लाइव टीवी

दुर्लभ सफेद मगरमच्छ, जिसकी खातिरदारी देखकर रह जाएंगे दंग- देखें वीडियो

News18Hindi
Updated: February 20, 2020, 11:45 AM IST
दुर्लभ सफेद मगरमच्छ, जिसकी खातिरदारी देखकर रह जाएंगे दंग- देखें वीडियो
सफेद मगरमच्छ की देखें वीडियो

यह सफ़ेद मगरमच्छ अमेरिका के नॉर्थ कैरोलिना स्थित एक जू में मौजूद है. इसके सफेद होने की वजह से इसे खास ट्रीटमेंट दिया जाता है. इसे कड़ी निगरानी और देखरेख में रखा जाता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 20, 2020, 11:45 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. सफेद मगरमच्छ सुनने में ही बड़ा रोमांचक शब्द है. हर किसी ने अभी तक जू में सफेद शेर, सफेद भालू तो देखे होंगे लेकिन सफेद मगरमच्छ बहुत ही कम लोगों ने देखा होगा. सफेद मगरमच्छ का नाम सुनते ही सबके मन में कई सवाल खड़े हो रहे होंगे. यह सफेद मगरमच्छ अमेरिका के नॉर्थ कैरोलिना स्थित एक जू में मौजूद है. इसके सफेद होने की वजह से इसे खास ट्रीटमेंट दिया जाता है. इसे कड़ी निगरानी और देखरेख में रखा जाता है.

रोज होती है सफाई
इस मगरमच्छ की सफाई रोज ब्रश से की जाती है. खातिरदारी भी ठाठ-बाट से होती है. यह बाकी सभी मगरमच्छ से अलग है. क्योकि ये मगरमच्छ सामान्य प्राकृतिक अवस्था में जीवित नहीं रह पाता है. धूप में इसकी स्कीन जलने लगती है इस कारण ये पानी के अंदर ही रहता है बाकी की तरह धूप में नहीं रह सकता. जिस पानी में वो रहता है उसे भी कुछ दिनों के अंतर में लगातार बदला जाता है.




इस मगरमच्छ की खासियत
इसका नाम है लूना, जो अलबिनो (सफेद बीमारी) से ग्रसित है. इसकी सामान्य उम्र 14 साल की होती है दुनिया में अलबिनो मगरमच्छ बेहद दुर्लभ हैं. शिकागो जूलॉजिकल सोसाइटी के मुताबिक, पूरी दुनिया में केवल 100 अलबिनो मगरमच्छ हैं.



अलबिनो क्या है
यह एक विशेष तरह की जेनेटिक बीमारी है जो किसी भी जीव-जंतु या व्यक्ति को हो सकती है. इसमें शरीर के सभी अंगों के साथ बाल, आंखों के बाल सब सफेद हो जाते हैं है. इसे रंगहीनता भी कहा जाता है. इस बीमारी से ग्रसित लोग बहुत ही संवेदनशील होते हैं.

ये भी पढ़ें:- 

Video: डेथ एनवर्सिरी पर बनाया 'लाश का केक', लोगों में किया सर्व
स्टेज पर सिंगर के बालों में लगी आग, फिर भी करता रहा परफॉर्म- देखें वीडियो
अमेरिकी कांग्रेस के नेताओं ने कश्मीर को लेकर चिंता व्यक्त की

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 20, 2020, 11:03 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर