लाइव टीवी

आखिर आधी रात में ही आरोपियों को सीन रिक्रिएशन के लिए क्यों ले गई पुलिस?

News18Hindi
Updated: December 6, 2019, 3:28 PM IST
आखिर आधी रात में ही आरोपियों को सीन रिक्रिएशन के लिए क्यों ले गई पुलिस?
हैदराबाद पुलिस ने 48 घंटे के भीतर आरोपियों को पकड़ा था.

हैदराबाद (Hyderabad) में महिला वेटनरी डॉक्टर से गैंगरेप (Gangrape) के बाद हत्या के सभी चारों आरोपियों को पुलिस ने भले ही एनकाउंटर में मार गिराया हो लेकिन उनकी कार्रवाई पर सवालिया निशान लग रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 6, 2019, 3:28 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. तेलंगाना (Telangana) की राजधानी हैदराबाद (Hyderabad) में महिला वेटनरी डॉक्टर से गैंगरेप (Gangrape) के बाद हत्या और शव जलाने के मामले के सभी चारों आरोपियों को पुलिस ने एनकाउंटर में मार गिराया है. इस खबर से भले ही देशभर में खुशी का माहौल हो, लेकिन इस एनकाउंटर ने पुलिस की कार्रवाई पर सवालिया निशान जरूर लगा दिए हैं.

इस एनकाउंट की पहेली बनकर उभरे सवालों में सबसे बड़ा सवाल ये हैं कि आखिर पुलिस को इतनी भी क्या जल्दी थी कि सभी आरोपियों को आधी रात में सीन रिक्रिएशन के लिए घटना स्थल पर लेकर पहुंच गई. ये सवाल भले ही सभी के जेहन में हो लेकिन पुलिस की थ्योरी पर विश्वास करें तो उन्होंने इसके पीछे सुरक्षा का हवाला दिया है. पुलिस ने बताया कि महिला डॉक्टर की गैंगरेप के बाद जिस तरह से हत्या की गई थी उसके बाद से लोगों में काफी गुस्सा था.

पुलिस ने बताया कि जब शादनगर पुलिस थाने में अरोपियों को रखा गया था उस समय भी उन्हें मारने के लिए भीड़ इकट्ठा हुई थी. उस वक्त किसी तरह पुलिस ने भीड़ को थाने में घुसने से रोक लिया था. पुरानी घटना को देखते हुए पुलिस कोई खतरा नहीं लेना चाहती थी. अगर पुलिस आरोपियों को दिन के उजाले में घटना स्थल पर लेकर जाती तो भीड़ उन पर हमला कर सकती थी. यही कारण है कि पुलिस रात के अंधेरे में आरोपियों को घटना स्थल पर लेकर पहुंची थी.

इसे भी पढ़ें :- हैदराबाद गैंगरेप: पीड़िता के पिता ने कहा, 'मेरी बच्ची की आत्मा को अब शांति मिलेगी'

सवाल ये है कि आरोपियों ने कितनी गोलियां चलाईं
जिस जगह पर ये एनकाउंटर किया गया वहां पर सिर्फ एक घर था. इस घर में एक ही सदस्य मौजूद था, जिसने बताया है कि सुबह चार बजे उसे चार-पांच गोलियों की आवाज सुनाई दी थी. ऐसे में जब चारों आरोपियों को मारने में जब चार गोलियां चली हुई होंगी तो आरोपियों ने कब पुलिस पर फायरिंग की, जिसकी आवाज तक नहीं आई. हालांकि साइबराबाद पुलिस कमिश्नर वीसी सज्जनार ने बताया है कि इस एनकाउंटर में दो पुलिसकर्मी भी घायल हुए हैं.

इसे भी पढ़ें :- हैदराबाद गैंगरेप : डॉक्टर को दरिंदगी के बाद जलाने वाले चारों आरोपियों को पुलिस ने एनकाउंटर में मार गिराया

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 6, 2019, 3:02 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर