Home /News /nation /

'ओमिक्रॉन' के खिलाफ जंग में मास्क बनेगा बड़ा हथियार! WHO की वैज्ञानिक ने दिए ये सुझाव

'ओमिक्रॉन' के खिलाफ जंग में मास्क बनेगा बड़ा हथियार! WHO की वैज्ञानिक ने दिए ये सुझाव

विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन की चीफ वैज्ञानिक डॉ सौम्‍या स्वामीनाथन ने मास्क और कोविड उपयुक्त व्यवहार की बात कही है.  (फाइल फोटो)

विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन की चीफ वैज्ञानिक डॉ सौम्‍या स्वामीनाथन ने मास्क और कोविड उपयुक्त व्यवहार की बात कही है. (फाइल फोटो)

Coronavirus New Variant: स्वामीनाथन का कहना है कि यह वेरिएंट डेल्टा से ज्यादा फैलने वाला हो सकता है. हालांकि, इसे लेकर आधिकारिक रूप से कुछ भी नहीं कहा जा सकता. उन्होंने कहा कि हम कुछ दिनों में इसके बारे में और जानेंगे. कोरोना के नए वेरिएंट की खोज ने पूरी दुनिया को चिंता में डाल दिया है. इस स्वरूप में हो रहे बड़ी संख्या में म्यूटेशन्स (Mutations) भी जानकारों की चिंता का बड़ा कारण बन रहे हैं. स्वास्थ्य के अलावा नए वेरिएंट का असर आर्थिक क्षेत्र में भी देखने को मिला है.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) की प्रमुख वैज्ञानिक डॉक्टर सौम्या स्वामीनाथन (Dr Soumya Swaminathan) ने कोविड-19 (Covid-19) के नए वेरिएंट के खिलाफ मास्क (Mask) को बड़ा हथियार बताया है. उन्होंने कहा है कि नया स्वरूप कोविड उपयुक्त व्यवहार के संबंध में भारत में बड़ी भूमिका निभा सकता है. हाल ही में डब्ल्युएचओ ने ‘ओमिक्रॉन’ को वेरिएंट ऑफ कंसर्न बताया था. हालांकि, एक्सपर्ट्स फिलहाल कोरोना वायरस (Coronavirus) के इस नए वेरिएंट के बारे में जानकारी जुटा रहे हैं.

    एनडीटीवी से बातचीत में स्वामीनाथन ने कहा कि कोविड का नया वेरिएंट कोविड उपयुक्त व्यवहार के लिए ‘वेक अप कॉल’ के रूप में काम कर सकता है. उन्होंने इससे बचाव के लिए मास्क की अहमियत पर जोर दिया और बताया कि मास्क को ‘जेब में रखी वैक्सीन’ कहा जाता रहा है. साथ ही यह काफी असरदार भी साबित हुआ है. इसके अलावा WHO की प्रमुख वैज्ञानिक ने ओमिक्रॉन के खिलाफ जंग में वयस्कों के टीकाकरण, सामूहिक समारोहों से दूरी, बड़े स्तर पर जीनोम सीक्वेंसिंग और मामलों में असामान्य बढ़त पर बारीकी से नजर जैसे सुझाव दिए हैं.

    यह भी पढ़ें: ‘ओमिक्रॉन’ से युवाओं को जोखिम ज्यादा! एक्सपर्ट बोले- हल्की बीमारी का कारण बन रहा नया वेरिएंट

    स्वामीनाथन का कहना है कि यह वेरिएंट डेल्टा से ज्यादा फैलने वाला हो सकता है. हालांकि, इसे लेकर आधिकारिक रूप से कुछ भी नहीं कहा जा सकता. उन्होंने कहा कि हम कुछ दिनों में इसके बारे में और जानेंगे. कोरोना के नए वेरिएंट की खोज ने पूरी दुनिया को चिंता में डाल दिया है. इस स्वरूप में हो रहे बड़ी संख्या में म्यूटेशन्स भी जानकारों की चिंता का बड़ा कारण बन रहे हैं. स्वास्थ्य के अलावा नए वेरिएंट का असर आर्थिक क्षेत्र में भी देखने को मिला है.

    कोविड के अन्य वेरिएंट्स के साथ तुलना पर स्वामीनाथन ने कहा कि हमें नए वेरिएंट्स की खासियत जानने के लिए ज्यादा स्टडीज की जरूरत है. उन्होंने कहा कि टीकाकरण को अभी भी प्राथमिकता दी जानी है औऱ सार्वजनिक स्वास्थ्य व्यवस्थाओं को जारी रखा जाए. साथ ही उन्होंने ओमिक्रॉन में बड़ी संख्या में हुए म्यूटेशन्स का भी जिक्र किया है. उन्होंने कहा कि कोविड के खिलाफ लड़ाई में जीनोम सीक्वेंसिंग काफी अहम रहेगी. वहीं, यात्राओं पर प्रतिबंध को लेकर उन्होंने कहा, ‘यात्रा पर प्रतिबंध अस्थाई होने चाहिए और इनकी समीक्षा की जानी चाहिए.’

    Tags: Coronavirus, Covid-19 New Variant, Dr Soumya Swaminathan, Omicron, WHO

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर