महाराष्ट्र, दिल्ली से आ रहे हैं कोलकाता? एयरपोर्ट पर दिखानी होगी RT-PCR की नेगेटिव रिपोर्ट

नेताजी सुभाष चंद्र बोस अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे कोलकाता

नेताजी सुभाष चंद्र बोस अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे कोलकाता

पश्चिम बंगाल में पिछले चौबीस घंटे में कोरोना वायरस संक्रमण के 4,817 नए मामले सामने आए. मंगलवार को कुल मामले बढ़कर 6,24,224 हो गए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 15, 2021, 1:18 AM IST
  • Share this:
कोलकाता. पश्चिम बंगाल में कोरोना वायरस (West Bengal Coronavirus) संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच गाइडलाइंस जारी की गई हैं. इसके मुताबिक कोलकाता हवाई अड्डे पर अब यात्रियों को आरटीपीसीआर नेगेटिव रिपोर्ट मांगी जाएगी. सरकार के दिशानिर्देशों के अनुसार, कोलकाता एयरपोर्ट पर महाराष्ट्र, कर्नाटक, केरल और तेलंगाना आने वाले यात्रियों को प्रस्थान से 72 घंटे पहले RTPCR नेगेटिव रिपोर्ट ले जानी होगी.

पश्चिम बंगाल में पिछले चौबीस घंटे में कोरोना वायरस संक्रमण के 4,817 नए मामले सामने आए जो कि प्रतिदिन सामने आने वाले मामलों की सर्वाधिक संख्या है. इसके साथ ही मंगलवार को कुल मामले बढ़कर 6,24,224 हो गए. स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी एक बुलेटिन में यह जानकारी दी गई. राज्य में कोविड-19 से 20 और मरीजों की मौत हो गई जिससे मृतकों की संख्या 10,434 पर पहुंच गई. कोलकाता में एक दिन में संक्रमण के 1,271 नए मामले सामने आए. राज्य में अभी 29,050 मरीज उपचाराधीन हैं.

Youtube Video


देश में कोविड-19 के एक दिन में रिकॉर्ड 1,84,372 नए मामले
देश में कोरोना वायरस संक्रमण के एक दिन में अब तक के सर्वाधिक 1,84,372 नए मामले सामने आए हैं. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के बुधवार के आंकड़ों के मुताबिक संक्रमण के कुल मामले 1,38,73,825 हो गए हैं जबकि 13 लाख से अधिक लोग अब भी संक्रमण की चपेट में हैं. मंत्रालय के सुबह आठ बजे तक के आंकड़ों के मुताबिक, बीते 24 घंटे में 1,027 लोगों की मौत के बाद मृतक संख्या 1,72,085 हो गई है जो 18 अक्टूबर, 2020 के बाद सबसे ज्यादा है.

लगातार 35वें दिन मामलों में बढ़ोतरी देखी गई है और संक्रमित लोगों की संख्या 13,65,704 हो गई है जो कुल मामलों का 9.84 प्रतिशत है जबकि कोविड-19 से स्वस्थ होने की दर घटकर 88.92 प्रतिशत हो गई है. इससे पहले 12 फरवरी को संक्रमित लोगों की सबसे कम संख्या 1,35,926 थी और 18 सितंबर 2020 को सबसे ज्यादा 10,17,754 थी.

 13 अप्रैल तक 26,06,18,866 नमूनों की जांच - ICMR



आंकड़ों के मुताबिक, बीमारी से स्वस्थ होने वालों की संख्या 1,23,36,036 हो गई है जबकि संक्रमित मरीजों की मृत्यु दर और घटकर 1.24 प्रतिशत हो गई है. भारत में कोविड-19 मरीजों की संख्या सात अगस्त को 20 लाख, 23 अगस्त को 30 लाख, पांच सितंबर को 40 लाख और 16 सितंबर को 50 लाख हो गई थी. इसके बाद 28 सितंबर को यह 60 लाख, 11 अक्टूबर को 70 लाख, 29 अक्टूबर को 80 लाख, 20 नवंबर को 90 लाख और 19 दिसंबर को एक करोड़ के पार पहुंच गई थी.

भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के मुताबिक, 13 अप्रैल तक 26,06,18,866 नमूनों की जांच की जा चुकी है जिनमें से 14,11,758 नमूनों की जांच मंगलवार को की गई. मौत के 1,027 नए मामलों में महाराष्ट्र के 281, छत्तीसगढ़ के 156, उत्तर प्रदेश के 85, दिल्ली के 81, गुजरात और कर्नाटक के 67-67, पंजाब के 50, मध्य प्रदेश के 40, झारखंड के 29, राजस्थान के 28, केरल के 20, हरियाणा के 16, बिहार के 14, उत्तराखंड के 13, हिमााचल प्रदेश के 11 और आंध्र प्रदेश के 10 मामले हैं.

देश में इस बीमारी से अब तक कुल 1,72,085 लोगों की मौत हुई है जिनमें सर्वाधिक 58,526 लोगों की मौत महाराष्ट्र में, 13,008 लोगों की कर्नाटक में, 12,945 लोगों की तमिलनाडु में, 11,436 की दिल्ली में, 10,434 की उत्तर प्रदेश में, 7,609 की पंजाब में और 7,321 लोगों की मौत आंध्र प्रदेश में हुई है.



स्वास्थ्य मंत्रालय का कहना है कि 70 प्रतिशत से अधिक मामलों में मौत अन्य गंभीर बीमारियों के चलते हुई है. मंत्रालय ने अपनी वेबसाइट पर कहा है, 'हमारे आंकड़ों का पुनर्मिलान आईसीएमआर के आंकड़ों के साथ किया जा रहा है.' साथ ही उसने कहा कि किस राज्य से कितने मामले हैं इसकी पुष्टि की जा रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज