रक्षा बजट पर राहुल ने सरकार पर साधा निशाना, पूछा- चीन को क्या संदेश देना चाहते हैं?

 राहुल गांधी ने वित्त वर्ष 2021-22 के आम बजट को ‘एक फीसदी लोगों का बजट’ करार दिया.

राहुल गांधी ने वित्त वर्ष 2021-22 के आम बजट को ‘एक फीसदी लोगों का बजट’ करार दिया.

Rahul Gandhi: केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए राहुल गांधी ने कहा, हम अपनी सेना को नहीं सपोर्ट करेंगे क्या? ये कौन सी देशभक्ति है? सर्दी में सेना सरहद पर खड़ी है और आप उनको पैसा नहीं दे रहे हो.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 3, 2021, 5:27 PM IST
  • Share this:

नई दिल्ली. कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Congress Rahul Gandhi) ने एक बार फिर बजट 2021 (Budget 2021) पर निशाना साधा है. राहुल गांधी ने कहा चीन को लेकर केंद्र सरकार का रुख साफ नहीं है. चीन भारत (India China Border Issue) की ज़मीन ले जाता है और आप (सरकार) संदेश क्या देते हो कि हम बजट नहीं बढ़ाएंगे. हम अपनी सेना को नहीं सपोर्ट करेंगे क्या? ये कौन सी देशभक्ति है? सर्दी में सेना सरहद पर खड़ी है और आप उनको पैसा नहीं दे रहे हो.

न्यूज एजेंसी ANI के साथ बातचीत में कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा, सरकार को जल्द समाधान निकालने की जरूरत है. किसान देश की रीढ़ की हड्डी है और सरकार उन पर अत्याचार कर रही है. बजट में रक्षा खर्च में भारी-भरकम बढ़ोतरी नहीं होने का उल्लेख करते हुए कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने दावा किया, ‘‘चीन भारत के अंदर है और हजारों किलोमीटर कब्जा किए हुए है.‘‘

ऐसे में आप बजट में चीन को संदेश दे रहे हैं कि आप अंदर आ सकते हैं और कुछ भी कर सकते हैं, लेकिन हम अपनी सेना को सहयोग नहीं देंगे. हमारे जवानों को यह लग रहा होगा कि हमारे सामने इतनी बड़ी कठिनाई है, लेकिन सरकार पैसे नहीं दे रही है और हमारा पैसा कुछ लोगों को दे रही है. इससे देश को फायदा नहीं होने वाला है.’’

सिर्फ एक फीसदी आबादी का बजट
कांग्रेस नेता ने बजट को लेकर संवाददाताओं से कहा, ‘‘ उम्मीद थी कि सरकार देश के 99 फीसदी लोगों को सहयोग देगी. लेकिन यह बजट सिर्फ एक फीसदी आबादी का बजट है. हमारे किसानों, मजदूरों, मध्य वर्ग, छोटे कारोबारियों और सशस्त्र बलों से पैसे छीनकर कुछ उद्योगपतियों की जेब में डाल दिया गया.’’

ये भी पढ़ेंः- सरकार की ट्विटर को चेतावनी, विवादित हैशटैग हटाओ या कार्रवाई के लिए तैयार रहो

Youtube Video



बजट में क्या मिला रक्षा क्षेत्र को?

उल्लेखनीय है कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा सोमवार को संसद में पेश किए गए आम बजट में रक्षा क्षेत्र के लिए 4.78 लाख करोड़ रूपये का प्रावधान किया गया है जिसमें पेंशन के भुगतान का परिव्यय भी शामिल है. पिछले साल यह राशि 4.71 लाख करोड़ रुपये थी.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज