अपना शहर चुनें

States

दक्षिण पश्चिम मानसून ने ओडिशा में दी दस्तक, कई हिस्सों में हुई झमाझम बारिश

भोपाल में इस बार अच्छी बारिश के आसार हैं. सांकेतिक फोटो.
भोपाल में इस बार अच्छी बारिश के आसार हैं. सांकेतिक फोटो.

मौसम विभाग के एक अन्य अधिकारी ने कहा कि मानसून के राज्य के अन्य हिस्सों में बढ़ने के लिए स्थितियां अनुकूल हैं. अधिकारी ने कहा कि अब दक्षिण-पश्चिम मानसून पूरे ओडिशा को एक सप्ताह में कवर कर सकता है.

  • Share this:
भुवनेश्वर. दक्षिण-पश्चिम मानसून (South-west monsoon) आधिकारिक तौर पर बृहस्पतिवार को ओडिशा (Odisha) पहुंच गया जिससे राज्य के कई हिस्सों में बारिश (Heavy Rain) हुई. भारतीय मौसम विभाग (India Meteorological Department) के अनुसार मानसून आने से मलकानगिरि, कोरापुट, रायगढ़ा, गजपति और गंजाम सहित कई जिलों में दिन में बारिश हुई. किसानों के चेहरों पर बारिश देख कर खुशी आ गई.

मौसम विज्ञान केंद्र, भुवनेश्वर के निदेशक एच आर बिस्वास ने कहा, "दक्षिण-पश्चिम मानसून ने ओडिशा में दस्तक दे दी है. मानसून अब तक राज्य के कई दक्षिणी जिलों में छा गया है." बिस्वास ने कहा कि दक्षिण-पश्चिम मानसून के आगे बढ़ने में पूर्व-मध्य बंगाल की खाड़ी में बने कम दबाव के क्षेत्र से काफी हद तक मदद मिल रही है.

कई इलाकों में हो सकती है बारिश
मौसम विभाग के एक अन्य अधिकारी ने कहा कि मानसून के राज्य के अन्य हिस्सों में बढ़ने के लिए स्थितियां अनुकूल हैं. अधिकारी ने कहा कि अब दक्षिण-पश्चिम मानसून पूरे ओडिशा को एक सप्ताह में कवर कर सकता है. मौसम विभाग के केंद्र ने कहा है कि ओडिशा के अधिकतर हिस्सों में कम दबाव के प्रभाव से मध्यम से भारी वर्षा होने की संभावना है.
पिछले 24 घंटे से कई इलाकों में हो रही है बारिश


मानसून की शुरुआत चार महीने लंबे बरसात के मौसम की शुरुआत होती है. पिछले 24 घंटे से ओडिशा के कई हिस्सों में मानसून-पूर्व वर्षा हो रही थी. विशेषकर दक्षिणी और पूर्वी क्षेत्र में, जिनमें गंजाम, कोरापुट, गजपति, रायगढ़ा, कंधमाल, खुर्दा, पुरी, कटक, जगतसिंहपुर और बालासोर जैसे जिले शामिल हैं. मौसम विभाग के अनुसार, इस साल ओडिशा सहित मध्य भारत में सामान्य मानसून अपेक्षित है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज