होम /न्यूज /राष्ट्र /

पड़ोस की अस्थिर हालत बताती है कि क्यों जरूरी है CAA, अफगान संकट पर केंद्रीय मंत्री का बड़ा बयान

पड़ोस की अस्थिर हालत बताती है कि क्यों जरूरी है CAA, अफगान संकट पर केंद्रीय मंत्री का बड़ा बयान

केंद्रीय मंत्री ने ट्वीट करके अफगानिस्तान से भारत वापस आने वालों की खबर शेयर किया (फाइल फोटो)

केंद्रीय मंत्री ने ट्वीट करके अफगानिस्तान से भारत वापस आने वालों की खबर शेयर किया (फाइल फोटो)

गौरतलब है कि नागरिकता संशोधन अधिनियम (Citizenship Amendment Act) में बांग्लादेश, अफगानिस्तान और पाकिस्तान के छह अल्पसंख्यक समुदाए के लोगों को नागरिकता देने का प्रस्ताव है. नागरिकता लेने वाले व्यक्ति को कम से कम भारत में 11 साल तक रहना जरूरी है.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली: अफगानिस्ताम में तालिबान का कब्जा होने के बाद से तमाम देश अपने नागरिकों संकट ग्रस्त देश से सुरक्षित बाहर निकालने में लगे हैं. भारत भी लगातार नागरिकों को वापस ला रहा है. रविवार को भारत ने दो उड़ानों का संचालन किया और करीब 222 लोगों को भारत वापस लाया गया. इस बीच केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी (Hardeep Singh Puri) ने अफगान संकट का जिक्र करते हुए CAA यानी नागरिकता संशोधन अधिनियम (citizenship amendment act) देश के लिए क्यों बेहद जरूरी बताया.

    केंद्रीय मंत्री ने ट्वीट करके अफगानिस्तान से भारत वापस आने वालों की खबर शेयर किया और लिखा कि हमारे अस्थिर पड़ोस के ताजा घटना और जिस तरह से वहां सिख और हिंदू बुरे हालात से गुजर रहे हैं यह दर्शाता है कि देश के लिए नागरिकता संशोधन अधिनियम क्यों जरूरी है. आपको बता दें कि CAA में पड़ोसी देशों के अल्पसंख्यक जैसे हिंदू, बौद्ध, जैन, पारसी, ईसाई और सिख लोगों को भारतीय नागरिकता देने का प्रस्ताव है.

    गौरतलब है कि नागरिकता संशोधन अधिनियम में बांग्लादेश, अफगानिस्तान और पाकिस्तान के छह अल्पसंख्यक समुदाए के लोगों को नागरिकता देने का प्रस्ताव है. नागरिकता लेने वाले व्यक्ति को कम से कम भारत में 11 साल तक रहना जरूरी है.

    इस बीच रविवार को भारतीय सेना के एक विशेष विमान 168 यात्रियों को लेकर हिंडन एयरबेस पहुंचा. इस दल कई अफगानिस्तान के पूर्व सांसद भी मौजूद थे. इन सभी लोगों ने अफगानिस्तान से निकालने के लिए भारत सरकार को धन्यवाद दिया. इसके साथ ही रविवार के एक और विमान सुबह सुबह 87 यात्रियों को लेकर दिल्ली पहुंचा.

    विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने बताया कि अफगानिस्तान में फंसे हुए भारतीयों को पहले काबुल से भारतीय वायुसेना के विमान से पहले ताजिकिस्तान की राजधानी दुशांबे ले जाया गया और फिर इसके बाद रविवार सुबह उस विमान ने दिल्ली के लिए उड़ान भरी.

    Tags: CAA, CAA-NRC, Hardeep Singh Puri

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर