पश्चिम बंगाल में चुनाव बाद हिंसा को लेकर ममता बनर्जी ने बुलाई अहम बैठक, केंद्र ने मांगी रिपोर्ट

ममता बनर्जी. (पीटीआई फाइल फोटो)

ममता बनर्जी. (पीटीआई फाइल फोटो)

West Bengal Violence: पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव के नतीजे आने के एक दिन बाद सोमवार को व्यापक पैमाने पर हिंसा देखने को मिली जिसमें कई भाजपा कार्यकर्ताओं की मौत हो गई और कई घायल हो गए.

  • Share this:

कोलकाता. पश्चिम बंगाल की निवर्तमान मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (CM Mamata Banerjee) ने चुनाव के बाद राज्य में हुई हिंसा के मद्देनजर मंगलवार को एक अहम बैठक बुलाई है. इस बैठक में मुख्य सचिव, गृह सचिव, पुलिस महानिदेशक और कोलकाता के पुलिस कमिश्नर शामिल होंगे. गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव के नतीजे (West Bengal Assembly Election Results) आने के एक दिन बाद सोमवार को व्यापक पैमाने पर हिंसा देखने को मिली जिसमें कथित तौर पर झड़प और दुकानों को लूटे जाने के दौरान कई भाजपा कार्यकर्ताओं की मौत हो गई और कई घायल हो गए.



केंद्रीय गृह मंत्रालय (Home Ministry) ने राज्य सरकार से विपक्षी कार्यकर्ताओं पर हमले की घटना में तथ्यात्मक रिपोर्ट मांगी है. भाजपा ने एक पार्टी कार्यालय में कथित आगजनी का वीडियो साझा किया है जिसमें बांस की बल्लियां और छत जलती हुई नजर आ रही है तथा परेशान लोगों को चिल्लाते हुए भागते देखा जा सकता है. सोशल मीडिया पर मृत व्यक्तियों की तस्वीरें और एक दुकान से कपड़े लूट कर भागते लोगों की फुटेज वायरल हो रही है.



Youtube Video


ये भी पढ़ें- ऑक्सीजन संकट पर केंद्र को दिल्ली HC की फटकार, कहा-आप अंधे हो सकते हैं, हम नहीं


भाजपा ने किया है ये दावा

भाजपा का दावा है कि उसके कम से कम छह कार्यकर्ता और समर्थक हमलों में मारे गए हैं जिनमें एक महिला भी शामिल है. भाजपा इसका आरोप तृणमूल पर लगा रही है. भाजपा ने पत्रकारों के साथ एक वीडियो साझा किया है जिसमें नंदीग्राम में पार्टी दफ्तर में हुई तोड़फोड़ को दिखाया गया है. मुख्यमंत्री ममता बनर्जी इस सीट पर भाजपा के शुभेंदु अधिकारी से चुनाव हार गई थीं. अधिकारियों ने बताया कि बर्द्धमान जिले में रविवार और सोमवार को तृणमूल कांग्रेस और भाजपा के समर्थकों में कथित झड़प में चार लोगों की मौत हो गई. तृणमूल कांग्रेस ने दावा किया कि मारे गए लोगों में तीन पार्टी के समर्थक थे.



बंगाल में हिंसा को लेकर पीएम मोदी ने राज्यपाल से जताई नाराजगी



पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने मंगलवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उनसे बात की और चुनाव के बाद कई जिलों से हिंसा की खबरों के मद्देनजर राज्य में कानून-व्यवस्था की स्थिति पर गहरा क्षोभ प्रकट किया. धनखड़ ने ट्वीट किया, 'प्रधानमंत्री ने फोन पर बातचीत में कानून-व्यवस्था की चिंताजनक स्थिति पर गहरा क्षोभ प्रकट किया. मैंने प्रधानमंत्री से हिंसा, लूटपाट, आगजनी की घटनाओं, हत्याओं पर गहरी चिंता व्यक्त की.'



राज्यपाल ने ट्वीट कर सवाल किया, 'पश्चिम बंगाल पुलिस को लोकतंत्र को शर्मसार करने वाली राजनीतिक हिंसा, तोड़फोड़, आगजनी, हत्याओं को रोकना चाहिए. चुनाव के बाद पश्चिम बंगाल में ही हिंसा क्यों होती है? लोकतंत्र पर हमला क्या हो रहा है?' धनखड़ ने कहा, 'खौफनाक हालात की खबरें मिल रही है. डर के कारण लोग जान बचाने के लिए भाग रहे हैं.'



हिंसा को लेकर राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने डीजीपी और गृह सचिव को किया तलब

चुनाव बाद हुई हिंसा को लेकर राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने प्रदेश के गृह सचिव, पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) और कोलकाता के पुलिस आयुक्त को तलब कर उन्हें शांति बहाल करने के निर्देश दिये. उन्होंने तृणमूल कांग्रेस की सत्ता में वापसी के एक दिन बाद हुई इन घटनाओं के बाद की स्थिति पर अफसरों से चर्चा की.



धनखड़ ने गृह सचिव एके द्विवेदी से मुलाकात के बाद ट्वीट किया, 'राज्य में चुनाव के बाद हिंसा की बढ़ती घटनाओं के मद्देनजर मैंने एसीएस गृह को तलब किया था और उन्हें चुनाव बाद हुई राज्य में हुई हिंसा व तोड़फोड़ तथा उठाए गए कदमों पर रिपोर्ट देने को कहा गया है.' उन्होंने अलग से राज्य के पुलिस महानिदेशक पी नीरजनयन और पुलिस आयुक्त सोमेन मित्र से मुलाकात की और उन्हें कानून-व्यवस्था बहाल करने के लिए सभी कदम उठाने का निर्देश दिया. (इनपुट भाषा से भी)


अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज