अपना शहर चुनें

States

क्यों स्पेशल है बेंगलुरु और सैनफ्रांसिस्को के बीच एयर इंडिया की नॉन स्टॉप हवाई सेवा?

एयर इंडिया की बेंगलुरु-सैनफ्रांसिस्को उड़ान का संचालन महिला क्रू द्वारा किया जाएगा. टीम की अगुवाई कैप्टन जोया अग्रवाल करेंगी.
एयर इंडिया की बेंगलुरु-सैनफ्रांसिस्को उड़ान का संचालन महिला क्रू द्वारा किया जाएगा. टीम की अगुवाई कैप्टन जोया अग्रवाल करेंगी.

कैप्टन जोया अग्रवाल (Captain Zoya Aggarwal) के पास 8 हजार घंटे से ज्यादा का उड़ान अनुभव है. जोया से 10 साल से ज्यादा समय से बोइंग-777 विमान 2500 से अधिक घंटे की उड़ान भर चुकी हैं. बेंगलुरु और सैनफ्रांसिस्को के बीच की दूरी 13,999 किलोमीटर है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 10, 2021, 5:48 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. बेंगलुरु (Bengaluru) और सैनफ्रांसिस्को (San Francisco)... दुनिया की दो सिलिकॉन वैली हैं और इन दोनों शहरों को जोड़ते हुए एयर इंडिया (Air India) की महिला पायलट इतिहास रचने जा रही हैं. दरअसल बेंगलुरु और सैनफ्रांसिस्को के बीच पहली नॉन स्टॉप हवाई सेवा (Non Stop Flight) की शुरुआत महिला पायलटों की टीम कर रही है और इसीलिए ये बेहद खास हो जाता है. महिला पायलटों की टीम उत्तरी ध्रुव (North Pole) के ऊपर से दुनिया के सबसे लंबे हवाई मार्ग पर उड़ान भर चुकी हैं. भारत के समय से सैनफ्रांसिस्को साढ़े 13 घंटे पीछे है, आइए आपको बताते हैं कि अमेरिका शहर सैनफ्रांसिस्को और बेंगलुरु का जुड़ना अपने आप क्यों स्पेशल है.

दरअसल पहला कारण तो यही है कि अमेरिकी टेक हब सैनफ्रांसिस्को और बेंगलुरु के बीच सीधा नॉन स्टॉप हवाई सेवा शुरू हो रही है. इन दोनों शहरों के बीच बेंगलुरु से मंगलवार और शनिवार को नॉन स्टॉप उड़ान सेवा संचालित होगी. पहली उड़ान सेवा 9 जनवरी को सैनफ्रांसिस्को के स्थानीय समयानुसार 8.30 बजे होगी, जोकि 11 जनवरी को सुबह 3.45 बजे बेंगलुरु में लैंड करेगी.

17 घंटे से ज्यादा लंबा हवाई सफर
इस हवाई रूट पर सफर 17 घंटे से ज्यादा का होगा. उड़ान के दिन हवा की गति सफर के समय को निर्धारित करती है. इस रूट के शुरू होने से एयर इंडिया को आर्थिक रूप से फायदा होगा. सफर में कम समय लगेगा और यह तेज और किफायती भी होगा. एयर इंडिया और भारत में किसी भी एयरलाइन की ओर संचालित होने वाली यह दुनिया की सबसे लंबी कमर्शियल फ्लाइट होगी. एयर इंडिया में किसी फ्लाइट के मुकाबले महिला कर्मचारियों की संख्या ज्यादा है. एयर इंडिया की कार्यकारी निदेशक निवेदिता भसीन इस पहली सैनफ्रांसिस्को-बेंगलुरु फ्लाइट में यात्रा कर रही हैं.
दोनों शहरों के बीच यह सेवा विमान 777-200LR VT ALG के साथ संचालित होगी. इस विमान में 238 सीटों की व्यवस्था है. इनमें 8 प्रथम श्रेणी, 35 बिजनेस क्लास, 195 इकोनॉमी क्लास के अलावा 4 कॉकपिट और 12 केबिन क्रू की सीटें हैं. उड़ान का संचालन महिला क्रू द्वारा किया जाएगा. इस टीम में कैप्टन जोया अग्रवाल की अगुवाई में कैप्टन थनमाई पपागरी, कैप्टन आकांशा सोनवरे और कैप्टन शिवानी मन्हास शामिल हैं.



पायलट कैप्टन जोया को टीम की कमान
एयर इंडिया की ओर से जारी किए गए आधिकारिक बयान में कहा गया है कि पायलट कैप्टन जोया (Captain Zoya Aggarwal) और उनकी टीम को यह काम सौंपा गया. जोया वही महिला पायलट हैं, जिन्होंने 2013 में बोइंग-777 विमान उड़ाया था, उस वक्त यह विमान उड़ाने वाली वे सबसे युवा महिला पायलट थी. यही वजह है कि उन्हें इस बार यह बड़ी जिम्मेदारी सौंपी गई. कैप्टन जोया अग्रवाल की बात करें तो उनके पास 8 हजार घंटे से ज्यादा का उड़ान अनुभव है. जोया से 10 साल से ज्यादा समय से बोइंग-777 विमान 2500 से अधिक घंटे की उड़ान भर चुकी हैं. बेंगलुरु और सैनफ्रांसिस्को के बीच की दूरी 13,999 किलोमीटर है.

मेरे लिए सुनहरा अवसरः जोया अग्रवाल
कैप्टन जोया ने कहा, "दुनियाभर में ज्यादातर लोग अपनी जिंदगी में नॉर्थ पोल या इसका नक्शा भी नहीं देख पाएंगे. मैं सच में खुद को बहुत भाग्यशाली मानती हूं कि नागरिक उड्डयन मंत्रालय और हमारे फ्लैग कैरियर ने मुझ पर भरोसा जताया. नॉर्थ पोल के ऊपर से सैन फ्रैंसिस्को से बेंगलुरु तक दुनिया की सबसे लंबी और बोइंग 777 से पहली उड़ान को कमांड करने वाकई सुनहरा अवसर है."

भारत और अमेरिका के बीच फ्लाइट की बात करें तो दक्षिण भारत और अमेरिका के पश्चिमी तट के बीच यह पहली नॉन स्टॉप फ्लाइट है. इसके अलावा दिल्ली से न्यूयॉर्क, वॉशिंगटन डीसी, सैनफ्रांसिस्को, शिकागो के लिए एयर इंडिया नॉन स्टॉप फ्लाइट चलाती है. इसके अलावा मुंबई से नेवार्क और न्यूयॉर्क के लिए भी नॉन स्टॉप फ्लाइट हैं.

एयर इंडिया की योजना 15 जनवरी 2020 से हैदराबाद और शिकागो के बीच पहली नॉन स्टॉप सेवा शुरू करने की है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज