होम /न्यूज /राष्ट्र /बंगाल: TMC ने BJP के शुभेंदु अधिकारी को बताया विपक्ष का 'RAC' लीडर, आखिर क्या है इसका राज! जानिए पूरी कहानी

बंगाल: TMC ने BJP के शुभेंदु अधिकारी को बताया विपक्ष का 'RAC' लीडर, आखिर क्या है इसका राज! जानिए पूरी कहानी

TMC के अभिषेक बनर्जी ने BJP के शुभेंदु अधिकारी को बताया विपक्ष का 'RAC' लीडर (twitter.com/Jayantasengoptu )

TMC के अभिषेक बनर्जी ने BJP के शुभेंदु अधिकारी को बताया विपक्ष का 'RAC' लीडर (twitter.com/Jayantasengoptu )

West Bengal: TMC के राष्ट्रीय महासचिव अभिषेक बनर्जी ने BJP के शुभेंदु अधिकारी को 'रिजर्वेशन अगेंस्ट कैंसलेशन' (आरएसी) व ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

तृणमूल कांग्रेस के अभिषेक बनर्जी ने भाजपा के शुभेंदु अधिकारी को विपक्ष का ‘आरएसी’ नेता करार दिया.
बनर्जी ने कहा कि भाजपा नेता की जीत को अदालतों में कानूनी चुनौती दी गई है.
अगर अदालत से उनके खिलाफ फैसला आया तो अगले चुनाव में उनकी करारी हार होना तय है.

कोंटाई (पश्चिम बंगाल). तृणमूल कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव अभिषेक बनर्जी ने शनिवार को भाजपा के शुभेंदु अधिकारी का मजाक उड़ाते हुए उन्हें ‘रिजर्वेशन अगेंस्ट कैंसलेशन’ (आरएसी) विपक्ष का नेता करार दिया. बनर्जी ने कहा कि भाजपा नेता की जीत को अदालतों में कानूनी चुनौती दी गई और अगर अदालत से उनके खिलाफ फैसला आया तो अगले चुनाव में उनकी करारी हार होना तय है. अभिषेक बनर्जी ने यह आरोप लगाया कि शुभेंदु अधिकारी ने अनुचित साधनों का सहारा लेकर 2021 में ममता बनर्जी के खिलाफ विधानसभा चुनाव जीता था. उन्होंने दावा किया कि नए चुनाव में स्थानीय लोग टीएमसी से बीजेपी में शामिल हुए शुभेंदु अधिकारी को मुंहतोड़ जवाब देते हुए हराएंगे.

अभिषेक बनर्जी ने कहा कि उन्होंने सीएम को हराने का दावा किया है. वह उन्हें कंपार्टमेंटल सीएम कहते हैं. ममता बनर्जी को ऐसा कहने से पहले उन्हें यह सोचना चाहिए कि वह खुद आरएसी विपक्ष के नेता हैं. वह भारत के एकमात्र विधायक हैं, जिनकी ‘जीत’ अभी भी जांच के दायरे में है. अभिषेक बनर्जी ने यहां पंचायत चुनाव से पहले पार्टी की एक रैली को संबोधित किया. पंचायत चुनाव अगले साल की शुरुआत में होने की संभावना है. ये रैली प्रभात कुमार कॉलेज के मैदान में आयोजित की गई थी, जो शुभेंदु अधिकारी के आवास ‘शांतिकुंज’ से कुछ ही मीटर की दूरी पर है.

रैली में अभिषेक बनर्जी ने कहा कि ‘आपने नंदीग्राम चुनाव जीतने के लिए (वोटों में हेरफेर) करने के लिए ‘लोड शेडिंग’ (पावर ब्लैक-आउट) किया … मीडिया ने प्रसारित किया था कि ममता बनर्जी ने चुनाव जीता था. नंदीग्राम में नए सिरे से चुनाव होंगे और यहां के लोग करारा जवाब देंगे.’ सुवेंदु अधिकारी ने पिछले साल कड़े मुकाबले में अपनी प्रतिद्वंद्वी मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर नंदीग्राम सीट पर मामूली अंतर से जीत हासिल की थी. जिसके बारे में टीएमसी ने दावा किया था कि इसके नतीजे को जोड़-तोड़ से ‘गड़बड़’ किया गया था. इससे पहले भाजपा ने कोंटाई में अधिकारी के घर के पास एक रैली आयोजित करने का विरोध करने के लिए कलकत्ता उच्च न्यायालय का रुख किया था. लेकिन अदालत ने फैसला सुनाया था कि लोकतंत्र में किसी को भी रैली आयोजित करने की अनुमति है.उसने यह सुनिश्चित करने के निर्देश जारी किए कि सभी नियमों का किया जाना चाहिए.

बंगाल में शुभेंदु अधिकारी को पुलिस ने रोका, BJP नेता ने कहा- ‘हावड़ा नहीं जा रहा था’

जबकि अभिषेक बनर्जी ने शनिवार को पूर्वी मेदिनीपुर जिले के लोगों की शिकायतों को सुनने के लिए ‘एक डाक अभिषेक’ का शुभारंभ किया. अधिकारी के घर शांतिकुंज के पास प्रभातकुमार कॉलेज में आयोजित रैली में अभिषेक बनर्जी ने घोषणा की है कि पूर्वी मेदिनीपुर के लोग अपनी किसी भी समस्या के लिए उन्हें फोन कर सकते हैं. उन्होंने कहा कि ‘मैं एक नंबर दे रहा हूं. आप मुझसे रोजाना सुबह 9 बजे से शाम 6 बजे तक सीधे संपर्क कर सकते हैं. जिस किसी को कुछ कहना हो, सीधे मुझे फोन करना.’ संयोग से टीएमसी के डायमंड हार्बर सांसद ने पिछले जून में अपने निर्वाचन क्षेत्र में इस प्रणाली की शुरुआत की थी.

Tags: BJP, Suvendu Adhikari, TMC, West bengal

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें