लाइव टीवी

वाशिंगटन पोस्‍ट में जिसने की थी मोहल्‍ला क्‍लीनिक की तारीफ, अब आप का चुनाव प्रचार विज्ञापन देख गुस्‍साए

News18Hindi
Updated: February 7, 2020, 3:53 PM IST
वाशिंगटन पोस्‍ट में जिसने की थी मोहल्‍ला क्‍लीनिक की तारीफ, अब आप का चुनाव प्रचार विज्ञापन देख गुस्‍साए
वाशिंगटन पोस्‍ट के कॉलम्निस्‍ट विवेक वाधवा मोहल्‍ला क्‍लीनिक को लेकर आम आदमी पार्टी के चुनाव प्रचार विज्ञापन पर गुस्‍सा गए हैं.

कॉलम्निस्‍ट विवेक वाधवा ने 2016 में वाशिंगटन पोस्‍ट (Washington Post) में आर्टिकल लिखकर आम आदमी पार्टी (AAP) के मोहल्‍ला क्‍लीनिकों की जमकर तारीफ की थी. आप ने इसी आर्टिकल को आधार बनाकर चुनाव प्रचार विज्ञापन (Election Campaign Ad) बनाया. इस पर वाधवा ने नाराजगी जताते हुए दिल्‍ली के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री सत्‍येंद्र जैन (Satyendar Jain) पर झूठ बोलने का आरोप लगाया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 7, 2020, 3:53 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. दिल्‍ली के मोहल्‍ला क्‍लीनिक ( Mohalla Clinic) को लेकर कॉलम्निस्‍ट विवेक वाधवा ने 2016 में वाशिंगटन पोस्‍ट (Washington Post) में एक आर्टिकल लिखा. इसमें उन्‍होंने आम आदमी पार्टी (AAP) की ओर से शुरू कराए गए मोहल्‍ला क्‍लीनिकों की जमकर तारीफ की थी. उन्‍होंने लिखा था कि अमेरिका (US) अपने जर्जर हेल्‍थ केयर सिस्‍टम (Health Care System) को दुरुस्‍त करने के लिए मोहल्‍ला क्‍लीनिक से सीख ले सकता है. इस आर्टिकल में दिल्‍ली के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री सत्‍येंद्र जैन (Satyendar Jain) ने दावा किया था कि मोहल्‍ला क्‍लीनिक से आम लोगों की तकलीफें कम होने के साथ ही इलाज की लागत भी घटेगी. साथ ही अस्‍पतालों के एमरजेंसी रूम में बोझ भी कम होगा. आर्टिकल के आखिर में लिखा गया था कि अमेरिका को भी अपने शहरों में मोहल्‍ला क्‍लीनिक शुरू करने चाहिए.

वाधवा ने आम आदमी पार्टी के विज्ञापन पर जताई नाराजगी
आम आदमी पार्टी ने वाधवा के इसी आर्टिकल का हवाला देते हुए चुनाव प्रचार विज्ञापन (Election Campaign Ad) बनाया. बृहस्‍पतिवार को सामने आया ये विज्ञापन करीब 20 सेकेंड का है. इसमें बताया गया है कि वाशिंगटन पोस्‍ट ने भी अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) सरकार के मोहल्‍ला क्‍लीनिक की तारीफ की है. साथ ही वीडियो में लिखा गया है, 'अमेरिका भी बोला, केजरीवाल से सीखो.' वाधवा ने शुक्रवार को आम आदमी पार्टी के चुनाव प्रचार विज्ञापन पर नाराजगी जताई है. उन्‍होंने ट्वीट किया कि दिल्‍ली के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री (Health Minister) ने पॉजिटिव न्‍यूज के लिए मुझसे झूठ बोला था. अपने ट्वीट में उन्‍होंने डीएनए में फरवरी 2017 में प्रकाशित एक आर्टिकल का लिंक भी दिया है.

मोहल्‍ला क्‍लीनिक पर लगे थे भ्रष्‍टाचार और घोटाले के आरोप
डीएनए में प्रकाशित आर्टिकल में मोहल्‍ला क्‍लीनिक पर घोटाले (Scam) और भ्रष्‍टाचार (Corruption) के आरोप लगाए गए हैं. वाधवा ने कहा कि अमूमन मैं भारतीय राजनीति और नेताओं पर टिप्‍पणी नहीं करता हूं. फिर भी आप के मोहल्‍ला क्‍लीनिक को लेकर मुझसे और सभी से इतना झूठ बोला गया है कि मैं तंग आ चुका हूं. उनके मुताबिक, वाशिंगटन पोस्‍ट में लिखी गई उनकी रिपोर्ट सत्‍येंद्र जैन के बताए गए झूठ पर आधारित थी. वहीं, डीएनए की रिपोर्ट के मुताबिक सतर्कता जांच में पाया गया कि मोहल्‍ला क्‍लीनिक के डॉक्‍टर्स ही घोटाला कर रहे हैं. मोहल्‍ला क्‍लीनिक के डॉक्‍टर रोगियों की संख्‍या बढ़ा-चढ़ाकर बता रहे हैं.

विवेक वाधवा ने मोहल्‍ला क्‍लीनिक में भ्रष्‍टाचार को लेकर प्रकाशित डीएनए की एक रिपोर्ट का लिंक भी शेयर किया है.


मोहल्‍ला क्‍लीनिक के डॉक्‍टर्स मरीजों की कर रहे थे फर्जी एंट्रीज
सतर्कता जांच (Vigilance Probe) में पाया गया कि मोहल्‍ला क्‍लीनिक के डॉक्‍टरों हर दिन 4 घंटे में 533 रोगियों को देखते हैं यानि कि मोटे तौर पर हर 36 सेकेंड में एक रोगी का इलाज किया जा रहा है. आरोप लगा कि मोहल्‍ला क्‍लीनिक के डॉक्‍टर रोगियों की फर्जी और झूठी एंट्रीज दिखा रहे हैं. इसके जरिये डॉक्‍टर एक मोहल्‍ला क्‍लीनिक पर हर महीने करीब 4 लाख रुपये का घपला कर रहे हैं. इसके अलावा सतर्कता अधिकारियों (Vigilance Officers) का कहना था कि मोहल्‍ला क्‍लीनिक के डॉक्‍टर रोगियों को बेकार दवाइयां (Useless Medication) भी दे रहे हैं.

ये भी पढ़ें:

पाकिस्‍तान से आए हिंदू शरणार्थियों के लिए नागरिकता ही पर्याप्‍त नहीं

अमित शाह का दावा- 45 से ज्‍यादा सीट जीतकर दिल्‍ली में सरकार बनाएगी बीजेपी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 7, 2020, 3:53 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर