Home /News /nation /

क्या है 'हरमद' शब्द का मतलब जिसने बंगाल में छेड़ दी है BJP-TMC के बीच नई बहस

क्या है 'हरमद' शब्द का मतलब जिसने बंगाल में छेड़ दी है BJP-TMC के बीच नई बहस

पश्चिम बंगाल की एक तस्वीर REUTERS/Danish Siddiqui

पश्चिम बंगाल की एक तस्वीर REUTERS/Danish Siddiqui

Tmc नेता पार्थ चटर्जी द्वारा अमित शाह को लिखे गए पत्र में इस शब्द को शामिल किए जाने को लेकर बंगाल बीजेपी के साथ अब इसी तरह की बहस छिड़ गई है.

    सुजीत नाथ

    पश्चिम बंगाल की राजनीति में इन दिनों एक शब्द का इस्तेमाल खूब हो रहा है. भारतीय जनता पार्टी और तृणमूल कांग्रेस की लड़ाई के बीच यह शब्द चर्चा का विषय भी बना हुआ है क्योंकि करीब 1 दशक बाद यह शब्द दोबारा इस्तेमाल किया जा रहा है.

    यह शब्द है 'हरमद.' केंद्रीय गृह मंत्री पी चिदंबरम और मुख्यमंत्री बुद्धदेव भट्टाचार्य के बीच यह शब्द 'हरमद' करीब नौ साल बाद  राजनीतिक हिंसा और बीजेपी-तृणमूल कांग्रेस के बीच विवाद का विषय गई है.

    9 जून को TMC के महासचिव पार्थ चटर्जी ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को पत्र लिखकर कहा: 'हम इस बात से गहराई से चिंतित हैं कि गृह मंत्रालय ने कानून व्यवस्था की स्थिति के बारे में एक सलाह जारी की है. जिसका निष्कर्ष, बंगाल में संवैधानिक मशीनरी का टूटना निकाला गया है. वास्तव में, बीजेपी एक राजनीतिक दल के, 'हरमद' की मदद ले रही है जिसने हिंसा, अराजकता और अराजकता का सहारा लेकर आतंक फैलाने के लिए 34 वर्षों में बंगाल को बर्बाद कर दिया.'

    इससे पहले में CPI (M) कैडर और नेताओं को संदर्भित करने के लिए 'हरमद' का इस्तेमाल किया जाता रहा है.

    वास्तव में इसका क्या मतलब है?

    लेकिन वास्तव में इसका क्या मतलब है? बंगाली विद्वान और जाधवपुर विश्वविद्यालय की पूर्व प्रोफेसर अचिंता बिस्वास के अनुसार, इसका मतलब कुछ भी नहीं है.

    यह बताते हुए कि इस शब्द ने राजनीतिक प्रवचन में कैसे प्रवेश किया, बिस्वास ने कहा, “यह डच शब्द आर्माड’ का एक विकृत रूप है, जिसका अर्थ है समुद्री डाकू या गुंडे जो अपनी क्रूरता के लिए जाने जाते हैं. 18 वीं शताब्दी में, डच इस शब्द को बंगाल में लाए और समय के साथ 'आर्माड' 'हरमद' बन गया. कुछ लोगों ने दावा किया कि स्पैनिश इस शब्द को बंगाल में लाया है, लेकिन मुझे इस पर यकीन नहीं है.'

    यह भी पढ़ें:  मुर्शिदाबाद में TMC कार्यकर्ता के घर में फेंका बम, दो की मौत

    बिस्वास ने कहा कि यह शब्द आम बोलचाल में इतना अधिक लुभावना हो गया कि 1886 में होबसन-जॉब्स शब्दकोश में प्रवेश कर गया. उस समय में, कई शब्द बंगाल में डच, पुर्तगाली और स्पेनिश से उत्पन्न हुए थे. उदाहरण के लिए, 'निलम' शब्द को हिंदी के पुर्तगालियों द्वारा गढ़ा गया था. इसके अलावा, यदि आप होबसन-जॉब्स शब्दकोश को देखें तो आपको 1886 में इसके प्रकाशन के बाद से 'हरमद' मिलेगा. लेकिन तथ्य यह है कि यह 'अर्माडा' का विकृत संस्करण है.'

    2010 में उठा था विवाद

    दिसंबर 2010 में तत्कालीन सीएम बुद्धदेव भट्टाचार्य ने उस समय कड़ी आपत्ति जताई थी जब राज्य में बढ़ती हिंसा को लेकर केंद्रीय गृह मंत्री पी चिदंबरम द्वारा भेजे गए एक आधिकारिक पत्र ने 'हरमद' शब्द को उठाया था.

    गुस्साए सीपीएम नेताओं ने तब यह भी कहा था कि वास्तव में ऐसा कोई शब्द मौजूद नहीं है और चिदंबरम को पत्र लिखने से पहले बंगाली भाषा के ज्ञान के साथ अधिकारियों से परामर्श करना चाहिए.

    यह भी पढ़ें:   हड़ताल पर ममता बनर्जी का डॉक्टर भतीजा, फोटो हुआ VIRAL

    पार्थ चटर्जी द्वारा अमित शाह को लिखे गए पत्र में इस शब्द को शामिल किए जाने को लेकर बंगाल बीजेपी के साथ अब इसी तरह की बहस छिड़ गई है.

    भाजपा नेता मुकुल रॉय ने कहा- 'पार्थ चटर्जी ने केंद्रीय गृह मंत्री को लिखा तृणमूल कांग्रेस का पत्र अपरिपक्वता का कृत्य है.उन्होंने एक आधिकारिक पत्र में 'हरमद' शब्द का इस्तेमाल किया था. 'हरमद' का अर्थ क्या है? दिल्ली में इस शब्द का अर्थ कौन जानता है? मुझे लगता है कि उन्हें आधिकारिक पत्र का मसौदा तैयार करना सीखना चाहिए.' इस घटना क्रम पर चटर्जी की टिप्पणी नहीं मिल सकी.

    एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

    Tags: Amit shah, BJP, Narendra modi, TMC, West bengal

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर