पश्चिम बंगाल: TMC के आरोपों पर BSF ने कहा- हम पेशेवर बल हैं, ऐसे काम नहीं करते

बीएसएफ ने टीएमसी के आरोपों का जवाब दिया है. (फोटो साभार-ANI)

बीएसएफ ने टीएमसी के आरोपों का जवाब दिया है. (फोटो साभार-ANI)

West Bengal: पंकज कुमार सिंह ने कहा कि आगामी पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव को देखते हुए हमें और सतर्कता बरतने की जरूरत है. साथ ही हमें अवैध सीमा पार करने की घटनाओं और इस तरह के लोगों पर नजर रखनी चाहिए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 29, 2021, 9:15 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. पश्चिम बंगाल (West Bengal) में सत्‍ताधारी दल तृणमूल कांग्रेस ने आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर सीमा सुरक्षा बल (BSF) पर गंभीर आरोप लगाए थे. जिस पर अब बीएसएफ (BSF) ने जवाब देते हुए ऐसे आरोपों से इनकार किया है. बीएसएफ के स्‍पेशल डीजी पंकज कुमार सिंह ने कहा, 'ऐसी घटना और उसमें शामिल लोगों की जानकारी दीजिए, हम कार्रवाई करेंगे. इस मामले से संबंधित अभी तक हमारे पास कोई जानकारी नहीं है. हम एक पेशेवर बल हैं और इन सब चीजों में लिप्‍त नहीं हैं. अगर इसमें कोई भी शख्‍स शामिल होगा तो उसे बख्‍शा नहीं जाएगा.'

पंकज कुमार सिंह ने कहा कि आगामी पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव को देखते हुए हमें और सतर्कता बरतने की जरूरत है. साथ ही हमें अवैध सीमा पार करने की घटनाओं और इस तरह के लोगों पर नजर रखनी चाहिए. जिससे शांतिपूर्ण तरीके से चुनाव होने में कोई अड़चन ना आए. भारत-बांग्लादेश सीमा पर कथित पशुओं की अवैध तस्करी मामले पर उन्‍होंने कहा कि हम सीबीआई के साथ सहयोग करेंगे. बल में अवैध गतिविधियों की कोई जगह नहीं है. फिलहाल दो-तीन लोगों को बर्खास्‍त कर दिया गया है और आधा दर्जन लोगों को ट्रांसफर कर दिया गया है.

Youtube Video


ये भी पढ़ें: पश्चिम बंगालः कृषि कानूनों के खिलाफ प्रस्ताव पारित करने पर भड़के दिलीप घोष, बोले-कोई फर्क नहीं पड़ेगा
ये भी पढ़ें: Kisan Andolan: राहुल और प्रियंका गांधी का केंद्र पर निशाना, कहा- किसानों को डराना महापाप है

बता दें कि टीएमसी सरकार में मंत्री फरहाद हाकिम ने पिछले गुरुवार को राज्‍य चुनाव आयोग के अधिकारियों से मिलकर कहा था कि बीजेपी बंगाल के सीमावर्ती इलाकों के गांवों में बीएसएफ को भेज रही है. बीएसएफ के लोग गांवों में जाकर अगले विधानसभा चुनाव में बीजेपी को वोट देने के लिए धमका रहे हैं. फरहाद से मुलाकात के बाद सीईसी अरोड़ा ने बयान जारी करके एक पार्टी के द्वारा बीएसएफ के बारे में ऐसी टिप्‍पणी को दुर्भाग्‍यर्पूण बताया था. उन्‍होंने कहा था कि बीएसएफ देश के बेहतरीन सुरक्षाबलों में से एक है और उनके लिए ऐसा कहना ठीक नहीं है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज