• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • कोरोना वायरस की उत्पत्ति की जांच के लिए डब्ल्यूएचओ ने गठित किया एक्सपर्ट का नया पैनल, भारत ने किया समर्थन

कोरोना वायरस की उत्पत्ति की जांच के लिए डब्ल्यूएचओ ने गठित किया एक्सपर्ट का नया पैनल, भारत ने किया समर्थन

भारत यह भी कहा कि सभी देशों को इस जांच में सहयोग करना चाहिए.(फाइल फोटो)

भारत यह भी कहा कि सभी देशों को इस जांच में सहयोग करना चाहिए.(फाइल फोटो)

भारत ने इससे पहले कोविड-19 महामारी (Covid-19 Pandemic) की उत्पत्ति को पता लगाने और महामारी से बचाव के लिए डब्ल्यूएचओ (WHO) के द्वारा उठाए गए प्रयासों का लगातार समर्थन किया है. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची (Arindam Bagchi) ने गुरुवार को अपनी डेली समाचार ब्रीफिंग में नए एक्सपर्ट ग्रुप का समर्थन किया

  • Share this:

    नई दिल्ली: भारत ने गुरुवार को डब्ल्यूएचओ के उस फैसले का समर्थन किया जिसमें विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organization) ने नए रोगों की जांच के लिए विशेषज्ञों का नया समूह बनाने का निर्णय लिया. एक्सपर्ट का ये ग्रुप जिन रोगों की उत्पत्ति की जांच करेगा उसमें कोरोना वायरस (Coronavirus) भी शामिल है. इसी के साथ भारत यह भी कहा कि सभी देशों को इस जांच में सहयोग करना चाहिए.

    विश्व स्वास्थ्य संगठन के प्रमुख टेड्रास अदनोम घेबियस (Tedros Adhanom Ghebreyesus) ने बुधवार को एक समाचार ब्रीफिंग में वैज्ञानिक सालाहकार समूह फॉर द ओरिजिन्स ऑफ नॉवेल पैथोजेन्स की घोषणा की. डब्ल्यूएचओ के स्वास्थ्य आपात कार्यक्रम के कार्यकारी निदेशक माइकल रायन ने कहा कि यह अंतिम मौका होगा जब कोई समूह कोरोना वायरस की उत्पत्ति को जानने की दिशा में कदम बढ़ाया जाएगा.

    भारत ने इससे पहले कोविड-19 महामारी की उत्पत्ति का पता लगाने और महामारी से बचाव के लिए डब्ल्यूएचओ के द्वारा उठाए गए प्रयासों का लगातार समर्थन किया है. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने गुरुवार को अपनी डेली समाचार ब्रीफिंग में नए एक्सपर्ट ग्रुप का समर्थन किया और चीन समेते सभी देशों से इस जांच में सहयोग करने की बात को दोहराया.

    चीन का नाम लिए बिना साधा निशाना
    चीन का नाम लिए बिना प्रवक्ता अरिंदम बागची ने कहा कि कोरोना की उत्पति के बारे मे भारत ने अभी तक जो भी कहा है उसे फिर से हम दोहराते हैं कि हमारी इस बात पर रुचि है कि उत्तप्ति की जांच को आगे बढ़ाया जाए और संबंधित द्वारा इसे समझने और जांच में सहयोग करने की आवश्यकता है.

    26 सदस्यों का होगा समूह
    डब्ल्यूएचओ के इस नए एक्सपर्ट पैनल में रमन गंगाखेडकर, भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद के डॉ. सीजी पंडित और चीनी विज्ञान अकादमी के युंगुई याग समेते SAGO में कुल 26 सदस्य होंगे. डब्ल्यूएचओ के इस फैसले पर प्रतिक्रिया देते हुए जांच में समर्थन की बात कही है.

    गौरतलब है कि कोरोना वायरस का पहला मामला 2019 में चीन के वुहान शहर से ही सामने आया था. यहीं से पूरी दुनिया में कोरोना वायरस फैला और अब तक लाखों की संख्या में इस वायरस से लोगों की मौत हो चुकी है. चीन के प्रवक्ता ने कहा कि डब्ल्यूएचओ के इस फैसले को राजनीतिक रूप से इस्तेमाल नहीं किया जाना चाहिए.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज