राहुल पर मोदी की चुटकी: सुनते थे भूकंप आएगा, लेकिन 5 साल में नहीं आया

मोदी ने कहा, "मैं जब पहली बार यहां आया तो मुझे पता चला कि 'गले मिलना और गले पड़ना' क्या होता है."

News18Hindi
Updated: February 13, 2019, 6:18 PM IST
राहुल पर मोदी की चुटकी: सुनते थे भूकंप आएगा, लेकिन 5 साल में नहीं आया
पीएम नरेंद्र मोदी (फाइल फोटो)
News18Hindi
Updated: February 13, 2019, 6:18 PM IST
16वीं लोकसभा के आखिरी दिन लोकसभा में सभी पार्टियों के बड़े नेताओं ने विदाई भाषण दिया. इस मौके पर प्रधानमत्री नरेंद्र मोदी ने भी विदाई भाषण दिया. अपने विदाई भाषण में प्रधानमंत्री मोदी ने जहां एक तरफ पिछले पांच सालों के अनुभव को गिनाया तो दूसरी तरफ उन्होंने नाम लिए बिना कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और विपक्षी सदस्यों पर चुटकी भी ली.

राहुल गांधी पर परोक्षा रुप से निशाना साधते हुए पीएम मोदी ने कहा कि हम सुनते थे कि भूकंप आएगा. पर कोई भूकंप नहीं आया. कभी हवाई जहाज उड़ाए गए, लेकिन लोकतंत्र की मर्यादा इतनी ऊंची है कि कोई हवाई जहाज उस ऊंचाई तक नहीं जा पाया.

इसके साथ ही उन्होने सदन में राहुल गांधी द्वारा गले लगाने पर भी परोक्ष रूप से निशाना साथा. मोदी ने कहा, "मैं जब पहली बार यहां आया तो मुझे पता चला कि 'गले मिलना और गले पड़ना' क्या होता है." मोदी ने आगे कहा कि उन्होंने आंखों की गुस्ताखियों का खेल भी उन्होंने पहली बार सदन में ही देखा.



कांग्रेस सांसद रेणुका चौधरी की हंसी पर परोक्ष रूप से निशाना साधते हुए पीएम मोदी ने कहा, "इस बार हमारे सांसद महोदय के टैलेंट का भी बड़ा-बड़ा अनुभव आया. जब मैं राष्ट्रपति महोदय के अभिभाषण पर बोल रहा था तो ऐसा अट्टहास सुनने को मुझे मिलता था. एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री वालों को ऐसे अट्टहास की जरूरत होती है. उन्हें यूट्यूब से इसे लेने की परमिशन दे देनी चाहिए."

इससे पहले प्रधानमंत्री मोदी ने 16वीं लोकसभा की उपलब्धि गिनाते हुए कहा कि इसके बाद सदस्य जब चुनाव के मैदान में जाएंगे या फिर अपने संस्मरण लिखेंगे तो पाएंगे कि वे उस कार्यकाल के सदस्य थे जिसमें काले धन के खिलाफ कठोर कानून बनाने का निर्णय लिया गया.

ये भी पढ़ें: Rafale डील पर CAG की रिपोर्ट के बाद पीएम ने राहुल गांधी पर कसा तंज

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsAppअपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर