अपना शहर चुनें

States

Rajib Banerjee Resigns: पश्चिम बंगाल सरकार में एक और इस्तीफा, वन मंत्री राजीब बनर्जी ने छोड़ा पद

राजीब बनर्जी की फाइल फोटो
राजीब बनर्जी की फाइल फोटो

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव (West Bengal Assembly Election 2021) से पहले ममता बनर्जी सरकार (Mamata Banerjee Government) की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं. अब वन मंत्री राजीब बनर्जी (Rajib Banerjee) ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 22, 2021, 9:27 PM IST
  • Share this:
कोलकाता. पश्चिम बंगाल (West Bengal) में सत्ताधारी तृणमूल कांग्रेस (TMC) के लिए संकट के बादल छटने का नाम नहीं ले रहे हैं. आए दिन कोई ना कोई बड़ा नेता पार्टी का नेता दामन छोड़कर जा रहा है. शुभेंदू अधिकारी से शुरू हुआ सिलसिला जारी है. इस बीच राज्य सरकार के वन मंत्री राजीब बनर्जी (Rajib Banerjee) ने कैबिनेट मंत्री के रूप में अपने पद से इस्तीफा दे दिया. राजीब ने अपने इस्तीफे में लिखा, 'पश्चिम बंगाल के लोगों की सेवा करना बहुत सम्मान और सौभाग्य की बात है. इस अवसर को पाने के लिए मैं दिल से आभार व्यक्त करता हूं.' राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने राजीब बनर्जी का इस्तीफा स्वीकार कर लिया है.

इससे पहले हुगली जिले में फुरफुरा शरीफ दरगाह के पीरजादा अब्बास सिद्दीकी ने आगामी विधानसभा चुनावों से पहले गुरुवार को एक नया राजनीतिक संगठन ‘इंडियन सेकुलर फ्रंट’ (आईएसएफ) बनाने की घोषणा की थी. पीरजादा सिद्दीकी ने कहा कि नव गठित संगठन राज्य में होने वाले विधानसभा चुनाव में सभी 294 सीटों पर चुनाव लड़ सकता है.






वाम-कांग्रेस गठबंधन का कर सकते हैं रुख
उन्होंने यह भी कहा कि वाम-कांग्रेस गठबंधन के साथ उनके संगठन के गठजोड़ की संभावना है. राजनीतिक संगठन की शुरूआत के मौके पर सूफी मजार के प्रमुख सिद्दीकी ने कहा, ‘हमने इस पार्टी का गठन यह सुनिश्चित करने के लिए किया है कि संवैधानिक लोकतंत्र की रक्षा हो, सभी को सामाजिक न्याय मिले और हम सभी सम्मान के साथ रहें.’

तृणमूल कांग्रेस के साथ एक गठबंधन की संभावना के बारे में किये गये सवाल के जवाब में उन्होंने कहा, ‘भाजपा को रोकने के लिए मुख्यमंत्री के रूप में सभी को साथ लेकर चलने की जिम्मेदारी ममता बनर्जी की है.’

सिद्दीकी के इस कदम पर प्रतिक्रिया देते हुए तृणमूल कांग्रेस के नेता सौगत राय ने दावा किया, ‘अल्पसंख्यक भली भांति जानते हैं कि ममता बनर्जी ने उनके लिए क्या किया है. वे तृणमूल कांग्रेस का समर्थन करेंगे.’ पश्चिम बंगाल विधानसभा के लिए अप्रैल-मई में चुनाव होने की संभावना है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज