75 मिनट की मुलाकात, मीडिया में हलचल, आखिर क्या हुई PM-CM में बात, जानें सब

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और योगी आदित्यनाथ के बीच मुलाकात करीब 75 मिनट तक चली. (तस्वीर-myogiadityanath Twitter)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और योगी आदित्यनाथ के बीच मुलाकात करीब 75 मिनट तक चली. (तस्वीर-myogiadityanath Twitter)

सीएम योगी (Yogi Adityanath) ने पीएम मोदी (Narendra Modi) को बताया को किस तरह प्रदेश में कोरोना की दूसरी लहर के दौरान ट्रेसिंग, टेस्टिंग और ट्रीटमेंट का मॉडल फॉलो किया गया. इसी मॉडल को अपनाकर दूसरी लहर पर सफलतापूर्वक काबू पाया गया. योगी आदित्यनाथ ने 18 से 44 आयु समूह के लिए वैक्सीन उपलब्ध करवाने को लेकर भी प्रधानमंत्री का शुक्रिया अदा किया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: June 11, 2021, 11:11 PM IST
  • Share this:

नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) और यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) के बीच एक घंटे से ज्यादा की मुलाकात राज्य के कोरोना मैनेजमेंट और विकास प्रोजेक्ट्स को लेकर केंद्रित रही. सूत्रों का कहना है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना महामारी की रोकथाम के लिए राज्य सरकार की प्रशंसा की है.

आधिकारिक वक्तव्य में यूपी सरकार ने कहा है-सीएम ने पीएम को बताया कि किस तरह प्रदेश में कोरोना की दूसरी लहर के दौरान ट्रेसिंग, टेस्टिंग और ट्रीटमेंट का मॉडल फॉलो किया गया. इसी मॉडल को अपनाकर दूसरी लहर पर सफलतापूर्वक काबू पाया गया. योगी आदित्यनाथ ने 18 से 44 आयु समूह के लिए वैक्सीन उपलब्ध करवाने को लेकर भी प्रधानमंत्री का शुक्रिया अदा किया. पीएम गरीब कल्याण योजना को भी दीपावली तक बढ़ाने के लिए सीएम ने पीएम का धन्यवाद दिया. उन्होंने कहा कि इससे राज्य में करीब 15 करोड़ लोग लाभांवित होंगे.

इस यात्रा को लेकर कई तरह कयासबाजियां भी की गईं

अपनी दो दिवसीय यात्रा के दौरान पीएम मोदी के अलावा योगी ने बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा, गृह मंत्री अमित शाह और राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात की. सीएम योगी की इस यात्रा को लेकर कई तरह कयासबाजियां भी की गईं. सूत्रों का कहना है कि पीएम और सीएम की मुलाकात में सार्वजनिक हितों से जुड़े मुद्दों के अलावा राजनीतिक मुद्दों पर भी चर्चा हुई.
जल्द पूरे होने वाले विकास प्रोजेक्ट्स को लेकर हुई चर्चा

विकास कार्यों पर भी चर्चा हुई. मुख्यमंत्री योगी ने पीएम को उन प्रोजेक्ट्स के बारे में जानकारी दी जो लगभग पूरे होने की कगार पर हैं जैसे पूर्वांचल एक्सप्रेस वे और कानपुर मेट्रो रेल प्रोजेक्ट. माना जा रहा है कि जल्द ही पीएम मोदी पूर्वांचल एक्सप्रेस वे का उद्घाटन करने के लिए उत्तर प्रदेश आ सकते हैं. और जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट की आधारशिला भी रखेंगे.

Youtube Video



कोरोना काल के दौरान उद्योगों को दी गई छूट

सीएम ने यह भी जानकारी दी है कि राज्य में रोजगार और जीवनयापन का खयाल रखते हुए अन्य राज्यों के मुकाबले सीमित मात्रा में कर्फ्यू लगाया गया. इस दौरान उद्योग कोरोना गाइडलाइंस का पालन करते हुए काम करते रहे और गेहूं की खरीद भी जारी रही. सीएम ने जानकारी दी कि किसानों के हितों का ध्यान रखते हुए किसान मंडियों और चीनी मिलों को चलाते रहने की छूट दी गई थी. उन्होंने फर्टिलाइजर सब्सिडी में 140 फीसदी की वृद्धि करने और फसलों पर न्यूनतम समर्थन मूल्य बढ़ाने के लिए शुक्रिया कहा.

गरीबों का रखा गया खयाल

सीएम ने यह भी जानकारी दी कि कोरोना के दौरान राज्य में गरीबों का खयाल रखा गया. करीब 23 लाख मजदूरों को हर महीने एक हजार रुपए दिए गए. जबकि 14 लाख दैनिक मजदूर और रेहड़ी-पटरी वालों को भी अब इतना ही पैसा दिया जाएगा. उन्होंने बताया कि मनरेगा के तहत काम तेज करने के निर्देश दे दिए गए हैं. इसके तहत 17 लाख मजदूरों को काम मिलेगा.

ऑक्सीजन सप्लाई को लेकर केंद्र का कहा शुक्रिया

सीएम योगी ने ऑक्सीजन सप्लाई को लेकर भी केंद्र को शुक्रिया कहा है. साथ ही पीएम केयर्स फंड के जरिए लगवाए जा रहे ऑक्सीजन जेनेरेशन प्लांट्स के लिए भी शुक्रिया कहा. उन्होंने यह भी जानकारी दी कि यूपी में ज्यादातर टेस्टिंग ग्रामीण क्षेत्रों में की जा रही है. 31 मार्च के बाद राज्य में 70 फीसदी टेस्टिंग ग्रामीण इलाकों में की गई है.

यूपी के कैबिनेट मंत्री ने मीडिया रिपोर्ट्स को नकारा

इस बीच उत्तर प्रदेश के कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने सीएम योगी की दिल्ली यात्रा से संबंधित मीडिया में छपी कुछ रिपोर्ट्स पर आपत्ति जाहिर करते हुए इन्हें 'गलत और भ्रामक' बताया है. विशेष तौर पर दो रिपोर्ट्स का जिक्र किया गया. पहली यूपी के बंटवारे को लेकर. दूसरी, ये कि योगी आदित्यनाथ ने संघ से इस्तीफे की पेशकश की है. सिद्धार्थनाथ सिंह ने कहा है कि ये दोनों ही रिपोर्ट झूठी हैं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज