Home /News /nation /

west bengal trinamool congress siliguri rural polls bjp left front congress

सिलिगुड़ी पंचायत चुनाव में तृणमूल कांग्रेस ने पहली बार किया विपक्ष का सफाया

बंगाल में पंचायत चुनाव में तृणमूल ने पहली बार किया विपक्ष का सफाया  (सांकेतिक तस्वीर)

बंगाल में पंचायत चुनाव में तृणमूल ने पहली बार किया विपक्ष का सफाया (सांकेतिक तस्वीर)

सिलिगुड़ी में पहली बार पंचायत चुनाव में क्लीन स्विप करने हुए सत्ताधारी पार्टी तृणमूल कांग्रेस ने सिलिगुड़ी की 22 में से 19 ग्राम पंचायतों और सिलीगुड़ी महुकुमा परिषद (एसएमपी) की 9 में से 8 सीटों पर जीत हासिल करने में सफलता हासिल की है.

अधिक पढ़ें ...

    सिलिगुड़ी. सिलिगुड़ी में पहली बार पंचायत चुनाव में क्लीन स्विप करने हुए सत्ताधारी पार्टी तृणमूल कांग्रेस ने सिलिगुड़ी की 22 में से 19 ग्राम पंचायतों और सिलीगुड़ी महुकुमा परिषद (एसएमपी) की 9 में से 8 सीटों पर जीत हासिल करने में सफलता हासिल की है. बीजेपी को दूसरा स्थान हासिल हुआ है जबकि वाम मोर्चा को कांग्रेस से भी पीछे चौथे स्थान पर संतोष करना पड़ा है.

    टाइम्स ऑफ इंडिया की एक खबर के मुताबिक सिलिगुड़ी में 462 ग्राम पंचायतें हैं जिनसे मिलकर 22 ग्राम पंचायतों और 66 ग्राम पंचायत समितियों का गठन होता है. इन 462 ग्राम पंचायतों में तृणमूल ने 320 सीटों पर जीत हासिल करने में सफलता हासिल की है. जबकि बीजेपी और कांग्रेस को 21-21 सीटों पर जीत हासिल हुई है. माकपा को 15 सीटों से ही संतोष करना पड़ा. जबकि निर्दलियों और अन्य को  20 सीटों पर सफलता मिली है. सिलिगुड़ी की 66 समितियों में से तृणमूल को 55, बीजेपी को 9 और निर्दलियों को 2 सीटों पर जीत मिली है.

    Bengal Election Results: जानिए 10 प्वाइंट्स में बंगाल के चुनाव का इतिहास

    फरवरी में हुए सिलीगुड़ी नगर निगम (एसएमसी) के चुनाव में तृणमूल कांग्रेस को बड़ी भारी जीत हासिल करने में सफलता मिली थी. लेकिन ये पहली बार है कि सिलिगुड़ी के पंचायत चुनाव में तृणमूल कांग्रेस को इतनी भारी जीत मिली है. सिलिगुड़ी में तृणणूल कांग्रेस को 2011 के बाद से ही पंचायत के चुनाव में कोई खास सफलता नहीं मिली थी. सिलिगुड़ी के पिछले पंचायत चुनाव में वाम मोर्चा ने तृणमूल को हराया था. गौरतलब है कि सिलिगुड़ी में सिलीगुड़ी महुकुमा परिषद (एसएमपी) सबसे ऊपरी संस्था है, इसके बाद मध्य स्तर पर पंचायत समितियां और सबसे नीचे ग्राम पंचायतें हैं. पंचायत के पिछले चुनाव 2015 में हुए थे. इस बार के चुनाव को 2020 में होने वाले थे, लेकिन वे अपने तय समय से बाद में अब जाकर आयोजित किए गए. इन नतीजों से साफ है कि अब राज्य में तृणमूल की असली विपक्ष बीजेपी ही है.

    Tags: West bengal, West Bengal Election Latest news, West Bengal politics

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर