अपना शहर चुनें

States

नड्डा के काफिले पर हमला: बंगाल के गवर्नर बोले- 'आग से नहीं खेलें ममता बनर्जी, आपको माफी मांगनी चाहिए'

पश्चिम बंगाल के गवर्नर जगदीप धनखड़. (फाइल फोटो)
पश्चिम बंगाल के गवर्नर जगदीप धनखड़. (फाइल फोटो)

पश्चिम बंगाल (West Bengal) के राज्यपाल जगदीप धनखड़ (Governor Jagdeep Dhankhar) ने कहा कि राज्य में कानून का उल्लंघन करने वालों को पुलिस और प्रशासन का संरक्षण मिला हुआ है. पुलिस अफसर सरकार की कठपुतली बन गए हैं. संविधान का पालन नहीं हुआ तो मेरा रोल शुरू होगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 11, 2020, 9:02 PM IST
  • Share this:
कोलकाता. पश्चिम बंगाल (West Bengal) में भारतीय जनता पार्टी (BJP) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा (JP Nadda) के काफिले पर गुरुवार को तृणमूल (TMC) समर्थकों ने पथराव कर दिया. इस पूरे मामले पर बीते दिन बीजेपी नेताओं और राज्य की सीएम ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) के बीच राजनीतिक बहसबाजी जारी रही. अब राज्यपाल जगदीप धनखड़ (Jagdeep Dhankhar) ने ममता बनर्जी को चेताया है. राज्यपाल ने कड़े शब्दों में कहा कि बंगाल में संविधान की मर्यादा टूटी है. मैडम सीएम, प्लीज आग से मत खेलिए. आपको माफी मांगनी चाहिए.'

गुरुवार को भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा (JP Nadda) के काफिले पर हुए हमले के बाद गृह मंत्रालय ने रिपोर्ट मांगी थी. रिपोर्ट भेजे जाने के बाद शुक्रवार को माडिया से राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने कहा, 'मैंने केंद्र सरकार को बेहद परेशान करने वाले घटनाक्रमों के बारे में एक रिपोर्ट भेजी है. यह लोकतांत्रिक मूल्यों के लिए अच्छी बात नहीं है. उसमें क्या है इसकी जानकारी साझा नहीं की जा सकती है. मुख्यमंत्री (ममता बनर्जी) को संविधान का पालन करना होगा. वह अपने मार्ग से हट नहीं सकतीं. राज्य में कानून-व्यवस्था की स्थिति लंबे समय से लगातार बिगड़ रही है.'

जेपी नड्डा के काफिले पर हमला: राज्यपाल ने सौंपी रिपोर्ट, डीजीपी और मुख्य सचिव को होम मिनिस्ट्री ने किया तलब
संविधान का पालन नहीं हुआ तो मेरा रोल शुरू होगाराज्यपाल ने कहा, 'कल हुई घटनाएं बहुत दुर्भाग्यपूर्ण हैं. यह हमारे लोकतांत्रिक ताने-बाने पर एक धब्बा हैं. कल की घटना के लिए ममता बनर्जी को माफी मांगनी होगी.' धनकड़ ने कहा, 'पश्चिम बंगाल में भीतरी, बाहरी का खतरनाक खेल चल रहा है. वह (ममता) आग से ना खेलें. सीएम संविधान का पालन करें. संविधान का पालन नहीं हुआ तो मेरा रोल शुरू होगा'.बंगाल पुलिस सरकार की कठपुतलीराज्यपाल ने कहा, 'पश्चिम बंगाल में कानून का उल्लंघन करने वालों को पुलिस और प्रशासन का संरक्षण मिला हुआ है. बंगाल पुलिस सरकार की कठपुतली बन गई है. मैंने सभी आला अफसरों, DGP और मुख्य सचिव से जानकारी ली. कौन भीतरी है, कौन बाहरी, ममता को इसे छोड़ना होगा. हम बंगाल में शांति चाहते हैं.'राज्यपाल की रिपोर्ट केंद्र को मिलीवहीं, पश्चिम बंगाल में कानून व्यवस्था को लेकर राज्यपाल जगदीप धनखड़ की ओर से भेजी गई रिपोर्ट शुक्रवार को केंद्र को प्राप्त हुई है. अधिकारियों ने यह जानकारी दी.




ये है पूरा मामला?
बता दें कि एक दिन पहले ही बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा के काफिले पर राज्य में हमला हुआ था, जिसके बाद रिपोर्ट तलब की गई थी. पश्चिम बंगाल में कानून व्यवस्था को लेकर राज्यपाल की रिपोर्ट गृह मंत्रालय को मिल गई है. गृह मंत्रालय ने पश्चिम बंगाल के DGP और मुख्य सचिव को 14 दिसंबर को तलब किया है.

ममता का तंज- कभी चड्ढा, कभी नड्डा नौटंकी करवाते हैं
गुरुवार की घटना के बाद मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने तंज कसते हुए कहा था कि यहां कभी गृह मंत्री होते हैं, तो कभी चड्ढा, नड्डा, फड्डा और भड्ढा. जब उन्हें ऑडियंस नहीं मिलती, तो वे अपने कार्यकर्ताओं से ऐसी नौटंकियां करवाते हैं.

नड्डा ने दिया था ये जवाब
ममता के बयान पर पलटवार करते हुए नड्डा ने कहा, 'मुझे बताया गया कि उन्होंने मेरे बारे में बहुत सारी संज्ञाएं दी हैं. यह उनके संस्कारों के बारे में बताता है. यह बंगाल का कल्चर नहीं है.' बीजेपी अध्यक्ष ने कहा, 'हमारे प्रधानमंत्री कहते हैं कि बंगाल की भाषा सुंदर है, बंगाल की संस्कृति सबसे सुंदर है. ममता जी जिस शब्दावली का प्रयोग करती है, वह बताता है कि उन्होंने बंगाल को समझा ही नहीं है. बंगाल हम सभी का है.'

राज्य सरकार से रिपोर्ट नहीं मिली- अधिकारी
मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भांजे अभिषेक बनर्जी के लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र डायमंड हार्बर में बृहस्पतिवार को नड्डा के काफिले पर हुए हमले के बाद केंद्र ने राज्यपाल से रिपोर्ट तलब की थी. राज्यपाल धनखड़ ने छह दिसंबर को आरोप लगाया था कि पश्चिम बंगाल की तृणमूल कांग्रेस सरकार कानून के राज और शासन से दूरी बना रही है और संविधान के रास्ते से अलग चल रही है.

एक अन्य अधिकारी ने बताया कि केंद्रीय गृह मंत्रालय को बीजेपी अध्यक्ष के दौरे के दौरान गंभीर सुरक्षा चूक पर अब तक राज्य सरकार से रिपोर्ट नहीं मिली है. उल्लेखनीय है कि बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष के आरोपों को लेकर केंद्रीय गृह सचिव अजय कुमार भल्ला ने गुरुवार को पश्चिम बंगाल के मुख्य सचिव से बात की थी. घोष ने गृह मंत्री अमित शाह को लिखी चिट्ठी में आरोप लगाया था कि नड्डा के कोलकाता में आयोजित विभिन्न कार्यक्रमों के लिए जानबूझकर राज्य पुलिस द्वारा सुरक्षा व्यवस्था में चूक की गई.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज