाता हवाई अड्डे पर और 28 मई तक बागडोगरा हवाई अड्डे पर सेवाओं को स्थगित करने का अनुरोध करने के लिए कहा है. बता दें कि महाराष्ट्र के एक अधिकारी ने शनिवार को कहा कि राज्य सरकार ने 19 मई के अपने लॉकडाउन (Lockdown) आदेश में अब तक संशोधन नहीं किया है, जिसमें केवल कुछ खास तरह की उड़ानों को ही अनुमति दी गई है.





स्पेशल ट्रेन को भी रोकने की कि अपील



राज्य ने केंद्र से अपील की, 'जिला प्रशासन चक्रवात अम्फान (Amphan Cyclone) के बाद राहत, पुनर्वास के काम में लगा हुआ है. इसलिए अगले कुछ दिनों के लिए स्पेशल ट्रेनों को रिसीव करना संभव नहीं होगा.' आपसे अनुरोध है कि 27 मई तक राज्य में कोई स्पेशल ट्रेन न भेजी जाएं.

बनर्जी ने कहा कि राज्य में लौटने वाले लोगों को 14 दिनों के लिए घर में क्वारनटाइन किया जाएगा और प्रोटोकॉल का पालन किया जाएगा. लेकिन सरकार इसमें सहयोग करे. उन्होंने कहा, "घर से बेहतर कुछ भी नहीं हो सकता है. लेकिन आपको क्वारनटाइन के दिशानिर्देशों का पालन करना चाहिए." वायस आ रहे लोगों लिए प्रत्येक जिले में परीक्षण सुविधाएं होंगी.

ईद के दौरान घर में पढ़े नमाज
किसी भी धार्मिक सभा को रोकने पर एमएचए के आदेश का हवाला देते हुए, बनर्जी ने लोगों से इस साल घर पर ईद-उल-फितर मनाने का आग्रह किया है. "कृपया हमारे साथ सहयोग करें. बंगाली नव वर्ष लॉकडाउन और कोरोनोवायरस महामारी के कारण आयोजित नहीं किया जा सका, अन्नपूर्णा पूजा आयोजित नहीं की जा सकी, कृपया अब ईद की नमाज अदा करने के लिए इकट्ठा होने से बचें. एक बड़ी सभा कुछ ही सेकंड में संक्रमण का कारण बन सकती है."

ये भी पढ़ें : COVID-19 LIVE: तेजी से बढ़ रही कोरोना की रफ्तार, अब तक 1.31 लाख लोग संक्रमित

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 24, 2020, 7:03 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading