West Bengal Election 2021: ममता की मांग- जनहित में बाकी चरणों के चुनाव एक साथ करा लें, EC ने दिया ये जवाब

ममता बनर्जी (Photo-ANI)

ममता बनर्जी (Photo-ANI)

West Bengal Assembly Election 2021: मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने आयोग से आग्रह कियाकि विधानसभा चुनाव के बाकी चरणों को एक बार में कराने पर विचार किया जाए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 16, 2021, 6:01 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. पश्चिम बंगाल (West Bengal Assembly Election 2021) की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ( Mamata Banerjee) ने आयोग से आग्रह किया कि विधानसभा चुनाव के बाकी चरणों को एक बार में कराने पर विचार किया जाए. बनर्जी ने जोर देते हुए कहा कि उनकी पार्टी ने पहले ही आठ चरणों में मतदान कराने का विरोध किया था. तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ने ट्वीट में कहा कि इस तरह के कदम के बारे में फैसला जनहित को देखते हुए लेना चाहिए.

उन्होंने कहा, ‘महामारी के प्रकोप के बीच, पश्चिम बंगाल में आठ चरण में चुनाव कराने के निर्वाचन आयोग के फैसले का हमने कड़ा विरोध किया. कोविड-19 के बढ़ते मामलों को देखते हुए अब आयोग से मेरा अनुरोध है कि आगामी सभी चरण एक ही बार में करवा लिए जाएं.’ बनर्जी ने कहा, ‘इससे, अब आगे लोगों को कोविड-19 की चपेट में आने से बचाया जा सकेगा.’

Youtube Video


निर्वाचन आयोग ने अटकलों को खारिज कर दिया
गुरुवार सुबह से ही मीडिया में अटकलें चल रही थीं कि विधानसभा चुनाव के 22, 26 और 29 अप्रैल को होने वाले मतदान के चरणों को एक चरण में संपन्न कराया जा सकता है. वहीं निर्वाचन आयोग ने इन अटकलों को खारिज कर दिया कि देश में कोरोना वायरस के तेजी से बढ़ते मामलों के मद्देनजर पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव के आखिरी तीन चरण के मतदान को एक बार में कराया जाएगा. दिल्ली में निर्वाचन आयोग के एक प्रवक्ता ने सवालों के जवाब में कहा, ‘इन चरणों को एक साथ करने की कोई योजना नहीं है.’

इस तरह की अटकलें हैं कि शुक्रवार को पश्चिम बंगाल के मुख्य निर्वाचन अधिकारी द्वारा बुलाई गयी सर्वदलीय बैठक में कुछ राजनीतिक दल इस विषय को उठा सकते हैं. आयोग ने यह सुनिश्चित करने के लिए बैठक बुलाई है कि राजनीतिक दलों के नेता प्रचार के दौरान उसके द्वारा जारी कोविड-19 दिशा-निर्देशों का पालन करें.





आयोग के एक अधिकारी ने बताया कि 17 अप्रैल को होने जा रहे पांचवे चरण के चुनाव के लिए बंदोबस्त पहले ही किए जा चुके हैं. सोशल मीडिया पर कई लोग यह चर्चा कर रहे हैं कि क्या चुनाव के अगले तीन चरण एक ही बार में करवा लेने चाहिए. (भाषा इनपुट के साथ)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज