बंगाल में भाजपा को 200 सीटें दिलाकर ममता बनर्जी को फेयरवेल दें, बशीरहाट में बोले अमित शाह

बंगाल के बशीरहाट दक्षिण में एक चुनावी रैली को संबोधित करते अमित शाह. (BJP4India Twitter/11 April 2021)

बंगाल के बशीरहाट दक्षिण में एक चुनावी रैली को संबोधित करते अमित शाह. (BJP4India Twitter/11 April 2021)

West Bengal Assembly Elections 2021: अमित शाह ने कहा, "चौथे चरण के चुनाव में दुर्भाग्यपूर्ण घटना हुई. कुछ युवाओं ने दीदी के बहकावे में आकर बूथ पर हमला कर दिया."

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 11, 2021, 5:36 PM IST
  • Share this:

कोलकाता. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने रविवार को बंगाल की जनता से भाजपा (BJP) को जिताने कि अपील करते हुए कहा कि वे पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (West Bengal CM Mamata Banerjee) को फेयरवेल दें. इसके साथ ही उन्होंने बीते 10 अप्रैल को कूच बिहार के एक मतदान केंद्र पर हुई हिंसा में मारे गए लोगों के लिए ममता बनर्जी को जिम्मेदार बताया.



उन्होंने कहा, "मैं यहां आपसे एक अपील करने आया हूं. दीदी ने बंगाल में दस सालों तक शासन किया. क्या उन्हें एक छोटी विदाई देना अच्छा लगेगा? इसलिए आपको चाहिए कि भाजपा को 200 सीटें दिलाकर उन्हें विदाई दें." अमित शाह ने कहा, "ममता दीदी आजकल बौखलाई हुई हैं. एक ही बात करती हैं, कि अमित शाह इस्तीफा दें. दीदी जब जनता मुझे कहेगी तब मैं इस्तीफा दे दूंगा, लेकिन आप इस्तीफा तैयार रखो, 2 मई को आपको इस्तीफा देना होगा."



बंगाल में चौथे चरण के मतदान के दौरान कूच बिहार के पोलिंग बूथ पर हिंसा के लिए अमित शाह ने ममता बनर्जी को जिम्मेदार ठहराया. उन्होंने कहा, "चौथे चरण के चुनाव में दुर्भाग्यपूर्ण घटना हुई. कुछ युवाओं ने दीदी के बहकावे में आकर बूथ पर हमला कर दिया. सुरक्षा बलों के हथियार छिनने का प्रयास किया. सुरक्षा बलों को मजबूरी में गोली चलानी पड़ी और 4 युवाओं की जान चली गई. कुछ दिन पहले उसी सीट पर ममता दीदी की मीटिंग थी. उन्होंने सरेआम ऐलान किया कि केंद्रीय सुरक्षा बलों को घेर लो. दीदी आप तो ऐसा कहकर चली गईं, लेकिन आपके भाषण के कारण 4 युवाओं की मृत्यु हो गई." इसके साथ ही केंद्रीय मंत्री ने ममता पर तुष्टिकरण की राजनीति करने का भी आरोप लगाया. उन्होंने कहा, "उसी विधानसभा में उसी सुबह भाजपा के कार्यकर्ता की हत्या हो गई. तृणमूल के गुंडों ने सुबह 7:30 बजे गोली मारकर हत्या की. दीदी आप 4 लोगों के लिए तो हायतौबा करती हैं, लेकिन भाजपा के जिस कार्यकर्ता की हत्या हुई, उसके लिए आपके आंसू नहीं बहे?"



अमित शाह ने बंगाल के कानून-व्यवस्था पर को लेकर भी ममता बनर्जी सरकार पर निशाना साधा. उन्होंने कहा, "अभी बंगाल में दीदी के राज में 3 कानून चल रहे हैं. एक कानून है भतीजे के लिए जिसमें कोई सजा का प्रावधान नहीं है. दूसरा कानून है घुसपैठियों के लिए जिसमें भी कोई सजा का प्रावधान नहीं है. तीसरा कानून है आम लोगों के लिए है जिसके लिए सारी सजाएं बनी हैं." भाषण के आरंभ में ही उन्होंने दावा किया कि 2 मई को सोनार बांग्ला की शुरुआत होगी. अमित शाह ने कहा, "बंगाल का जो नववर्ष शुरु होने वाला है, उसकी मैं आप सभी को बहुत-बहुत शुभकामनाएं देता हूं. 14 अप्रैल को नया साल शुरु होगा और 2 मई को सोनार बांग्ला की शुरुआत होगी."


आगे वे बोले, "कुछ दिन पहले तृणमूल की नेता ने बयान दिया कि दलित समाज के भाई-बहन स्वभाव से भिक्षा मांगने वाले होते हैं. दीदी, ये लोग गौरव के साथ रहते हैं और आप इनका अपमान कर रहे हो. दीदी, थोड़ी भी शर्म बची है तो उसे नेता को आज ही आप बेदखल कर दो." उन्होंने इस चुनाव को महिला शक्ति और तृणमूल के बीच का चुनाव बताया. गृह मंत्री ने कहा, "ये चुनाव बंगाल की माताएं-बहनें, महिला शक्ति और तृणमूल के बीच का चुनाव है. बंगाल का युवा, बंगाल का व्यापारी, बंगाल का गरीब, बंगाल का किसान तृणमूल के सामने चुनाव लड़ रहे हैं. बंगाल की जनता दीदी की विदाई करने के लिए तैयार बैठी हैं."


अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज