यह किस तरह का राम राज्य है? उत्तर प्रदेश में मुस्लिम लड़के की पिटाई पर संजय राउत ने पूछा

संजय राउत (फ़ाइल फोटो)

संजय राउत (फ़ाइल फोटो)

Maharashtra News: संजय राउत ने कहा, ‘‘हम पाकिस्तान के विरोध में हैं, मुस्लिमों के विरोध में नहीं. उत्तर प्रदेश, बिहार, असम और पश्चिम बंगाल में चुनाव जीतने के लिए सांप्रदायिक ध्रुवीकरण किया गया.’’

  • Share this:

मुंबई. उत्तर प्रदेश के एक मंदिर में पानी पीने पर मुस्लिम लड़के को बुरी तरह पीटे जाने की घटना पर निराशा जताते हुए शिवसेना नेता संजय राउत ने रविवार को कहा कि यह किस तरह का ‘‘राम राज्य’’ है. राउत ने कहा कि यह घटना बताती है कि सांप्रदायिक ध्रुवीकरण में लिप्त होकर कुछ लोग भारत की छवि को नुकसान पहुंचा रहे हैं.



शिवसेना के मुखपत्र सामना में अपने साप्ताहिक स्तंभ में राउत ने कहा, ‘‘यह घटना ऐसी भूमि पर हुई, जहां पर राम मंदिर बनने जा रहा है. यह किस तरह का राम राज्य है?’’ उन्होंने कहा, ‘‘हम किस तरह के हिंदू धर्म का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं?’’



राउत ने कहा कि पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी को हिंदू विरोधी करार दे दिया जाता है क्योंकि वह ‘जय श्री राम’ का नारा लगाने से इनकार कर देती हैं, लेकिन एक लड़के को पानी देने से इनकार करना और उसे बेदर्दी से पीटना भी हिंदू विरोधी है. उन्होंने कहा, ‘‘हम पाकिस्तान के विरोध में हैं, मुस्लिमों के विरोध में नहीं. उत्तर प्रदेश, बिहार, असम और पश्चिम बंगाल में चुनाव जीतने के लिए सांप्रदायिक ध्रुवीकरण किया गया.’’



दरअसल गाजियाबाद में एक मंदिर के अंदर पानी पीने के लिए एक व्यक्ति ने दूसरे समुदाय के एक किशोर की पिटाई कर दी जिसका एक वीडियो वायरल होने के बाद बीते 12 मार्च को उस व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया गया. वीडियो में आरोपी व्यक्ति पीड़ित का नाम पूछते हुए उससे धार्मिक स्थल में प्रवेश करने पर पूछताछ करता नजर आ रहा है. उसके तुरंत बाद, वह उसे गालियाँ देते हुए और उसकी पिटाई करते हुए दिखाई देता है. आरोपी की पहचान शृंगी नंदन यादव के रूप में की गई है.


अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज