'भारत-बांग्लादेश के बेहतर रिश्ते से सबसे ज्यादा फायदा पश्चिम बंगाल को'

भाषा
Updated: August 12, 2017, 10:02 PM IST
'भारत-बांग्लादेश के बेहतर रिश्ते से सबसे ज्यादा फायदा पश्चिम बंगाल को'
West Bengal भारत-बांग्लादेश के बेहतर रिश्ते से सबसे ज्यादा फायदा पश्चिम बंगाल को: श्रृंगला (Getty image)
भाषा
Updated: August 12, 2017, 10:02 PM IST
बांग्लादेश में भारतीय उच्चायुक्त हर्षवर्धन श्रृंगला ने कहा है कि भारत आने वाले ज्यादातर बांग्लादेशी पश्चिम बंगाल की यात्रा को तरजीह देते हैं और दोनों देशों के बीच बेहतर रिश्ते होने से सबसे ज्यादा फायदा इसी राज्य को होगा.

उन्होंने कहा, 'हमारी ओर से भारतीय वीजा देने से पहले बांग्लादेश से आ रहे किसी शख्स को न्यूनतम 150 अमेरिकी डॉलर (लगभग 9,500 रुपए) अपने साथ रखना होता है. उस देश से लाखों लोग सैर, पर्यटन, खरीदारी, मेडिकल इलाज वगैरह कराने भारत आते हैं और वो पश्चिम बंगाल को तरजीह देते हैं. लिहाजा पश्चिम बंगाल की अर्थव्यवस्था को होने वाला फायदा अतुलनीय है.'

बहरहाल बांग्लादेशियों की ओर से भारतीय वीजा हासिल करने में आ रही मुश्किलों से दोनों देशों के रिश्तों पर असर पड़ रहा है. सुविधाओं को बेहतर बनाकर और व्यवस्था को ज्यादा प्रभावी बनाने में मदद कर समस्या का समाधान किया गया है.

श्रृंगला ने शुक्रवार रात इंडियन चैंबर ऑफ कॉमर्स के एक कार्यक्रम में 'इंडिया-बांग्लादेश बिजनेस रिलेशंस: दि वे फॉरवर्ड' विषय पर अपने संबोधन में कहा, 'साल 2015 में 7.5 लाख वीजा जारी किए गए थे, जबकि पिछले साल ये संख्या 9.33 लाख थी. इस साल के पहले छह महीने में ये आंकड़ा सात लाख के करीब रहा है. ढाका स्थित भारतीय उच्चायोग भारतीय व्यवस्था में सबसे ज्यादा वीजा का परीक्षण करता है और उसे मंजूरी देता है, इसके बाद ओमान का स्थान है.'
First published: August 12, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर