• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • बंगाल में चढ़ा सियासी पारा, नड्डा बोले-जनता चाहती बदलाव, ममता का पलटवार-किसानों का हक मार रहा केंद्र

बंगाल में चढ़ा सियासी पारा, नड्डा बोले-जनता चाहती बदलाव, ममता का पलटवार-किसानों का हक मार रहा केंद्र

तृणमूल और बीजेपी दोनों ने एक-दूसरे पर निशाना साधा है. (फाइल फोटो)

तृणमूल और बीजेपी दोनों ने एक-दूसरे पर निशाना साधा है. (फाइल फोटो)

पश्चिम बंगाल में बीजेपी-तृणमूल (BJP-Trinmool) में आरोप-प्रत्यारोपों का दौर जारी है. ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने आरोप लगाया है कि तृणमूल कांग्रेस सरकार द्वारा किसानों की सत्यापित सूची भेजे जाने के बावजूद केंद्र की भाजपा नीत सरकार ने राज्य में किसानों को प्रधानमंत्री किसान योजना के तहत रुपये नहीं दिये हैं. वहीं बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा कि परिवर्तन यात्रा ममता बनर्जी के शासन के खिलाफ निकाली जा रही है.

  • Share this:

    कोलकाता. पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव (West Bengal Assembly Election) नजदीक आने के साथ ही आरोप-प्रत्यारोपों का दौर तेज होता जा रहा है. इसी क्रम में मंगलवार को राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने केंद्र सरकार पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा कि तृणमूल कांग्रेस सरकार द्वारा किसानों की सत्यापित सूची भेजे जाने के बावजूद केंद्र की भाजपा नीत सरकार ने राज्य में किसानों को प्रधानमंत्री किसान योजना के तहत रुपये नहीं दिये हैं.

    तृणमूल कांग्रेस सरकार प्रत्येक किसान को पांच हजार रुपये दे रही है
    बनर्जी ने भाजपा पर आरोप लगाया कि वह झूठे दावे कर रही है कि वह किसानों को रुपये नहीं दे रही हैं. उन्होंने कहा कि राज्य की तृणमूल कांग्रेस सरकार प्रत्येक किसान को पांच हजार रुपये दे रही है और उसने मुफ्त फसल बीमे की भी व्यवस्था की है. मुख्यमंत्री ने सोमवार को विधानसभा में सूचित किया था कि केंद्र सरकार द्वारा सत्यापन के लिए भेजे गए किसानों के छह लाख आवेदनों में से राज्य सरकार ने जरूरी काम करने के बाद ढाई लाख नामों की सूची वापस भेजी थी. तृणमूल कांग्रेस अध्यक्ष ने पूर्व वर्धमान जिले के कल्ना में एक जनसभा को संबोधित करते हुए दावा किया कि कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली की सीमाओं पर आंदोलन कर रहे किसानों को अत्याचार का सामना करना पड़ रहा है.

    नए कृषि कानूनों को निरस्त किया जाना चाहिए
    उन्होंने दावा किया कि उनकी सरकार ने पश्चिम बंगाल में सभी किसानों को सहायता प्रदान की है और राज्य में किसानों की स्थिति कई अन्य राज्यों के कृषकों से बेहतर है. उन्होंने कहा, ‘नए कृषि कानूनों को निरस्त किया जाना चाहिए और आंदोलन को हमारा समर्थन तब तक जारी रहेगा, जब तक कि यह हासिल नहीं हो जाता.’ तृणमूल कांग्रेस के कुछ वरिष्ठ नेताओं द्वारा पार्टी छोड़ने के बीच बनर्जी ने कहा कि जिन लोगों ने गलत काम किये हैं, वे पार्टी छोड़ रहे हैं.

    राज्य की जनता अब बदलाव चाहती है
    उधर भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष जेपी नड्डा ने भी पश्चिम बंगाल में एक रैली के दौरान कहा कि राज्य की जनता अब बदलाव चाहती है. उन्होंने कहा कि बीजेपी की परिवर्तन यात्रा ममता बनर्जी के शासन के खिलाफ निकाली जा रही है. पीएम मोदी ने लोगों के साथ न्याय किया तो वहीं ममता बनर्जी ने उन्हें धोखे में रखा. वो मां, माटी, मानुष के बारे में बात करती हैं. लेकिन ममता बनर्जी के शासन काल में मांओं का सम्मान नहीं हुआ, माटी की रक्षा नहीं हुई और मानुष के लिए कुछ भी नहीं किया गया.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज