Corona Vaccine: वैक्‍सीन लेने से पहले और बाद में दिखें कोरोना के लक्षण तो क्‍या करें?

1 मई से से वैक्सीन प्रोग्राम का नया चरण शुरू होने जा रहा है. (सांकेतिक फोटो)

1 मई से से वैक्सीन प्रोग्राम का नया चरण शुरू होने जा रहा है. (सांकेतिक फोटो)

CDC की गाइडलाइन के मुताबिक कोरोना वायरस (Coronavirus) के लक्षण दिखने पर तब तक वैक्‍सीन (Vaccine) नहीं लगवानी चाहिए जब तक मरीज ठीक न हो जाए और आइसोलेशन से बाहर नहीं आ जाए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 22, 2021, 1:56 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. देश में जितनी तेजी से कोरोना वायरस (Coronavirus) का संक्रमण बढ़ रहा है उसे देखने के बाद अब कोरोना वैक्‍सीन (Corona Vaccine) को ही सबसे बड़ा हथियार माना जाने लगा है. यही कारण है कि 1 मई से देश में 18 साल के ऊपर के सभी लोगों को कोरोना वैक्‍सीन दिए जाने को मंजूरी दे दी गई है. हालांकि वैक्‍सीन (Vaccine) को लेकर अभी भी लोगों के मन में काफी सवाल हैं. ऐसे में सबसे अहम सवाल बनकर जो बात उभर रहा है वह ये है कि वैक्‍सीन लेने से पहले अगर कोरोना के लक्षण दिखे तो क्‍या करना चाहिए. इसी तरह अगर वैक्सीन की पहली डोज लेने के बाद कोरोना हो जाए तो क्या करना चाहिए.

हेल्थ एक्सपर्ट के सामने इस तरह से सवालों की एक लंबी लिस्‍ट है. वैक्‍सीन को लेकर लोगों के मन में उठ रहे सवालों का जवाब देते हुए अमेरिका के जॉन्स हॉपकिंस सेंटर फॉर हेल्थ सिक्योरिटी में संक्रामक रोग विशेषज्ञ डॉक्टर अमेश अदलजा ने बताया कि कोरोना के लक्षण दिखने के बाद वैक्‍सीन लेने की बात कुछ दिन के लिए टाल देनी चाहिए. इसके पीछे की वजह ये है कि वैक्‍सीन लेने के दौरान आप सेंटर पर और लोगों को भी कोरोना संक्रमित कर सकते हैं.



CDC की गाइडलाइन के मुताबिक कोरोना के लक्षण दिखने पर तब तक वैक्‍सीन नहीं लगवानी चाहिए जब तक मरीज ठीक न हो जाए और आइसोलेशन से बाहर नहीं आ जाए. पूरी तरह से ठीक होने पर तुरंत वैक्‍सीनेशन सेंटर पर जाकर वैक्‍सीन लगवानी चाहिए. ऐसे भी कई केस देखने को मिले हैं जब कोरोना की पहली डोज लेने के बाद भी लोग कोरोना संक्रमित हो रहे हैं. ऐसी स्थिति में आपको अपने दूसरे डोज की डेट 3-4 हफ्ते के लिए आगे बढ़ा देनी चाहिए. इस दौरान डॉक्‍टर से सलाह लेने की जरूरत है.
इसे भी पढ़ें :- क्यों हुई देश में ऑक्सीजन की कमी? कैसे प्रभावित हो रहा है इसका ट्रांसपोर्टेशन; जानें सबकुछ

विशेषज्ञों के अनुसार वैक्‍सीन की पहली डोज लेने के बाद अगर कोई कोरोना से संक्रमित होता है तो उसे ठीक होने के बाद भी कई हफ्तों तक दूसरी डोज नहीं लेनी चाहिए. न्यू इंग्लैंड जर्नल ऑफ मेडिसिन की नई स्टडी के अनुसार, COVID-19 से ठीक हुए मरीजों को कम से कम तीन महीने के बाद वैक्सीन लगवानी चाहिए. इससे शरीर में एंटीबॉडी मजबूत होती है और ज्‍यादा दिनों तक रहती है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज