लेट नाइट शिफ्ट से लेकर कोरोना के खिलाफ जंग पर ज़ोर, पढ़िए मोदी की नई टीम ने पहले दिन क्या किया

पीएम मोदी ने अपनी कैबिनेट में 6 ऐसे मंत्री को जगह दी है जो पूर्व ब्यूरोक्रेट रहे है. ये हैं- एस जयशंकर, हरदीप सिंह पुरी, सोम प्रकाश, अर्जुन राम मेघवाल, अश्विनी वैष्णव और आरसीपी सिंह

New Team Modi on Day 1: ज्यादातर मंत्रियों ने गुरुवार को अपने-अपने ऑफिस पहुंच पदभार संभाल लिया. एक नज़र नए मंत्रियों की पहले दिन की गतिविधियों पर -

  • Share this:
    नई दिल्ली. नरेंद्र मोदी सरकार की कैबिनेट का विस्तार बुधवार को (PM Modi Cabinet Expansion किया गया. मंत्रिमंडल में 36 नए चेहरों को मौका दिया गया है. 12 पुराने मंत्रियों को बाहर का रास्ता दिखाया गया है. यानी अब कैबिनेट में मंत्रियों की कुल संख्या 78 हो गई है. साल 2014 में सत्ता में आने के बाद मोदी की कैबिनेट में ये सबसे बड़ा बदलाव है. सभी मंत्रियों ने गुरुवार को अपने-अपने ऑफिस पहुंच कर पदभार भी संभाल लिया. खास बात ये है कि पीएम मोदी ने अपनी नई टीम के साथ मीटिंग भी कर ली है. आइए एक नज़र डालते हैं कि नए मंत्रियों का पहला दिन कैसा रहा, साथ ही इन मंत्रियों ने क्या बड़े ऐलान किए.

    >> एक्शन में रेलमंत्री: रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने मंत्रालय का कार्यभार संभालते ही कई अहम फैसले लिए. गुरुवार को जारी एक आदेश में कहा गया है कि अब रेलवे का स्टाफ अलग-अलग शिफ्ट में काम करेगा. एक शिफ्ट सुबह 7 बजे से शाम 4 बजे तक होगी तो वहीं दूसरी शिफ्ट दोपहर 3 बजे से रात 12 बजे तक चलेगी.



    >> GDP बढ़ाने का भरोसा: नारायण राणे ने गुरुवार को नए केंद्रीय एमएसएमई (सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम) मंत्री के रूप में कार्यभार संभाला. कहा जा रहा है कि उन्होंने पहले दिन ही ऑफिसर्स की क्लास लगा दी. दरअसल कई ऑफिसर बिना किसी फ़ाइल के उनके पास आ गए थे. उन्होंने कहा कि मंत्रालय अधिक रोजगार सृजित करने और जीडीपी वृद्धि में तेजी लाने की दिशा में काम करेगा. राणे ने कहा, ‘मैंने आज कार्यभार संभाल लिया. हम जीडीपी वृद्धि में तेजी लाने और युवाओं के लिए रोजगार सृजन के उपायों पर खासतौर से ध्यान देंगे.’

    >> सोशल मीडिया को चेतावनी: अश्विनी वैष्णव इलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी मंत्रालय तथा संचार मंत्रालय में वरिष्ठ भाजपा नेता रविशंकर प्रसाद की जगह लेंगे. उन्होंने नए आईटी नियमों को लेकर केंद्र सरकार के साथ ट्विटर के गतिरोध पर बृहस्पतिवार को कहा कि भारत में रहने और काम करने वालों को देश के नियमों का अनुपालन करना होगा.

    >> टाइम पर आना होगा ऑफिस: सूत्रों के मुताबिक पीएम मोदी ने कहा है कि सभी मंत्रियों को सुबह 9:30 बजे ऑफिस पहुंचना होगा. साथ ही उन्होंने कहा कि कोई जूनियर-सीनियर नहीं होगा.

    >>दिल्ली में रहना होगा: पीएम मोदी ने सभी नए मंत्रियों से कहा है कि जब तक कुछ बहुत ज्यादा जरूरी ना हो तब तक वे दिल्ली से बाहर न जाएं. सभी को 15 अगस्त तक दिल्ली में रहने के लिए कहा गया है.

    >>कोरोना पर चिंता: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना वायरस के मामलों में कमी आने के बाद से लोगों के व्यवहार में बदलाव पर चिंता व्यक्त की. अपनी नई टीम से पीएम मोदी ने कहा कि हम सभी इन दिनों भीड़भाड़ वाली जगहों, लोगों के बिना मास्क या सामाजिक दूरी का पालन नहीं करने के वीडियो और तस्वीरें देख रहे हैं, ये अच्छी बात नहीं है और इसको लेकर चिंता होनी चाहिए.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.