Assembly Banner 2021

विपक्षी नेताओं को ममता के पत्र पर जेपी नड्डा बोले- डूबते जहाज को बचाने का प्रयास

जेपी नड्डा ने कहा कि ममता बनर्जी ने स्वीकार कर लिया है कि उनका जहाज डूब रहा है. फाइल फोटो

जेपी नड्डा ने कहा कि ममता बनर्जी ने स्वीकार कर लिया है कि उनका जहाज डूब रहा है. फाइल फोटो

West Bengal Election 2021: बंगाल में दूसरे चरण के चुनाव से पहले ममता बनर्जी का पत्र बुधवार को तृणमूल कांग्रेस ने जारी किया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 31, 2021, 11:12 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. लोकतंत्र को बचाने के आह्वान को लेकर विपक्षी नेताओं को लिखी गई ममता बनर्जी की चिट्ठी पर बीजेपी नेता जेपी नड्डा ने बंगाल की मुख्यमंत्री पर पलटवार किया है. जेपी नड्डा ने कहा कि ममता बनर्जी का ये प्रयास डूबते जहाज को बचाने की कोशिश है. उन्होंने कहा, "सबको अपने जैसे समान सोच वाले लोगों को एकजुट करने का अधिकार है, लेकिन बीजेपी के खिलाफ एकजुटता बनाने के आह्वान से साफ संकेत है कि उनका जहाज डूब रहा है. अंग्रेजी में कहावत है कि अपनी आत्मा बचाओ या अपनी जहाज बचाओ. ममता बनर्जी ने स्वीकार कर लिया है कि उनका जहाज डूब रहा है."

बता दें कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने गैर-भाजपा नेताओं को निजी पत्र लिखा हैं जिसमें उन्होंने भारत के लोकतंत्र और संवैधानिक संघवाद पर भाजपा और उसकी सरकार द्वारा ‘‘हमलों’’ को रेखांकित किया है. राज्य में दूसरे चरण के चुनाव से पहले बनर्जी का पत्र बुधवार को तृणमूल कांग्रेस ने जारी किया. बनर्जी ने पत्र में कहा है, ‘‘मैं भारत में लोकतंत्र और संवैधानिक संघवाद पर भाजपा और केन्द्र में उसकी सरकार द्वारा कई हमलों को लेकर अपनी गंभीर चिंताओं से अवगत कराने के लिए आपको, और गैर-भाजपा दलों के कई नेताओं को पत्र लिख रही हूं.’’

Youtube Video




राष्ट्रीय राजधानी राज्यक्षेत्र शासन (संशोधन) विधेयक 2021 को संसद के दोनों सदनों द्वारा पारित किये जाने का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि यह एक ‘‘अत्यंत गंभीर’’ विषय है. उन्होंने कहा, ‘‘इस कानून के जरिये केन्द्र की भाजपा सरकार ने लोकतांत्रिक रूप से निर्वाचित सरकार की सभी शक्तियों को छीन लिया है और उपराज्यपाल को दिल्ली का अघोषित वायसराय बना दिया गया, जो गृह मंत्री और प्रधानमंत्री के लिए एक प्रतिनिधि (प्रॉक्सी) के रूप में काम कर रहे हैं.’’

तीन पृष्ठ के इस पत्र में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, राकांपा के नेता शरद पवार, द्रमुक के एमके स्टालिन, समाजवादी पार्टी के अखिलेश यादव, राजद के तेजस्वी यादव, शिवसेना के उद्धव ठाकरे सहित अन्य लोगों को संबोधित किया गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज