लाइव टीवी

राफेल विवाद पर बोले फ्रांस के दूत- तथ्यों को समझें, ट्वीट्स पर ध्यान न दें

भाषा
Updated: November 29, 2018, 7:42 AM IST
राफेल विवाद पर बोले फ्रांस के दूत- तथ्यों को समझें, ट्वीट्स पर ध्यान न दें
सांकेतिक तस्वीर

फ्रेंच टेक कम्युनिटी के लॉन्च से इतर संवाददाताओं से उन्होंने कहा, “पिछली उपलब्धियों को देखें, एअरोनॉटिक्स के क्षेत्र में दोनों देशों के बीच बने भरोसे को देखें.”

  • Share this:
भारत में फ्रांस के दूत एलेक्जेंडर जिगलर ने बुधवार को कहा कि राफेल समझौते में कोई ‘घोटाला’ नहीं हुआ है. भारत और फ्रांस के बीच ‘सहयोग’ एवं ‘विश्वास’ की ओर इशारा करते हुए उन्होंने लोगों से तथ्यों को ध्यान में रखने को कहा.

उन्होंने कहा, “क्या घोटाला? तथ्यों की ओर देखें, न कि ट्वीट पर ध्यान दें, मेरी बस यही अपील है. कथित राफेल घोटाले से भारत और फ्रांस की साझेदारी को कोई नुकसान होने के संबंध में पूछे गए एक प्रश्न के जवाब में जिगलर ने कहा, “कोई घोटाला हुआ ही नहीं है.”

यहां फ्रेंच टेक कम्युनिटी के लॉन्च से इतर संवाददाताओं से उन्होंने कहा, “पिछली उपलब्धियों को देखें, एअरोनॉटिक्स के क्षेत्र में दोनों देशों के बीच बने भरोसे को देखें.”

उन्होंने कहा कि मेक इन इंडिया के लिए उनकी प्रतिबद्धता को देखें जो काफी प्रभावित करने वाली है. 50 प्रतिशत ऑफसेट काफी अनोखा है, बड़े सरकारी खरीद पर गौर करें.

ये भी पढ़ें: राफेल पर विवाद के बीच भारत-फ्रांस में बनी गोपनीय सुचनाओं के संरक्षण की सहमति

ये भी पढ़ें: पाक आर्मी चीफ से गले मिलने पर फिर बोले सिद्धू- राफेल डील नहीं, सिर्फ झप्पी थी

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 29, 2018, 4:13 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर