'मन की बात' में किसे दिलचस्पी है, लोग अब 'COVID की बात' सुनना चाहते हैंः ममता बनर्जी

मुर्शिदाबादा में आठवें चरण के पहले वर्चुअल सभा करते हुए ममता बनर्जी ने आरोप लगाया कि सभी वैक्सीन गुजरात और यूपी को भेज दिया गया है.

ममता बनर्जी ने कहा, 'पीएम मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह उस समय बंगाल पर कब्जा करने की योजना बनाने में व्यस्त थे जब कोरोना वायरस महामारी की दूसरी लहर को नियंत्रित करने के लिए उचित कदम उठाए जाने चाहिए थे.'

  • Share this:
    बहरमपुर. पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamta Banerjee) ने रविवार को कहा कि लोगों की रुचि अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ‘मन की बात’ (Mann ki Baat) कार्यक्रम में नहीं है, बल्कि इसकी जगह वे ‘कोविड की बात’ (Covid ki Baat) सुनना चाहते हैं क्योंकि महामारी में ऑक्सीजन और टीके की कमी की वजह से जीवन मुश्किल हो गया है. इससे पहले मोदी ने आज अपने मासिक रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ में कहा कि कोविड-19 की लहर ने देश को हिला दिया है और लोगों को टीकाकरण कराना चाहिए.

    मुर्शिदाबाद जिले के सभागार में पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ बैठक के दौरान ममता बनर्जी ने कहा, 'पीएम मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह उस समय बंगाल पर कब्जा करने की योजना बनाने में व्यस्त थे जब कोरोना वायरस महामारी की दूसरी लहर (Coronavirus Second Wave) को नियंत्रित करने के लिए उचित कदम उठाए जाने चाहिए थे.'

    हजारों की भीड़ को संक्रमित कर सकता है एक व्यक्ति
    ममता बनर्जी ने कहा, ‘किसकी ‘मन की बात’ में रुचि है, अब लोग ‘कोविड की बात’ सुनना चाहते हैं. अगर एक हजार लोगों की भीड़ में एक संक्रमित है तो वह सभी को संक्रमित कर सकता है.






    यूपी को दिया जा रहा है बंगाल का ऑक्सीजन
    केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए ममता बनर्जी ने कहा कि बंगाल का ऑक्सीजन उत्तर प्रदेश भेज दिया जा रहा है. मैं ऑक्सीजन कहां से लाऊंगी ? इंडस्ट्रियल ऑक्सीजन को हेल्थ ऑक्सीजन के रूप में इस्तेमाल किया जा रहा है. केस की संख्या बढ़ने की चिंता नहीं करें. बंगाल में दो लाख पुलिस बाहर से यूपी, राजस्थान, दिल्ली से आए हैं. उनसे दूर रहें. उनका आरटी पीसीआर नहीं हुआ है.

    ये भी पढ़ेंः- सीरो पॉजिटिव लोगों में एंटीबॉडी की कमी के चलते भयावह हुई कोरोना की नई लहर, CSIR का बड़ा दावा 


    पुलिस ऑबजर्बर पर साधा निशाना
    ममता बनर्जी ने कहा, 'चुनाव हो रहा है. वे लोग बाध्य होकर चुनाव में भाग ले रहे हैं. आठवां चरण कराने की जरूरत नहीं. हमने कहा था, लेकिन चुनाव आयोग नहीं सुना. वे प्लान कर फेज किया है. एक-एक फेज एक-एक प्लान किये है. नैहट्टी, भाटपाड़ा, जगदल में सीआरपीएफ भेजकर बीजेपी को मदद दिया है. सेंट्रल फोर्स का गलत इस्तेमाल किया जा रहा है और बंगाल पुलिस ब्रेन इस्तेमाल नहीं कर रही है, लेकिन चुनाव के बाद पांच वर्ष तो यहीं रहना होगा.'

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.