• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • WHEN YOU WILL GET SECOND DOSE OF COVID VACCINE IF DETECTED POSITIVE AFTER FIRST DOSE ALL YOU NEED TO KNOW

पहला डोज लेने के बाद अगर हो जाए कोरोना तो कब लें दूसरी डोज, यहां जानिये सबकुछ

पहले डोज के बाद भी कई लोग हो रहे हैं कोरोना पॉजिटिव. (Pic- AP)

Corona Vaccination: कुछ रिपोर्ट बताती हैं कि वैक्सीन (Corona Vaccine) का पहला डोज लेने के बाद भी कई लोग कोविड पॉजिटिव (Covid 19 Positive) हो रहे हैं.

  • Share this:
    नई दिल्‍ली. कोरोना वायरस संक्रमण (Coronavirus) से जूझ रही दुनिया के अलग-अलग कोनों में इसे लेकर लगातार शोध भी चल रहे हैं. ऐसे में लगातार नई जानकारियां भी सामने आ रही हैं. हाल ही में आई कुछ रिपोर्ट बताती हैं कि वैक्सीन (Corona Vaccine) का पहला डोज लेने के बाद भी कई लोग कोविड पॉजिटिव (Covid 19 Positive) हो रहे हैं. विशेषज्ञ इसे ‘ब्रेकथ्रू केस’ कह रहे हैं. भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद यानि इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) का इस मामले में कहना है कि भारत में इस तरह के मामलों की संख्या 0.05 फीसद ही है.

    स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक अगर वैक्सीन का पहला डोज लगने के बाद कोई संक्रमित हो जाता है तो इसका ये मतलब नहीं है कि वो दूसरा डोज नहीं ले सकता है. बस इस बात का ध्यान रखना होगा कि दूसरा डोज का अंतराल संक्रमण से ठीक होने के बाद कम से कम चार से आठ हफ्ते के बीच रहना चाहिए.

    दूसरे डोज को चार से आठ हफ्ते आगे बढ़ाने का नियम किस पर लागू होता है-

    1. वे लोग जिनमें कोविड-19 संक्रमण के सक्रिय लक्षण हों.

    2. ऐसे मरीज जिनमें कोविड-19 के खिलाफ एंटीबॉडी मौजूद हो या जिन्हें प्लाज्मा दिया गया हो.

    3. ज्यादा बीमार और अस्पताल में भर्ती मरीज (सघन चिकित्सा में या उसके बिना) जो दूसरी बीमारियों से ग्रस्त हों.

    रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्र (सीडीसी) के मुताबिक ऐसे मरीज जिनमें कोई लक्षण नजर ना आए, कोविड-19 मरीज, होम आईसोलेशन की अवधि को पूरा करके दूसरा डोज ले सकते हैं.

    सीडीसी का कहना है कि ‘वास्तविक दुनिया’ में ऐसे कई कारण हैं जो वैक्सीन की कार्यप्रणाली पर प्रभाव डालती है, जिसमें होस्ट, म्यूटेंट वेरियंट, और कार्यक्रम संबंधी तथ्य जैसे डोज देने का शेड्यूल या वेक्सीन की सही देख रेख और उसके भंडारण शामिल होता है.