लाइव टीवी

वे कोई भी याचिका दायर करें, हम लड़ने को तैयार हैं: निर्भया की मां

भाषा
Updated: January 15, 2020, 4:54 AM IST
वे कोई भी याचिका दायर करें, हम लड़ने को तैयार हैं: निर्भया की मां
निर्भया गैंगरेप और मर्डर मामले में चारों दोषियों के खिलाफ मौत की सजा का वारंट जारी होने के बाद निर्भया की मां (फाइल फोटो, PTI)

उच्चतम न्यायालय (Supreme Court) द्वारा फांसी की सजा पाने वाले चार दोषियों में से दो की ओर से दायर सुधारात्मक याचिका (Curative Pleas) खारिज किए जाने के बाद पीड़िता की मां ने यह बात कही.

  • Share this:
नई दिल्ली. निर्भया सामूहिक बलात्कार और हत्याकांड (Nirbhaya Gang Rape and Murder Case) की पीड़िता 23 वर्षीय पैरामेडिकल छात्रा (Paramedic Student) की मां ने मंगलवार को कहा कि उन्हें पूरा यकीन था कि दोषियों की सुधारात्मक याचिका (Curative Pleas) खारिज हो जाएगी और उन्हें यकीन है कि चारों को 22 जनवरी को फांसी जरूर होगी.

उच्चतम न्यायालय (Supreme Court) द्वारा फांसी की सजा पाने वाले चार दोषियों में से दो की ओर से दायर सुधारात्मक याचिका (Curative Pleas) खारिज किए जाने के बाद पीड़िता की मां ने यह बात कही.

'हमें लगता है उन्हें 22 जनवरी को फांसी होगी, हम चाहते हैं कि ऐसा हो'
निर्भया की मां (Nirbhaya's Mother) ने फोन पर पीटीआई से कहा, ‘‘सुधारात्मक याचिकाएं खारिज होनी ही थी. वह तीसरी बार उच्चतम न्यायालय पहुंचे थे. वह चाहे कोई याचिका दायर करें , हम लड़ने के लिए तैयार हैं. हमें लगता है कि उन्हें 22 जनवरी को फांसी होगी. हम चाहते हैं कि ऐसा हो.’’

इस घृणित अपराध के छह में से चार दोषियों विनय शर्मा, मुकेश कुमार, अक्षय कुमार सिंह और पवन गुप्ता को 22 जनवरी को सुबह सात बजे फांसी पर लटकाने का वारंट निचली अदालत ने जारी कर दिया है. अगर चारों को कहीं से राहत नहीं मिलती है तो तिहाड़ (Tihar) की जेल नंबर तीन में इन्हें फांसी दी जाएगी. इनकी मौत का वारंट सात जनवरी को जारी हुआ.

न्यायालय के फांसी रोकने से इंकार के बाद मुकेश ने तुरंत राष्ट्रपति के पास दायर की दया याचिका
इनमें से दो विनय और मुकेश ने नौ जनवरी को न्यायालय में सुधारात्मक याचिका दायर की थी. न्यायालय द्वारा फांसी रोकने से इंकार करने के बाद मुकेश ने तुरंत राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (President Ramnath Kovind) के समक्ष दया याचिका दायर की है.मुकेश ने मौत का वारंट रद्द करने के लिए दिल्ली उच्च न्यायालय (Delhi High Court) से अनुरोध किया था. अदालत संभवत: इस अर्जी पर बुधवार को सुनवाई करेगी.

यह भी पढ़ें: फांसी का दिन पास आने से निर्भया के दोषियों की बढ़ी चिंता, तिहाड़ की कड़ी नजर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 15, 2020, 4:54 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर