लाइव टीवी

मौत के एक दिन पहले 2 घंटे कहां गायब थीं सुनंदा पुष्कर?

News18Hindi
Updated: May 14, 2018, 5:06 PM IST
मौत के एक दिन पहले 2 घंटे कहां गायब थीं सुनंदा पुष्कर?
सुनंदा पुष्कर और शशि थरूर (फाइल फोटो)

16 जनवरी 2014 दोपहर 12 बजे. लीला होटल के पोर्च में एक कार पहुंचीं और होटल के सुईट नंबर 345 से शशि थरूर की पत्नी सुनंदा पुष्कर बाहर आईं और पोर्च में पहले से खड़ी कार में बैठ गईं

  • Share this:
सुनंदा पुष्कर की मौत के चार साल बाद दिल्ली पुलिस ने आज पटियाला हाउस कोर्ट में चार्जशीट फाइल की है. इस मामले में शशि थरूर को संदिग्थ बनाया गया है और आईपीसी की धारा 306 और 498(A) के तहत चार्जशीट फाइल की गई है.

सुनंदा पुष्कर की 17 जनवरी 2014 को दिल्ली के एक लग्जरी होटल के कमरे में मौत हो गई थी. सुनंदा अपनी मौत से एक दिन पहले यानी 16 जनवरी 2014 की दोपहर लीला होटल से दो घंटे के लिए गायब थीं. इन दो घंटों के दौरान सुनंदा पुष्कर किन किन लोगों से मिली, ये आज तक एक मिस्ट्री बना हुआ है.

16 जनवरी 2014 दोपहर 12 बजे. लीला होटल के पोर्च में एक कार पहुंचीं और होटल के सुईट नंबर 345 से शशि थरूर की पत्नी सुनंदा पुष्कर बाहर आईं और पोर्च में पहले से खड़ी कार में बैठ गईं. कार होटल से निकल गई. दो घंटे बाद यही कार सुनंदा पुष्कर को वापस होटल लेकर आई. सुनंदा कार से उतरीं और सीधा अपनी सुईट में चली गईं.

सुनंदा पुष्कर की जांच कर रही एसआईटी टीम के लिए ये रहस्य बना रहा कि मौत से एक दिन पहले सुनंदा पुष्कर दोपहर 12 से दो बजे तक किससे मिलने गई थीं. दिल्ली पुलिस की एसआईटी को लीला होटल के सीसीटीवी फुटेज को खंगालते वक्त ये चौंकाने वाली जानकारी मिली थी. पुलिस ने सीसीटीवी के इस फुटेज के आधार पर जांच आगे बढ़ाई और जब सीसीटीवी कैमरे के फुटेज को जूम कर देखा गया तो उस कार का नंबर पुलिस को मिला और फिर उसने आगे की जांच शुरू की. हालांकि इस बात का खुलासा नहीं हो पाया कि सुनंदा की मौत कैसे हुई.



इस मामले को लेकर राजनीतिक सरगर्मियां भी रहीं. बीजेपी सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने दिल्ली हाईकोर्ट में पीआईएल दायर कर सीबीआई जांच और संयुक्त जांच टीम बनाने की अपील की. इससे पहले वे गृह मंत्रालय से इस मामले को सीबीआई को सौंपने की अपील कर चुके थे. हालांकि, गृह मंत्रालय ने कहा था कि दिल्ली पुलिस एसआईटी जांच में काफी आगे पहुंच चुकी है और ऐसे में केस सीबीआई को सौंपने से देरी हो सकती है. दिल्ली हाईकोर्ट द्वारा स्वामी की याचिका खारिज होने पर उन्होंने सुप्रीम कोर्ट में अपील की थी.

बता दें की चार साल बाद दिल्ली पुलिस ने आज पटियाला हाउस कोर्ट में इस मामले को लेकर चार्जशीट फाइल की है. आईपीसी की धारा 306 और 498(A) के तहत दायर चार्जशीट में शशि थरूर को संदिग्ध बताया गया है. चार्जशीट के मुताबिक, थरूर संदेह के दायरे में हैं लेकिन उनके खिलाफ पर्याप्त सबूत नहीं हैं. इस मामले की अगली सुनवाई 24 मई को होगी.

ये भी पढ़ेंः
मुश्किल में फंसे शशि थरूर, पत्नी सुनंदा की मौत के मामले में पुलिस ने माना संदिग्ध
अपनी वसीयत क्यों बनवाना चाहती थीं सुनंदा?

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 14, 2018, 5:05 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर